loot with murder : डूमस में अपने ही घर में मृत पाए गए रिटायर्ड इंजीनियर

- लूट के इरादे से हत्या की आशंका

- सीसीटीवी में भागते हुए कैद हुए पांच संदिग्ध

- Fear of murder with intent to rob
- Five suspects caught running in CCTV

By: Dinesh M Trivedi

Published: 03 Apr 2021, 11:36 AM IST

सूरत. डूमस के कांदी फलिया इलाके में अकेले रहने वाले एक सेवानिवृत इंजीनियर का शुक्रवार को सुबह उन्हीं के घर से शव बरामद होने पर पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई। घर का सामान तितर -बितर था और मृतक के हाथ पैर रस्सी से बंधे हुए थे। मौके पर पहुंची पुलिस ने डॉग स्क्वॉड व फोरेन्सिक विशेषज्ञों की मदद से छानबिन की। पुलिस को सीसीटीवी जांच में पुलिस को भागते हुए पांच संदिग्धों के फुटेज मिले हैं। जिसके चलते पुलिस को लूट के इरादे से हत्या होने की आशंका है।

loot with murder : डूमस में अपने ही घर में मृत पाए गए रिटायर्ड इंजीनियर

मामले की जांच कर रहे पुलिस निरीक्षक एपी सौमेया ने बताया कि कांदी फलिया स्थित पटेल स्ट्रीट में रहने वाले भूपेन्द्र गोविंद पटेल (61) शुक्रवार सुबह अपने घर में मृत पाए गए। उनके पड़ोसियों ने देखा तो बिस्तर पर उनका शव मिला। उनके हाथ-पैर रस्सी से बंधे हुए थे। वे घर में अकेले ही रहते थे। पड़ोसियों से खबर मिलने पर डूमस पुलिस मौके पर पहुंच गई। उनके शव पर पुलिस को किसी प्रकार की चोट के निशान नहीं मिले है।

पुलिस ने मौके पर डॉग स्क्वॉड व फोरेन्सिक टीम से भी जांच करवाई। आस-पड़ोस के सीसीटीवी कैमरों की जांच में पुलिस को सुबह तीन-चार बजे के बीच संदिग्ध हालात में भागते हुए पांच युवकों के फुटेज मिले हैं। हालांकि उनके आते समय का फुटेज नहीं मिला है।

loot with murder : डूमस में अपने ही घर में मृत पाए गए रिटायर्ड इंजीनियर

घर का सामान तितर-बितर था। हालांकि घर में से क्या गायब हुआ इस बारे में भी कोई ठोस जानकारी नहीं मिल पाई है। क्यंोकि मृतक के अलावा किसी और को यह नहीं मालूम था कि घर में नकदी या क्या कीमती सामान था।

पुलिस को आशंका है कि संदिग्धों ने लूट के इरादे से भूपेन्द्र के घर में प्रवेश किया और फिर उसे बांध कर कीमती सामान लूटा। फिर पकड़े जाने के डर से किसी तरह उनकी हत्या कर दी। पुलिस ने भूपेन्द्र के शव को पोस्टमार्टम के लिए न्यू सिविल अस्पताल भिजवा दिया है। पोस्टमार्टम के बाद ही मौत का सही कारण सामने आ पाएगा। वहीं, संदिग्धों की तलाश में अलग-अलग टीमें बना कर तलाश शुरू कर दी है।

बीस साल पूर्व हुआ था तलाक:

सूत्रों का कहना हैं कि भूपेन्द्र उर्फ भोपिन का बीस साल पूर्व पत्नी से तलाक हो गया था। तब से वे अकेले ही रह रहे थे। उनके अधिकतर रिश्तेदार सूरत शहर में रहते थे। उनकी माता भी अलग रहती थी। सुबह घटना के खबर मिलने पर परिचित व रिश्तेदार उनके घर पर पहुंचे।

कुछ समय पहले भी हुई थी चोरी :

स्थानीय लोगों ने बताया कि करीब छह माह पूर्व मोहल्ले में मोबाइल फोन की चोरी हुई थी। इस मामले में पुलिस ने कथिततौर पर तीन जनों को गिरफ्तार कर कार्रवाई भी की थी। लेकिन उसके बाद हुई हत्या की इस घटना के लोगों में दहशत है। लोगों का कहना है कि उनका मोहल्ला चोर लुटेरों की नजर में आ गया है।

सीनियर सिटीजन की सुरक्षा पर उठ रहे सवाल :

उल्लेखनीय है कि अकेले रहने वाले सीनियर सिटीजन अपराधियों के लिए आसान शिकार होते हैं। पुलिस एकांकी जीवन जीने वाले सीनियर सिटीजनों की सुध लेने और समय पर विशेष गश्त कर सुरक्षा सुनिश्चित करने के दावे करती है। पिछले साल डूमस पुलिस ने नई एप के जरिए सीनियर सिटीजन को तुंरत मदद पहुंचाने और उनकी कुशलक्षेम जानने के विशेष इंतजाम करने का दावा भी किया था। लेकिन शुक्रवार को हुई इस घटना ने तमाम दावों की पोल खोल दी है।

Dinesh M Trivedi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned