5 साल से अटका राजीव गांधी भवनों का काम

5 साल से अटका राजीव गांधी भवनों का काम
surat

Mukesh Kumar Sharma | Publish: Jun, 29 2016 11:52:00 PM (IST) Surat, Gujarat, India

केन्द्र सरकार और राज्य सरकार के संयुक्त प्रयासों से वर्ष 2010-11 में चिखली तथा खेरगाम तहसील के 33 गांवों में

नवसारी।केन्द्र सरकार और राज्य सरकार के संयुक्त प्रयासों से वर्ष 2010-11 में चिखली तथा खेरगाम तहसील के 33 गांवों में राजीवगांधी भवन बनाने की शुरुआत की गई। पांच साल बीतने के बावजूद कई गांवों में अभी तक निर्माण पूरा नहीं हुआ है।  चिखली तहसील के तेजलाव, सोलधरा, मींयाझरी, कांगवई, खांभड़ा, सियादा, मीणकच्छ, तलावचोरा, धोलुम्बर, सादड़वेल, घेकटी, धोलार, कांकड़वेल, घोड़वणी, रुमला, होन्ड, मलवाड़ा,पीपलगभण, जोगवाड़, बलवाड़ा, मलियाधरा, अगासी तथा खेरगाम तहसील के वड़पाड़ा, पणंज, पाणीखड़क, खेरगाम, जामनपाड़, तोरणवेरा, गौरी, पाटी, कांकडवेरी आदि गांवों में राजीव गांधी भवन मंजूर किए गए।


इसके लिए प्रति भवन 13 लाख, 59 हजार रुपए भी मंजूर हुए। इसमें से चिखली तहसील के कांगवई गांव और खेरगाम तहसील के जामनपाड़ा गांव में ही राजीव गांधी भवन पूर्ण रूप से तैयार हुआ है। जबकि कुछ  गांवों में राजीवगांधी भवन बने हैं, लेकिन उसमें प्लास्टर, बिजली,फ्लोरिंग आदि कार्य पूर्ण नहीं किए गए हैं। वहीं कुछ जगहों पर राजीवगांधी भवन का बांधकाम शुरू तक नहीं हुआ। सरपंचों को समय पर रुपए नहीं चुकाने से भवन का निर्माण कार्य अटका हुआ है।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned