न्यू सिविल का मेनगेट खुलने से मरीजों को राहत

- सिविल और स्मीमेर के कोरोना ओपीडी में 145 मरीज पहुंचे, 58 मरीज भर्ती

By: Sanjeev Kumar Singh

Published: 02 May 2021, 10:30 PM IST

सूरत.

शहर में कोरोना संक्रमण बढऩे के साथ ऑक्सीजन सप्लाई में कटौती की समस्या खड़ी हो गई है। न्यू सिविल और स्मीमेर अस्पताल को शनिवार को भी 17 मेट्रिक टन ऑक्सीजन कम ही मिला। इसके अलावा न्यू सिविल का मेनगेट दोपहर बाद मरीजों के लिए खोल दिया गया है।

केन्द्र सरकार ने 25 अप्रेल से ऑक्सीजन सप्लाई का वितरण अपने अधीन ले लिया है। सूरत में कोरोना मरीजों के लिए करीब 220 मेट्रिक टन मेडिकल ऑक्सीजन की आवश्यकता है, लेकिन सरकार ने इसे घटाकर 188 मेट्रिक टन किया है। इसमें से भी 20 मेट्रिक टन ऑक्सीजन नवसारी, तापी, नंदूरबार समेत अलग-अलग जिलों व शहरों को वितरण किया जा रहा है। इसके चलते न्यू सिविल और स्मीमेर अस्पताल में 17 मेट्रिक टन ऑक्सीजन की कटौती यथावत है। दूसरी तरफ, निजी व्यक्ति तथा एनजीओ को ऑक्सीजन सिलिंडर भरवाने पर पूरी तरह से रोक लगा दी गई है। चिकित्सकों ने बताया कि ऑक्सीजन आपूर्ति में कटौती की समस्या यथावत है। लेकिन अच्छी बात यह है कि कोरोना मरीजों को भर्ती करने के लिए न्यू सिविल और स्मीमेर अस्पताल के बंद दरवाजे खोल दिए गए है।

शनिवार को न्यू सिविल का मेनगेट नं. 1 को भी मरीजों के लिए खोल दिया गया है। इससे न्यू सिविल आने वाले मरीजों को राहत मिलेगी। न्यू सिविल में कोविड ओपीडी में शनिवार को 93 मरीजों आए और 35 मरीजों को भर्ती किया है। इसी तरह स्मीमेर अस्पताल में कोविड ओपीडी में 52 मरीज आए और 23 मरीजों को भर्ती किया गया है।

Sanjeev Kumar Singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned