वाटर पार्क पर छह करोड़ तथा बोटिंग सेवा पर डेढ़ करोड़ किए गए खर्च

कबीरवड़ में बढऩे लगी पर्यटकों की चहल-पहल

फेरी सर्विस और वाटर पार्क की सेवाएं शुरू

By: Sanjeev Kumar Singh

Updated: 12 Oct 2018, 09:05 PM IST

भरुच.

प्रदेश के ऐतिहासिक पर्यटन स्थल माने जाने वाले भरुच के कबीरवड में एक बार फिर से पर्यटकों की चहल पहल बढऩे लगी है। सैलानियों के आने से स्थानीय व्यापारियों के साथ-साथ जिला पंचायत को फायदा होगा। प्रख्यात पर्यटन स्थल कबीरवड गुरुवार से आधुनिक बोटिंग सेवा का प्रारंभ जिला पंचायत और ठेकेदार की ओर से किया गया। फेस एक में प्राकृतिक वाटर पार्क कबीरवड में डेढ़ करोड़ की लागत से फेरी सर्विस की शुरुआत की गई है। वहीं छह करोड़ की लागत से यहां वाटर पार्क, ऐम्यूजमेंट पार्क, किड्स जोन सहित फ्लोटिंग प्लेटफार्म शुरू किया गया है। सैलानियों को दीपावली और क्रिसमस पर पिकनिक के लिए कबीरवड़ श्रेष्ठ स्थान है।

 

भरुच जिले में स्थित १४ नौकाघाटों में से एक ऐतिहासिक कबीरवड प्रदेश भर के लोगों में पिकनिक के लिए ज्यादा पसंद किया जाता रहा है। २० जुलाई को भरुच जिला पंचायत ने १४ नौका घाटों की नीलामी की गई थी जिसमें कबीरवड और मंगलेश्वर घाट की नीलामी ५५ लाख रुपए का ठेका राजयोग पालिटेक प्राइवेट लिमिटेड कंपनी को दिया गया था। ठेकेदार की ओर से गुरुवार को मढ़ी घाट से जिला पंचायत प्रमुख जशु बेन पढियार, जिला पंचायत उपप्रमुख अनिल भाई भगत की उपस्थिति में कबीरवड में फेरी सर्विस शुरू किया गया। ठेकेदार की ओर से कबीरवड नौकाघाट पर डेढ़ करोड़ की लागत से दो पॉन्टून बोट के जरिए आधुनिक बोटिंग सेवाएं तथा फेरी सर्विस प्रारंभ किया गया।

 

जिला पंचायत ने मढ़ी घाट के सामने कबीरवड में फेरी सर्विस के लिए प्रति व्यक्ति ७५ रुपए फीस तय की है। कबीरवड़ में आगामी दिनों पेडल बोट, पार्टी प्लेटफार्म, जंबो पार्टी प्लेटफार्म, स्पीड बोट, पानी में तैरने वाली कॉटेज, वाटर पार्क, ऐम्यूजमेंट पार्क और किड्स जोन विकसित किया जाएगा। ठेका लेने वाली कंपनी की ओर से यहां पर तीन माह के भीतर अन्य सारी सुविधाओं को उपलब्ध करा दिए जाने की बात कही गई। पर्यटकों के लिए कबीरवड प्रमुख स्थल माना जा रहा है।

 

कबीरवड में मनोरंजन और राइड्स
दो पॉन्टून बोट, एक मनोरंजन बोट, दो स्पीड बोट, दो पेडल बोट, २० व्यक्तियों के लिए पार्टी प्लेटफार्म, ५० से १०० व्यक्तियों के लिए फ्लोटिंग प्लेटफार्म, १०० व्यक्तियों के लिए जंबो बोट, पानी में तैरने वाला फ्लोटिंग कॉटेज, ऐम्यूजेमेंट पार्क, वाटर पार्क, किड्स जोन, रेस्टोरेंट, कई मनोरंजन के साधन विकसित किया जाएगा।

 


कबीरवड को दो चरणों में किया जाएगा विकसित
कबीरवड की कायापलट करने वाली कंपनी राजयोग पोलीटेक के अधिकारी योगेश मारु ने बताया कि जिला पंचायत से १० वर्ष के लिए बीओटी स्तर पर कबीरवड-मंगलेश्वर घाट का ठेका लिया है। कबीरवड को दो चरणों में पूरी तरह से विकसित किया जाएगा। दिवाली तक पहले फेस को पूरा कर लिया जाएगा, जिसमें बोटिंग , फ्लोटिंग प्लेटफार्म, फेरी सर्विस, स्पीड बोट सहित अन्य राइड्स शामिल होगा। दूसरे फेस में क्रिसमस तक फ्लोटिंग काटेज, ऐम्यूजमेंट पार्क, वाटर पार्क, किड्स जोन शुरू किया जाएगा। जिले की जनता को अब आधुनिक मनोरंजन और वाटर राइडस के लिए कही बाहर जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी।
भरुच फोटो: कबीरवड़ में फेरी सर्विस और वाटर पार्क की सुविधा शुरू

Sanjeev Kumar Singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned