SOCIAL PRIDE NEWS: राजस्थान में भेजी सहायता सामग्री

-कर्मभूमि से जन्मभूमि चलो गांव की ओर...अभियान का बना हुआ है जोर

By: Dinesh Bhardwaj

Published: 28 May 2021, 09:00 PM IST

सूरत. कोरोना से बुरी तरह प्रभावित हुए राजस्थान में अपनों की मदद के लिए सूरत से छेड़ा गया अभियान कर्मभूमि से जन्मभूमि चलो गांव की ओर...दिन-प्रतिदिन मजबूत होता जा रहा है और इसमें प्रवासी राजस्थानियों की कई सामाजिक संस्थाएं जुड़ती जा रही है। अभियान के तहत शुक्रवार को विप्र फाउंडेशन व पारीक विकास ट्रस्ट ने नागौर जिले में कोरोना प्रभावितों के लिए आवश्यक साधन-सामग्री भेजी है।
विप्र फाउंडेशन युवा प्रकोष्ठ के चिकित्सा प्रभारी रामावतार पारीक ने एक जानकारी में बताया कि युवा कपड़ा उद्यमी कैलाश हाकिम व जन प्रतिनिधि दिनेश राजपुरोहित और विजय चौमाल आदि की ओर से छेड़े गए कर्मभूमि से जन्मभूमि चलो गांव की ओर...अभियान से प्रेरित होकर विप्र फाउंडेशन और पारीक विकास ट्रस्ट ने संयुक्त रूप से कोरोना प्रभावित राजस्थान के नागौर जिले के डेगाना और हरसोर में आवश्यक साधन-सामग्री भेजी है। शुक्रवार दोपहर विप्र फाउंडेशन के अध्यक्ष घनश्याम सेवग, दामोदर पारीक एवं विजय चौमाल की अगुवाई में एक निजी बस से ऑक्सीजन के 10 जम्बो सिलेंडर, ऑक्सीजन कंसेट्रेटर मशीन, मास्क, ऑक्सीमीटर, सेनेटाइजर आदि सामग्री राजस्थान रवाना की गई। इस अवसर पर बाबुलाल पालीवाल, गुजरात के महामंत्री मीठालाल पालीवाल, दिनेश शर्मा, पारीक समाज के दामोदर पारीक, रमेश पारीक, युवा प्रकोष्ठ अध्यक्ष प्रदीप पारीक, पुखराज नागदा, पवन सेवदा, नरपत राजपुरोहित, अशोक सारस्वत, अरविन्द छिल्ला, मनोज व्यास, महेश पारीक, दीपक झंवर आदि मौजूद थे।

साधु-साध्वियों के टीकाकरण को लिखा पत्र


सूरत. भारतीय जैन संघटना गुजरात शाखा ने राज्य की स्वास्थ्य सचिव डॉ. जयंती रवि को पत्र लिखकर जैन साधु-साध्वियों के टीकाकरण किए जाने की जानकारी दी है। बीजेएस, गुजरात के अध्यक्ष राजेश सुराणा ने पत्र में बताया कि कोरोना काल की इस मुश्किल घड़ी में आमजन के साथ साधु-साध्वियों को भी कई तरह की तकलीफें झेलनी पड़ रही है। कोरोना से बचाव के लिए उन सभी के लिए भी टीकाकरण आवश्यक है। साधु-साध्वियों के टीकाकरण के दौरान स्वास्थ्य विभाग कुछ बातों का ध्यान रखकर उन्हें भी इस अभियान में शामिल करें। इसमें बगैर पहचान पत्र के भी साधु-साध्वी को उनके समान ही विभाग के पुरुष-महिला कर्मी सम्पर्क कर मर्यादित समय में टीके लगाए जाने की बात शामिल है।

Dinesh Bhardwaj Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned