scriptShe came crying and the family seven laughed If no one can see, in sur | SUICIDE ATTEMPT : वह रोती हुई आई और परिवार के साथ हंसती हुई गई | Patrika News

SUICIDE ATTEMPT : वह रोती हुई आई और परिवार के साथ हंसती हुई गई


- किसी की नजर नहीं पड़ती तो समन्दर में समा जाती नानपुरा की महिला

सूरत

Updated: April 16, 2022 04:55:36 pm

दिनेश एम.त्रिवेदी

सूरत. डूमस बीच पर गुरुवार को शाम सैर सपाटे के लिए आए कुछ युवा इधर उघर टहल रहे थे। कुछ बच्चे व युवा समुद्र में नहा रहे थे। तभी एक स्कूटर पर सवार होकर महिला बीच पर आई। वह रो रही थी, उसने अपना स्कूटर पार्क किया और नम आंखों से समुद्र की ओर बढ़ गई।
SUICIDE ATTEMPT : वह रोती हुई आई और परिवार के सात हसती हुई गई
SUICIDE ATTEMPT : वह रोती हुई आई और परिवार के सात हसती हुई गई
कुछ लोगों की नजर उस पर पड़ी, लेकिन वे कुछ समझ नहीं पाए। लेकिन वह समुद्र में आगे बढ़ते हुए लहरों के बीच खतरनाक ढंग से गहरे पानी में जाने लगी तो आस-पास मौजूद लोगों ने उसे आवाज लगाई।
पानी का स्तर उसके गले तक पहुंच और वह डूबने लगी। यह देख लोगों ने शोर मचाया और बीच पर गश्त कर रही महिला पुलिस की शी टीम को खबर की। शी टीम ने स्थानीय मछुआरों की मदद ली और महिला को गहरे पानी से निकाला।
पुलिस टीम ने महिला को नहला कर उसका कीचड़ साफ करवाया। फिर उसे थाने ले आई। शुरू में वह कुछ बोल नहीं रही थी। लेकिन फिर उसे विश्वास में लेकर धीरे धीरे पूछताछ की तो 28 वर्षीय महिला ने बताया कि वह नानपुरा क्षेत्र की रहने वाली हैं। परिवार में पति, सास-ससुर व उसका एक छोटा बच्चा भी है।
पुलिस ने उसकी समस्याओं के बारे में पूछा तो आर्थिक तौर पर या भावनात्मक रूप से ऐसी कोई गंभीर वजह नहीं मिली। जिसकी वजह से वह ऐसा करने पर मजबूर हुई हो जाए। वह अपने दैनिक जीवन में घरेलू काम-काज व अन्य छोटी-मोटी बातों को लेकर पति व सास-ससुर से आहत थी।
खुद को परिवार से कटा हुआ महसूस कर रही थी। इसी क्षणिक आवेग में वह अपना जीवन समाप्त करने तक पहुंच गई थी। पुलिस उसके परिवार का संपर्क कर उन्हें बुलाया। उन्हें जरा भी अंदाजा नहीं थी कि वह ऐसा कुछ कर सकती है। महिला की काउन्सलिंग करवाई साथ ही उसके परिजनों की काउन्सलिंग करवाई।
महिला को परिजनों के साथ बिठा कर जो कुछ समस्याएं गलत फहमियां थी उन्हें दूर किया। महिला अपने बच्चे को गले से लगा लिया और क्षणिक आवेग में अपने मूर्खतापूर्ण कदम पर हंसते हुए परिवार जनों के साथ घर लौट गई।
महिला को बचाने में शी टीम ने निभाई महत्वपूर्ण भूमिका

