NDPS : राजस्थान से तस्करी कर लाए मादक पदार्थ सूरत में बेचते थे


- डोडा पोस्ट व तरल अफीम की खेप के साथ वराछा व डिंडोली से पुलिस ने दो को पकड़ा

- Police caught two with doda poppy 3.22 lacs in varachha and dindoli surat

By: Dinesh M Trivedi

Updated: 11 Jan 2021, 09:09 PM IST

सूरत. ड्रग फ्री सूरत अभियान के तहत मादक पदार्थो तस्करी व बिक्री पर शिकंजा कस रही पुलिस ने वराछा व डिंडोली इलाकों में राजस्थान से लाई गई तरल अफीम व डोडा पोस्त की अवैध रूप से बिक्री करने वाले एक रत्नकलाकार व व्यापारी को गिरफ्तार किया है। उसके कब्जे से करीब 33 किलोग्राम डोडा पोस्त व 600 ग्राम तरल अफीम की खेप बरामद की है। जिसकी अंतरराष्ट्रीय बाजार में कीमत 3.22 लाख से अधिक बताई गई है।


पुलिस के मुताबिक लंबे हनुमान रोड घनश्यामनगर निवासी बुद्धाराम विश्नोई राजस्थान के बाडमेर जिले के नयानगर का मूल निवासी है। पेशे से रत्नकलाकार बुद्धाराम अपने में रूम में डोडा पोस्त व अफीम छिपा कर रखता था और चोरी छिपे बिक्री करता था। उसके बारे में वराछा पुलिस को मुखबिर से सूचना मिलने पर रविवार रात पुलिस टीम ने उसके घनश्यामनगर शेरी नम्बर 11 के प्लॉट नम्बर 270 में स्थित उसके रूम पर छापा मारा।

aaropi in varachha police staion

तलाशी में प्लास्टिक की थैलियों में छिपा रखा गया साढ़े छह किलो डोडा पोस्त व 477 ग्राम कत्थई रंग तरल (अफीम) बरामद हुआ। प्राथमिक पूछताछ में उसने बताया कि डिंडोली साईं सरोवर सोसायटी निवासी पुष्कर डांगी उर्फ रतन मेवाड़ी उसे मादक पदार्थो की आपूर्ती करता था।

पुलिस डिंडोली महादेवनगर में सांवरिया ग्लास के नाम से दुकान चलाने वाले पुष्कर के यहां छापा मारा। पुलिस को उसके यहां 26 किलो डोडा पोस्त व 225 ग्राम तरल बरामद हुआ। राजस्थान के उदयपुर का मूल निवासी पुष्कर निजी बसों में राजस्थान से डोडा पोस्त मंगवता था। वह अपनी दुकान में छिपा कर रखता था और अपने परिचितों को आपूर्ति करता था। वह किससे पास से डोडा पोस्त मंगवाता था। इस बारे में पूछताछ की जा रही है।

सवा लाख रुपए नकद व मोबाइल भी मिला

बुद्धाराम के रूम की तलाशी में पुलिस को सवा लाख रुपए नकद व एक मोबाइल फोन भी बरामद हुआ है। पुलिस ने रुपए व मोबाइल फोन भी जब्त किया है। पुलिस का दावा हैं कि रुपए उसने डोडा पोस्ट व अफीम की बिक्री कर हासिल किए है। वहीं मोबाइल का उपयोग वह अपने अवैध कारोबार के लिए कर रहा था। उसके मोबाइल कॉल डिटेल की जांच की जा रही है। पुलिस को पुष्कर के यहां भी नकदी बरामद हुई है।

अवैध हथियार के साथ सुरक्षाकर्मी गिरफ्तार


सूरत. स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) पुलिस ने फर्जी लाइसेंस बना कर अवैध रूप से हथियार रखने वाले एक सुरक्षाकर्मी को गिरफ्तार किया है। पुलिस के मुताबिक उधना सुमन देसाई वाडी स्थित रूपा निवास निवासी राजेश बिन्द्रा (38) अवैध रूप से बारह बोर की बंदूक व ६ कारतूस का उपयोग कर रहा था।

उत्तरप्रदेश के गाजीपुर जिले के सेहणी गांव का मूल निवासी राजेश ने किसी दलाल के मार्फत फर्जी लाइसेंस बनवाया था। उक्त फर्जी लाइसेंस का उपयोग कर उसने बंदूक व कारतूस खरीदे। फिर फर्जी लाइसेंस व बंदूक के जरिए नौतिक सिक्युरिटी एजेन्सी प्राइवेट लिमिटेड में गनमैन की नौकरी हासिल की थी। एसओजी पुलिस ने उसके लाइसेंस की जांच की तो वह फर्जी पाया गया। इस पर उसके खिलाफ खटोदरा थाने में मामला दर्ज किया।

Show More
Dinesh M Trivedi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned