scriptSPECIAL NEWS: Lessons learned from the use of solar energy, others als | SPECIAL NEWS: सौर ऊर्जा के उपयोग से सीखी खर्चे में कटौती, दूसरों ने भी मानी नसीहत | Patrika News

SPECIAL NEWS: सौर ऊर्जा के उपयोग से सीखी खर्चे में कटौती, दूसरों ने भी मानी नसीहत

-एशिया की सबसे बड़ी सूरत कपड़ा मंडी में दो बड़े टेक्सटाइल मार्केट्स जश व गुडलक हुए पूरी तरह से सौर ऊर्जा आधारित


-जश व गुडलक का सही तरीके से अनुसरण करने पर सूरत कपड़ा मंडी बचा सकती है सालाना करोड़ों का बिजली खर्च

सूरत

Published: February 20, 2022 05:42:30 pm

सूरत. एशिया की सबसे बड़ी सूरत कपड़ा मंडी के व्यापक स्वरूप के समक्ष यह काफी बौनी शुरुआत है, लेकिन जिस दिन सौर ऊर्जा से बिजली खर्चें की बचत का मंत्र जश व गुडलक टेक्सटाइल मार्केट्स से सूरत कपड़ा मंंडी के सभी मार्केट्स ने सीख लिया तब यह बचत राशि सालाना 9-10 करोड़ के भी पार पहुंच जाएगी। फिलहाल जश व गुडलक मार्केट प्रतिमाह अपने करीब डेढ़ लाख रुपए के बिजली खर्च को 50 हजार तक सिमेटने में सफल रहे हैं।
कोरोना काल में ग्रीन एनर्जी को बढ़ावा देने के उद्देश्य से सूरत कपड़ा मंडी के जश टेक्सटाइल मार्केट ने गतवर्ष 37 किलोवॉट का सोलर प्लांट 14 लाख रुपए के खर्च से 25 साल की गारंटी के साथ लगाया। मार्केट सोसायटी ने सोलर प्लांट के लिए अनुपयोगी छत के साढ़े तीन हजार वर्गफीट जगह का उपयोग किया और 94 सोलर प्लेट लगवाई। प्लांट शुरू होने के बाद नतीजा यह निकला कि कोरोना काल की शुरुआत से पहले तक प्रतिमाह औसतन 65 हजार का बिजली बिल चुकाने वाला सूरत कपड़ा मंडी के जश टैक्सटाइल मार्केट सोलर पावर प्लांट के बूते बिजली बिल जीरो कर ना केवल 50 हजार रुपए प्रतिमाह की बचत शुरू कर दी बल्कि मार्केट में नाममात्र बिजली उपयोग से बचत सरप्लस हो गई।
जश टेक्सटाइल मार्केट के बाद सौर ऊर्जा आधारित बिजली से मार्केट परिसर को रोशन करने की दिशा में गुडलक टेक्सटाइल मार्केट आगे बढ़ा और मार्केट एसोसिएशन ने पार्किंग परिसर को चुना। यहां करीब दस फीट ऊंचाई पर साढ़े चार हजार वर्गफीट क्षेत्र में 128 सोलर पैनल लगाकर सौर ऊर्जा से ना केवल बिजली ली जा रही है बल्कि वाहनों के लिए छांवदार पार्किंग की व्यवस्था भी कर ली गई।
SPECIAL NEWS: सौर ऊर्जा के उपयोग से सीखी खर्चे में कटौती, दूसरों ने भी मानी नसीहत
SPECIAL NEWS: सौर ऊर्जा के उपयोग से सीखी खर्चे में कटौती, दूसरों ने भी मानी नसीहत
-बैंकिंग चार्ज नीति पर जता रहे हैं आपत्ति

