मनपा करेगी अलूणा पर स्पर्धा का आयोजन

मनपा करेगी अलूणा पर स्पर्धा का आयोजन

Vineet Sharma | Publish: Jul, 13 2018 08:34:53 PM (IST) Surat, Gujarat, India

मेहंदी प्रतियोगिता, आरती श्रृंगार और गोरमागी स्पर्धाओं का आयोजन

सूरत. अलूणा व्रत के दौरान मनपा प्रशासन विभिन्न वर्गों में मेहंदी प्रतियोगिता, आरती श्रृंगार और गोरमागी स्पर्धाओं का आयोजन करने जा रहा है। इसकी शुरुआत 24 जुलाई से होगी।

पहले दिन दिवाली बाग अडाजण के कम्युनिटी हॉल में दोपहर 12 बजे प्राथमिक और दो बजे से माध्यमिक वर्ग के लिए मेहंदी स्पर्धा का आयोजन किया जाएगा। अलथाण में सोहम सर्कल के पास कम्युनिटी हॉल में 25 जुलाई को दोपहर 12 बजे होने वाली मेहंदी स्पर्धा सभी के लिए खुली रहेगी।
आरती श्रृंगार स्पर्धा का आयोजन 26 जुलाई को दोपहर 12 बजे सिंगणपोर मल्टीपर्पज हॉल में प्राथमिक और माध्यमिक वर्ग के प्रतिभागी भाग ले सकेंगे। गोरमागीत स्पर्धा 27 जुलाई को उमरवाडा स्थित स्वामी विवेकानंद ऑडिटोरियम, नगर प्राथमिक स्कूल संख्या 68, 69, 70 और 71 के कम्पाउंड में सुबह दस बजे किया जाएगा। इसमें प्राथमिक विभाग के प्रतिभागियों को भाग लेने की अनुमति रहेगी।

धीमा रहेगा पानी का प्रेशर

मनपा के हाइड्रोलिक विभाग के मुताबिक 16 जुलाई को वराछा और लिंबायत जोन में आपूर्ति हो रहे पानी का प्रेशर कम रहेगा। हाइड्रोलिक विभाग के मुताबिक मानसून के दौरान संक्रामक रोगों से बचाव के लिए पानी की टंकियों की सफाई कराई जानी है। वराछा और लिंबायत जोन में पानी की टंकियों की सफाई के कारण ही आपूर्ति हो रहे पानी का प्रेशर कम रहेगा। पानी आपूर्ति के समय में भी बदलाव किया गया है।

बगैर लाइसेंस वाले विद्यार्थी अब नहीं ला सकेंगे स्कूल में वाहन

बगैर ड्राइविंग लाइसेंस वाले विद्यार्थी अब वाहन स्कूल नहीं ला सकेंगे। ट्रैफिक पुलिस ने ऐसे विद्यार्थियों के साथ-साथ उनके अभिभावकों के खिलाफ भी कार्रवाई की चेतावनी दी है। ट्रैफिक विभाग ने स्कूलों, अभिभावकों और विद्यार्थियों के लिए परिपत्र जारी किया है। स्कूलों से कहा गया है कि जिन विद्यार्थियों के पास लाइसेंस हो, उन्हीं को स्कूल में वाहन लाने की अनुमति दी जाए। स्कूलों को ऐसे विद्यार्थियों की सूची रखनी होगी। आने वाले दिनों में बिना लाइसेंस वाले विद्यार्थियों के खिलाफ कार्रवाई शुरू की जाएगी। ऐसे विद्यार्थियों के साथ-साथ उनके अभिभावकों के खिलाफ मोटर व्हीकल एक्ट के तहत कार्रवाई की जाएगी। शहर के स्कूलों में वाहन लेकर आने वाले विद्यार्थियों में से ज्यादातर के पास लाइसेंस नहीं है। ज्यादातर विद्यार्थी बिना हेलमेट वाहन चलाते नजर आते हैं। एक दुपहिया वाहन पर तीन-चार विद्यार्थी सवारी करते हैं। ज्यादातर विद्यार्थी तेज गति से वाहन चलाते हैं।

Ad Block is Banned