रफ हीरों की कीमत बढ़ी, कट-पॉलिश्ड की स्थिर

रफ हीरों की कीमत बढ़ी, कट-पॉलिश्ड की स्थिर

Mukesh Sharma | Publish: Sep, 02 2018 09:08:25 PM (IST) Surat, Gujarat, India

डायमंड ट्रेडिंग कंपनी की साइट में पिछले दो महीने से रफ हीरों की कीमत लगातार बढ़ रही है, लेकिन कट-पॉलिश्ड हीरों की कीमत स्थिर रहने के .....

सूरत।डायमंड ट्रेडिंग कंपनी की साइट में पिछले दो महीने से रफ हीरों की कीमत लगातार बढ़ रही है, लेकिन कट-पॉलिश्ड हीरों की कीमत स्थिर रहने के कारण हीरा उद्यमियों का लाभ नहीं के बराबर रह गया है।हीरा उद्योग के सूत्रों के अनुसार डायमंड ट्रेडिंग कंपनी की जून और जुलाई की साइट में दाम तीन प्रतिशत बढ़े थे, जबकि दूसरी ओर घरेलू मार्केट और विदेशों के मार्केट में ज्वैलरी की मांग कम होने के कारण कट और पॉलिश्ड हीरों की मांग घट गई।

इससे कीमतें भी स्थिर हैं। हीरा उद्यमियों का कहना है कि सामान्य तौर पर जुलाई-अगस्त में घरेलू मार्केट अच्छा रहता है, लेकिन इस साल भारत में भी हीरों की मांग कम रही। इस कारण पॉलिश्ड हीरों की कीमत स्थिर रही। डायमंड ट्रेडिंग कंपनी ने हीरों की कीमत बढ़ा दी। इससे छोटे और मध्यम हीरा उद्यमियों के लिए दिक्कत बढ़ गई है। उन्हें कम कीमत पर सौदे करने पड़ रहे हैं। कई बार तो बहुत कम लाभ में सौदा करना पड़ रहा है।

उल्लेखनीय है कि पिछले कुछ साल में भारत में भी डायमंड ज्वैलरी की मांग बढ़ी है। युवा गोल्ड ज्वैलरी के साथ डायमंड ज्वैलरी भी पसंद करते हैं। शादी-ब्याह और बर्थडे पर डायमंड ज्वैलरी देने का चलन बढऩे से हीरों की मांग बढ़ी है।


पंजाब, दिल्ली, कोलकाता, मुंबई आदि शहरों में डायमंड ज्वैलरी की अच्छी मांग रहती है।


शव ठिकाने लगाने में मदद करने वाला भी पकड़ा गया

उमरा पुलिस ने सुरक्षाकर्मी अंकित गिरी गोस्वामी की हत्या के मामले में एक और आरोपित को गिरफ्तार किया है।पुलिस निरीक्षक डी.एच. गौर ने बताया कि सिटीलाइट चंद्रमणि सोसायटी निवासी राजेश शाह (24) भी अठवा लाइंस अंजन शलाका बिल्ंिडग के सुरक्षाकर्मी अंकित गिरी गोस्वामी की हत्या में लिप्त था। उसने अंकित की हत्या के मुख्य अभियुक्त पंकज झा और रविसिंह राजपूत की मदद की थी। अंकित उसके मातहत पंकज और रविसिंह से सख्ती से काम लेता था तथा लापरवाही बरतने पर उनकी शिकायत करता था।

इस वजह से वह उससे रंजिश रखे हुए थे। अंकित को रास्ते से हटाने के लिए उन्होंने हत्या की साजिश रची और बहला-फुसला कर अपने साथ ले गए। चाकू से उसकी हत्या करने के बाद शव वेसू गेल रेजिडेंसी के निकट खड्डे में फेंकने के लिए उन्होंने अपने मित्र सुरक्षाकर्मी राजेश शाह की मदद ली थी। पुलिस ने २६ जुलाई को शव बरामद किया था। अंकित के चाचा ने उसकी शिनाख्त की थी। पंकज और रविसिंह के पकड़े जाने पर राजेश फरार हो गया था, लेकिन पुलिस ने शनिवार रात उसे भी धर दबोचा।

Ad Block is Banned