गुजरात सरकार ने हाल ही में नई कॉमर्शियल सोलर पॉलिसी बनाई है और उसमें बैंकिंग चार्ज अतिरिक्त रूप से जोड़ा गया है। यह बैंकिंग चार्ज प्रतिदिन उत्पादित होने वाली बिजली यूनिट पर लगता है और इससे बिजली उत्पादन की लागत बढ़ जाती है। सोलर एसोसिएशन ने भी इसका विरोध गुजरात सरकार के समक्ष जताते हुए बताया कि प्रति यूनिट एक रुपए 10 पैसा बैंकिंग चार्ज की नीति गलत है और इससे नए व्यावसायिक संस्थान को सोलर पावर प्लांट योजना से जोडऩे में दिक्कतें आएगी।
-सुविधा देने की है योजना

मार्केट में सौर ऊर्जा के चार्जिंग पोइंट से इलेक्ट्रिक व्हीकल को चार्ज किए जाने की योजना बनाई जा रही है। इससे व्यापारियों का पेट्रोल खर्च बचेगा और अतिरिक्त उत्पादित बिजली का उपयोग भी लिया जा सकेगा।

दिनेश कटारिया, सचिव, गुडलक मार्केट सोसायटी।

-बैंकिंग चार्ज वापस लें

एक-दो वर्ष पहले सोलर पावर प्लांट सिस्टम में बैंकिंग चार्ज शामिल नहीं था और तब व्यावसायिक संस्थान को काफी सहुलियतें थी। बैंकिंग चार्ज सरकार वापस लें, ताकि सूरत कपड़ा मंडी के ज्यादा से ज्यादा मार्केट में सौर ऊर्जा आधारित बन सकें।
महेंद्रसिंह भायल, सचिव, जश मार्केट सोसायटी।

-जश मार्केट में सौर ऊर्जा का उपभोग

मार्केट की चार लिफ्ट, 3 बोरिंग पंप, कॉमन पैसेज की 350 लाइट्स, बाउंड्री की 25 एलईडी लाइट्स, सोसायटी ऑफिस, 180 सीसीटीवी कैमरे का कैमरा सिस्टम, साइनबोर्ड और फायर सिस्टम में प्रतिदिन औसतन 170-180 यूनिट बिजली खर्च होता है। 37 केवी सोलर पावर प्लांट के बूते प्रतिदिन औसतन 200 यूनिट बिजली उत्पादन होता है और इस तरह से रोजाना 20-30 यूनिट बिजली सरप्लस होती है। सोलर पावर प्लांट के बूते जश टैक्सटाइल मार्केट सूरत कपड़ा मंडी का प्रतिमाह 50 हजार और सालाना 6 लाख रुपए बचाने वाला पहला मार्केट बन रहा है।
SPECIAL NEWS: सौर ऊर्जा के उपयोग से सीखी खर्चे में कटौती, दूसरों ने भी मानी नसीहत-आवासीय मार्केट गुडलक की स्थिति

छह मंजिला गुडलक मार्केंट में 260 से ज्यादा दुकानें है। दो पैसेेंजर एक गुड्स लिफ्ट के अलावा मोटर बोरिंग, सीसीटीवी कैमरे, सैकड़ों की संख्या में पैसेज व अन्यत्र स्थल पर जलने वाली लाइट्स से प्रतिदिन 200 यूनिट बिजली उपभोग और प्रतिमाह 55-60 हजार बिजली बिल आता था। सोलर पावर प्लांट शुरू होने के बाद 180 यूनिट बिजली उत्पादन होने लगा है और प्रतिदिन 125-130 यूनिट बिजली खपत के बाद भी 45-50 यूनिट बिजली रोजाना बच रही है। पहले मासिक बिजली खर्च 55-60 हजार था जो अब घटकर 30 हजार तक रह गया है।
SPECIAL NEWS: सौर ऊर्जा के उपयोग से सीखी खर्चे में कटौती, दूसरों ने भी मानी नसीहत-यूं बचा सकते हैं करोड़ों का बिजली खर्च

