मंदिरों में कान्हा के दीदार को जुटेंगे लाखों श्रद्धालु

मंदिरों में कान्हा के दीदार को जुटेंगे लाखों श्रद्धालु

Dinesh M.Trivedi | Publish: Sep, 02 2018 10:58:16 PM (IST) Surat, Gujarat, India

- श्रीकृष्ण जन्माष्टमी आज ...
- जन्मोत्सव आयोजनों पर होंगे करोड़ों खर्च
- मध्यरात्रि बाद गूंजेगा-नंद के आनंद भयो जय कन्हैया लाल की

सूरत. उदयातिथि के हिसाब से सोमवार को शहर में अधिकतर स्थानों पर धूमधाम से जन्माष्टमी मनाई जाएगी। हालांकि कई लोगों ने रविवार को भी जन्माष्टमी का व्रत रखा व जन्मोत्सव मनाया। इस्कॉन समेत शहर के बड़े मंदिरों में दो दिवसीय उत्सव के लिए करोड़ों रुपए खर्च कर तैयारियां की गई हैं।

सूरत शहर उत्सव समिति के मुताबिक जन्माष्टमी के आयोजन वैसे तो सब जगह होते हंै, लेकिन शहर में भगवान श्रीकृष्ण के २५० से अधिक मंदिरों में आयोजन होते हंै। इसके अलावा सैकड़ों सोसायटियों, मोहल्लों में दही हांडी के आयोजन किए जाते हैं।

मंदिरों एवं विभिन्न स्थानों पर सोमवार शाम आठ बजे से ही जन्मोत्सव कार्यक्रम शुरू हो जायेंगे। मध्यरात्रि बारह बजे नंद के घर आनंद भयो जय कन्हैयालाल की के जयकारों से पूरा शहर गूंज उठेगा। मंगलवार को नंदोत्सव मनाया जाएगा।


दो दिन में आएंगे डेढ़ लाख श्रद्धालु, तैयारी में ३५ लाख का खर्च


जहांगीरपुरा स्थित इस्कॉन मंदिर के दिलीप भाई ने बताया कि पिछले साल जन्माष्टमी पर करीब १ लाख १० हजार भक्तों ने दर्शन किए थे। जिस तरह से प्रति वर्ष श्रद्धालुओं की संख्या बढ़ रही है। उससे उम्मीद है कि इस बार दो दिन में करीब डेढ़ लाख भक्त आएंगे। पूरे मंदिर परिसर को रोशनी से सजाया गया है।

भगवान के लिए साढ़े तीन लाख रुपए के खर्च से चांदी के तार, जरदोषी व स्टोन वर्क से मथुरा में भगवान के वस्त्र तैयार करवाए गए हंै। २५०० किलो प्रसाद तैयार किया गया है। प्रसाद तैयार करने का क्रम जरूरत के मुताबिक जारी रहेगा। २५०० लोगों की क्षमता वाले हॉल में ३० हजार लोगों के लिए फलाहार की भी व्यवस्था की गई है। सोमवार को जन्माष्टमी और मंगलवार को नंदोत्सव मनाया जाएगा।


पार्ले प्वाइंट राधा कृष्ण मंदिर पर आएंगेे करीब ५० हजार श्रद्धालु


पार्ले प्वाइंट स्थित राधा कृष्ण मंदिर कृष्ण जन्मोत्सव के लिए सज चुका है। मंदिर के ट्रस्टी मदनलाल पावा ने बताया कि पिछले वर्ष करीब ४० हजार भक्तों ने दर्शन किए थे।

इस साल करीब ५० हजार भक्तों के आने की उम्मीद है। सभी भक्तों के लिए प्रसाद वितरण की व्यवस्था की गई है। मंगलवार को नंदोत्सव पर ५ हजार लोगों के लिए लंगर का आयोजन होगा। मंदिर परिसर में सजावट की गई है। सोमवार रात्रि आठ बजे ५० बच्चों द्वारा कृष्ण लीला की प्रस्तुति दी जाएगी।

मोटा मंदिर व गोवर्धन हवेली में भी उमड़ेंगे भक्त


डूमस रोड स्थित गोवर्धन हवेली मंदिर ट्रस्ट के उज्ज्वल रामवाला ने बताया कि हवेली मंदिर पर करीब ५ हजार श्रद्धालु दर्शन के लिए आते हैं। पुष्टिमार्गी वैष्णव संप्रदाय के हमारे मोटा मंदिर में भक्तों की संख्या कुछ अधिक होती है।

वहां ७-८ हजार श्रद्धालु जन्माष्टमी पर दर्शन का लाभ लेते हैं। प्रति वर्ष परम्परानुसार ही आयोजन किया जाता है। जन्मोत्सव पर शालिग्राम भगवान का अभिषेक किया जाता है। उसके बाद नवमी को भगवान के दर्शन होते हैं।

Ad Block is Banned