समुद्री लहरों ने दिखाया रौद्र रूप

समुद्री लहरों ने दिखाया रौद्र रूप

Sunil Mishra | Updated: 14 Jun 2019, 06:47:09 PM (IST) Surat, Surat, Gujarat, India


वायु चक्रवात का नहीं हुआ विशेष असर
तीथल समुद्री तट पर एनडीआरएफ तैनात रही


वलसाड. राज्य भर के तटीय इलाके में वायु तूफान को लेकर वलसाड में भी प्रशासन पूरी तरह मुस्तैद रहा। गुरुवार को इसके वलसाड तटीय क्षेत्र में टकराने की संभावना के बीच शाम तक हालात सामान्य रहे। 11 जून से ही राज्य सरकार ने समु्द्र किनारों पर हाई अलर्ट जारी कर दिया था। इसके चलते तीथल समुद्री तट पर एनडीआरएफ को तैनात कर दिया गया था। गुरुवार सुबह तीथल में समुद्री लहरों ने अपना रौद्र रूप दिखाया और तूफानी हवाओं का जोर भी रहा। जिसके कारण वायु चक्रवात की संभावना व्यक्त की जा रही थी। लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ। तीथल किनारे तूफानी हवाओं से स्थानीय स्टॉल धारकों के पतरे उड़ गए और कई के तम्बू भी उखड़ गए। इसके बाद सभी स्टॉल धारकों को वहां से हटा दिया गया। दूर से ही लोगों ने ऊंची उठती लहरों को देखने का लुत्फ भी उठाया। लोगों को किनारे पर जाने और सेल्फी लेने पर रोक लगा दी गई थी। फ्लड कंट्रोल ने बताया कि हाल में वायु चक्रवात राज्य में कहीं नहीं है और इससे संभावित आपदा से निपटने की तैयारी भी पूरी है। कलक्टर सी.आर. खरसाण ने बताया कि वायु चक्रवात से बचाव के लिए तीथल किनारे सहित आसपास के इलाकों में पूरी सतर्कता बरती जा रही है। एनडीआरएफ और पुलिस दो दिनों से पूरी तरह से मुस्तैद है। वहीं दूसरी तरफ तीथल पर घूमने आए पर्यटकों ने बताया कि वायु चक्रवात की खबर से चिंतित हैं, लेकिन इस तरह की लहरों को इस तरह उठता देखने की इच्छा को रोक नहीं पाए और यहां आ गए। कई लोगों ने बताया कि उन्होंने पहली बार इस तरह लहरों को देखा है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned