श्रमण महावीर प्रश्न पुस्तिका का विमोचन

श्रमण महावीर प्रश्न पुस्तिका का विमोचन

Dinesh Bhardwaj | Publish: Sep, 11 2018 09:29:54 PM (IST) Surat, Gujarat, India

धर्म के तीन रूप

पर्युषण महापर्व
सूरत. सिटीलाइट के तेरापंथ भवन में साध्वी सरस्वती के सान्निध्य में मंगलवार को महावीर की वाणी है कल्याणी श्रमण महावीर पुस्तक आधारित प्रश्न पुस्तिका का विमोचन किया गया। इस अवसर पर साध्वी ने अपने संबोधन में बताया कि भगवान महावीर का उस समय धरती पर अवतरण हुआ जब अहिंसा और सत्य का सूर्य छिपता हुआ नजर आ रहा था। महावीर ने अपने उपदेशों से लोगों की सुषुप्त चेतना जागृत हो उठी। कार्यक्रम में तेरापंथ महिला मंडल की अध्यक्ष सुनीता सुराणा व सचिव संगीता सिसोदिया तथा राष्ट्रीय कन्या मंडल प्रभारी मधु देरासरिया समेत अन्य लोग मौजूद थे।


धर्म के तीन रूप


उधना के तेरापंथ भवन में पर्युषण पर्व के पांचवें दिन मंगलवार को अणुव्रत चेतना दिवस साध्वी ललितप्रभा के सान्निध्य में किया गया। इसमें साध्वी ने बताया कि आचार्य तुलसी ने धर्म के तीन रूप अध्यात्म, नैतिकता व उपासना बताए है। जब हर व्यक्ति अणुव्रती बन जाएगा तब भारत का रूप भी बदल जाएगा। साध्वी लब्धियशा ने बताया कि अणुव्रत के नियम को जीवन में व व्यवहार में जब तक नहीं लाएंगे तब तक जीवन में नैतिकता नहीं आएगी।
वहीं, कामरेज के तेरापंथ भवन में मुनि संजयकुमार ने पर्युषण पर्व पर प्रवचन शृंखला में मंगलवार सुबह बताया कि एक-दूसरे के प्रति व्यक्ति का व्यवहार ही उसकी पहचान बनता है। नैतिकता धर्म अनुरोध धर्म है। एक-दूसरे के साथ नैतिक व्यवहार, धोखा नहीं करना, सदाचार ही चारित्रिक धर्म है। देश की आजादी के दीवाने लोग भौतिक विकास, स्वच्छता को स्वतंत्रता मानने वालों के लिए नियम जरूरी होते हैं। इस मौके पर मुनि प्रसन्नकुमार ने भी संबोधन किया।


जिनदत्त सूरी दादावाड़ी सजी


श्रीजिनदत्त सूरी खरतरगच्छ दादासाहेब जैन संघ संचालित हरिपुरा में पीरछड़ी रोड पर ढाई सौ वर्ष प्राचीन दादावाड़ी में दादा गुरुदेव जिनदत्त सूरी एवं जिनकुशल सूरी के गुरु पादुका को शृंगारित किया गया। शृंगारित जिनदत्त सूरी दादावाड़ी के दर्शन करने सैकड़ों श्रद्धालु मंगलवार को पहुंचे।

कार्यकारिणी का गठन


श्रीआदर्श रामलीला ट्रस्ट की इस वर्ष के लिए नई कार्यकारिणी गठन किया गया है। इसमें ट्रस्ट के प्रमुख बाबुलाल मित्तल, उपाध्यक्ष जगतविजय तुलस्यान, मंत्री अनिलकुमार अग्रवाल के अलावा सहमंत्री सुशील बंसल, कोषाध्यक्ष रतन गोयल, सहकोषाध्यक्ष अजय बंसल सर्वसम्मति से चुने गए है। श्रीआदर्श रामलीला ट्रस्ट की ओर से आगामी रामलीला महोत्सव 9 अक्टूबर से शुरू होगा और 21 अक्टूबर को हास्य कवि सम्मेलन के साथ पूर्ण होगा। इस दौरान रामलीला का आयोजन वेसू में रिलायंस मार्केट के सामने रामलीला मैदान में किया जाएगा।

Ad Block is Banned