सूरत कपड़ा मंडी में जश मार्केट के समान 500 से ज्यादा दुकानों वाले सौ-सवा सौ से ज्यादा टेक्सटाइल मार्केट्स भी बिजली के क्षेत्र में स्वयं को आत्मनिर्भर बनाकर सालाना करोड़ों का बिजली खर्च बचा सकते हैं। ऐसी मार्केट्स रिंगरोड कपड़ा बाजार, मोटी बेगमवाड़ी कपड़ा बाजार, श्रीसालासर कपड़ा बाजार और सारोली कपड़ा बाजार क्षेत्र में है। इन सभी मार्केट्स में सोलर पावर प्लांट लगते हैं तो मासिक 50 हजार के बिजली खर्च बचत से सालाना करोड़ों रुपए तक कम किया जा सकता है।
-चार्जिंग पोइंट्स से देंगे बिजली

गुडलक मार्केट एसोसिएशन ने सोलर पावर प्लांट आधारित सौर ऊर्जा से मार्केट परिसर को रोशन करने के बाद सरप्लस बिजली के उपयोग की योजना बनाई है। योजना के मुताबिक मार्केट के जिन व्यापारियों के पास इलेक्ट्रिक व्हीकल है, उन्हें मार्केट लाकर चार्ज करने के लिए चार्जिंग पोइंट लगाने की तैयारी की है। इससे सरप्लस बिजली व्यर्थ नहीं जाएगी और व्यापारियों का पेट्रोल खर्च भी बचेगा। हालांकि मार्केट के व्यापारियों के पास फिलहाल इलेक्ट्रिक व्हीकल की संख्या कम है, लेकिन उम्मीद है कि योजना से लोगों में इलेक्ट्रिक व्हीकल के प्रति रुझान भी बढ़ेगा और तेल खर्च भी घटेगा।
SPECIAL NEWS: सौर ऊर्जा के उपयोग से सीखी खर्चे में कटौती, दूसरों ने भी मानी नसीहत

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठाLiquor Latest News : पियक्कडों की मौज ! रात एक बजे तक खरीदी जा सकेगी शराबशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफMorning Tips: सुबह आंख खुलते ही करें ये 5 काम, पूरा दिन गुजरेगा शानदारDelhi Schools: दिल्ली में बदलेगी स्कूल टाइमिंग! जारी हुई नई गाइडलाइनMahindra Scorpio 2022 का लॉन्च से पहले लीक हुआ पूरा डिजाइन और लुक, बाहर से ऐसी दिखती है ये पावरफुल कारबैड कोलेस्‍ट्राॅल और डिमेंशिया को कम करके याददाश्त को बढ़ाता है ये लाल खट्‌टा-मीठा फल, जानिए इसके और भी फायदेAC में लगाइये ये डिवाइस, न के बराबर आएगा बिजली बिल, पूरे महीने होगी भारी बचत

बड़ी खबरें

अफगानिस्तान के काबुल में भीषण धमाका, तालिबान के पूर्व नेता की बरसी पर शोक मना रहे लोगों को बनाया गया निशानाPunjab Borewell Accident: बोरवेल में गिरे 6 साल के बच्चे की नहीं बचाई जा सकी जान, अस्पताल में हुई मौतBJP को सरकार बनाने के लिए क्यूँ जरूरी है काशी और मथुरा? अयोध्या से बड़ा संदेश देने की तैयारी..पश्चिम बंगाल का पूर्व मेदिनीपुर जिला बम धमाकों से दहला, तलाशी के दौरान बरामद हुए 1000 से अधिक बमIPL 2022, SRH vs PBKS Live Updates: पंजाब ने हैदराबाद को 5 विकेट से हरायाकपिल देव के AAP में शामिल होने की चर्चा निकली गलत, सोशल मीडिया पर पूर्व कप्तान ने खुद साफ की स्थितिआख़िर क्यों असदुद्दीन ओवैसी बार-बार प्लेसेज ऑफ़ वर्शिप एक्ट का रो रहे हैं रोना, यहां जानेंपुजारा और कार्तिक की टीम में वापसी, उमरान मालिक को भी मिला मौका, देखें दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड दौरे का पूरा स्क्वाड
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.