scriptSPECIAL NEWS: After Jayanti and Nanu, now Kalu has died in Pakistan | SPECIAL NEWS: जयंती और नानू के बाद अब कालू की गई पाकिस्तान में जान | Patrika News

SPECIAL NEWS: जयंती और नानू के बाद अब कालू की गई पाकिस्तान में जान

- 6 महीने में तीसरे भारतीय मछुआरे की मौत, परिजनों ने की पार्थिव देह जल्द भारत लाने की मांग
- बीमारी की वजह से हुई बताई कालू की मौत, जेल में 20 अन्य भारतीय मछुआरे भी बीमार

सूरत

Published: July 20, 2022 09:28:53 pm

सूरत. भारत-पाकिस्तान के बीच उच्चस्तरीय बातचीत बंद होने का खामियाजा निर्दोष भारतीय मछुआरों को अपनी जान गवांकर भुगतना पड़ रहा है। बीते 6 महीने में ही पहले जयंती बाद में नानू और अब भारतीय मछुआरे कालू सियाल की बीमारी से पाकिस्तान में कराची स्थित जेल में मृत्यु होने की दु:खद खबर आई है। मृतक मछुआरे के परिजनों ने यह बुरे समाचार मिलते ही गुजरात सरकार से पत्र लिखकर पार्थिव देह भारत लाने की मांग की है। इसके अलावा मानवता के नाते पाकिस्तान में कैद और बीमार 20 अन्य मछुआरों की रिहाई की भी मांग उन्होंने की है।
अरब सागर में मत्स्याटन के दौरान समुद्री सीमा उल्लंघन के जुर्म में भारतीय मछुआरों की पाकिस्तान मरीन सिक्योरिटी लगातार धरपकड़ करती रही है। पकड़े जाने वाले भारतीय मछुआरों को अंतरराष्ट्रीय कोर्ट के मुताबिक दो-तीन महीने की सादी कैद के बाद रिहा कर देना देना होता है, लेकिन पिछले 3 सालों से यह प्रक्रिया दोनों देशों के बीच उच्च स्तरीय वार्ता के अभाव में अटकी हुई है। हालांकि इस वर्ष पाकिस्तान सरकार ने 20-20 भारतीय मछुआरों की दो बार रिहाई अवश्य की है। पाकिस्तान के कराची स्थित मरीन लाधी जेल में भारतीय मछुआरों की मृत्यु के बाद उनकी पार्थिव देह भी भारत में उनके परिजनों तक लौटने में दो-ढाई महीने बीत जाते हैं। यह कड़वा अनुभव जयंती और नानू मछुआरे की पाकिस्तान में मौत के बाद उनके परिजन कर चुके हैं। अब ऐसे ही मौत की खबर भारतीय मछुआरे कालू सियाल की पाकिस्तान से आई है और उसके परिजनों ने पार्थिव देह भारत लाने के लिए उच्च स्तरीय अधिकारियों को पत्र लिखा है।
NATIONAL NEWS: अब नानु की मृतदेह को भारत लौटने का इंतजार
NATIONAL NEWS: अब नानु की मृतदेह को भारत लौटने का इंतजार

- चार साल पहले हुई थी धरपकड़


गुजरात के गिर सोमनाथ जिले की ऊना तहसील स्थित गराल गांव के कालू विराजी सियाल पोरबंदर से 25 जून 2018 को गंगासागर बोट में सवार होकर अन्य साथियों के साथ मछली पकडऩे गए थे। समुद्र में सीमा पार जुर्म में कालू सियाल को पाकिस्तान मरीन सिक्योरिटी ने पकड़कर जेल में डाल दिया था। उसकी गिरफ्तारी के 4 साल बाद बीती 6 जुलाई को ही उसकी बीमारी से मृत्यु हो जाने की जानकारी परिजनों को मिली है। यह जानकारी मिलने के बाद परिजनों ने कालू की पार्थिव देह को भारत लाने की मांग गुजरात सरकार से की है।

- 20 भारतीय मछुआरे बताए हैं बीमार


समुद्र में सीमा पार के जुर्म में तीन-चार सालों से कराची की जेल में सड़ रहे 650 से ज्यादा भारतीय मछुआरों में से 20 मछुआरे बीमार बताए गए हैं। पाकिस्तान में बीमारी से भारतीय मछुआरों की हो रही मौतों से इनके परिजन भी चिंताग्रस्त रहने लगे है। उन्होंने बीमार मछुआरों की पाकिस्तान से जल्द से जल्द रिहाई की मांग सरकार से की है। पिछले दिनों वहां से रिहा होकर गुजरात लौटे मछुआरे अनीस कुरेशी ने बताया कि कराची जेल में दिया जाने वाला भोजन भारतीय मछुआरों के अनुकूल नहीं होता है और उस वजह से ही वे अकसर वहां बीमार रहते है।

- परिजनों ने इन्हें लिखा है पत्र


गराल गांव के कालू सियाल की मृत्यु की सूचना पाने के बाद उनके परिजनों ने पार्थिव देह जल्द भारत लाने की मांग की है ताकि विधिविधान से उनकी अंत्येष्टि की जा सके। कालू के ब?े भाई गीगा भाई ने इस संबंध में गुजरात सरकार के कृषि और सरकारी विभाग, बंदरगाह और यातायात विभाग, मत्स्य उद्योग मंत्री, जिला कलेक्टर गिर सोमनाथ, मत्स्य विभाग विभाग वेरावल व जाफराबाद, सांसद व विधायक को पत्र लिखकर यह जानकारी दी है।

- यह अब मानों रोज की कहानी


पाकिस्तान में बीमार भारतीय मछुआरों की मौत की घटनाएं लगातार बढ़ती जा रही है मगर भारत सरकार को मानों इससे कोई फर्क ही नहीं पड़ता है। मानवीय दृष्टिकोण को ध्यान में रखकर दोनों देशों को जल्द ही उच्च स्तरीय वार्ता करनी चाहिए और बीमार मछुआरों के साथ-साथ जिन मछुआरों की सजा की अवधि पूरी हो चुकी है उन्हें तत्काल रिहा करवाकर भारत लाना चाहिए।

बालू भाई सोया, प्रमुख, समुद्र श्रमिक सुरक्षा संघ।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Jammu-Kashmir: उरी जैसे हमले की बड़ी साजिश हुई फेल, Pargal आर्मी कैंप में घुस रहे दो आतंकी ढेरजगदीप धनखड़ आज लेंगे 14वें उपराष्ट्रपति पद की शपथ, दोपहर 12:30 बजे राष्ट्रपति भवन में होगा समारोहबिहार सीएम की शपथ लेने के साथ अपने ही रिकॉर्ड तोड़ने से चूके Nitish Kumar, 24 अगस्त को साबित करेंगे बहुमतपीएम मोदी का कांग्रेस पर बड़ा हमला, कितना भी 'काला जादू' फैला लें कुछ होने वाला नहींMumbai: सिंगर सुनिधि चौहान के खिलाफ शिवसेना ने पुलिस में दर्ज कराई शिकायत, पाकिस्तान स्पॉन्सर कार्यक्रम का लगाया आरोपदेश के 49वें CJI होंगे यूयू ललित, राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने नियुक्ति पर लगाई मुहरकश्मीरी पंडित राहुल भट्ट की हत्या का बदला हुआ पूरा, सुरक्षाबलों ने तीन आतंकियों को मार गिरायासुनील बंसल बने बंगाल बीजेपी के नए चीफ, कैलाश विजयवर्गीय की हुई छुट्टी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.