डूमस शी टीम की इंचार्ज एचएम साकरिया ने बताया कि महिला नहीं चाहती कि किसी भी तरह से उसकी पहचान जाहिर और उसे शर्मिंदा होना पड़े। इसलिए ज्यादा कुछ नहीं बता सकती। उसकी काउन्सलिंग करने और खोया हुआ आत्मविश्वास लौटाने में उनकी टीम कांस्टेबल जबुन बेन, प्रतापसिंह, हेड कांस्टेबल अनिल, विजयभाई ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।
एक माह में आत्महत्या के 400 कॉल आते थे

मनोचिकित्सक डॉ. उर्वेश चौहाण ने बताया कि पूर्व जब वह जीवन आस्था के लिए बतौर काउन्सर काम करते थे तब उन्हें महीने भर में करीब 400 कॉल आते थे। उनमें से करीब 25 फीसदी गंभीर किस्म के होते थे।
हम सिर्फ उनकी ही नहीं बल्कि उनके आस-पास के लोगों की भी काउन्सलिंग करते थे ताकि सकारात्मक महौल पैदा कर सके। इस तरह से कई जिंदगियों को बचाया गया।

परिजनों को विशेष ध्यान देने की जरुरत
चौहाण ने बताया कि जैसा इस मामले में हुआ है। वैसा किसी भी घर परिवार में हो सकता है। जाने अनजाने हमारे दैनिक व्यवहार से कोई आहत नहीं हो। उसे कभी यह एहसास नहीं हो कि दुनिया में उसका कोई महत्व नहीं है।
यदि किसी भी तरह से यह महसूस हो कि वह खुद को कटा हुआ महसूस कर रहा है तो उस पर विशेष ध्यान देना चाहिए। सकारात्मक व्यवहार से उसे क्षणिक आवेश या गहरे अवसाद में जाने से बचाया जा सकता है।
------

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

यहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतियूपी में घर बनवाना हुआ आसान, सस्ती हुई सीमेंट, स्टील के दाम भी धड़ामName Astrology: पिता के लिए भाग्यशाली होती हैं इन नाम की लड़कियां, कहलाती हैं 'पापा की परी'इन 4 राशियों के लड़के अपनी लाइफ पार्टनर को रखते हैं बेहद खुश, Best Husband होते हैं साबितजून में इन 4 राशि वालों के करियर को मिलेगी नई दिशा, प्रमोशन और तरक्की के जबरदस्त आसारमस्तमौला होते हैं इन 4 बर्थ डेट वाले लोग, खुलकर जीते हैं अपनी जिंदगी, धन की नहीं होती कमी1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्ससंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजर

बड़ी खबरें

पाकिस्तान ने भेजी है विषकन्या: राजस्थान इंटेलिजेंस ने सेना को तस्वीरें भेज कर किया अलर्टकुतुब मीनार एक स्मारक, किसी भी धर्म को पूजा-पाठ की इजाजत नहीं', साकेत कोर्ट में ASI का हलफनामाPooja Singhal Case: झारखंड की 6 और बिहार के मुजफ्फरपुर में ED की एक साथ छापेमारी, अहम सुराग मिलने की उम्मीदकर्नाटक के पूर्व सीएम सिद्धारमैया का विवादित बयान, 'मैं हिंदू हूं, चाहूं तो बीफ खा सकता हूं..'सबसे आगे मोदी, पीछे से बाइडेन सहित अन्य नेता, QUAD Summit से आई PM मोदी की ये तस्वीर वायरलआर्थिक तंगी और तेल की कमी से जूझ रहे पाकिस्तान ने ढूंढा अजीब तरीका, कर्मचारियों को ज्यादा छुट्टियां देने की तैयारी!QUAD Summit: अमरीकी राष्ट्रपति ने उठाया रूस-यूक्रेन युद्ध का मुद्धा, मोदी बोले- कम समय में प्रभावी हुआ क्वाड, लोकतांत्रिक शक्तियों को मिल रही ऊर्जाWhat is IPEF : चीन केंद्रित सप्लाई चैन का विकल्प बनेंगे भारत, अमरीका समेत 13 देश
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.