ट्रेन में लकड़ी मारकर मोबाइल गिराने वालों की खोज शुरू

ट्रेन में लकड़ी मारकर मोबाइल गिराने वालों की खोज शुरू

Sanjeev Kumar Singh | Updated: 28 Apr 2019, 09:41:44 PM (IST) Surat, Surat, Gujarat, India

रेलवे पुलिस और रेलवे सुरक्षा बल ने काकरा खाड़ी के आसपास गश्त बढ़ाई

सूरत.

नवसारी से मेमू ट्रेन में सूरत आ रही युवती पर उधना-सूरत के बीच मोबाइल छीनने के लिए लकड़ी से हमला करने वाले अज्ञात युवक की रेलवे पुलिस ने खोज शुरू कर दी है। वहीं आरपीएफ के जवानों को उस क्षेत्र में गश्त के लिए तैनात किया गया है। हाल में युवती न्यू सिविल अस्पताल में भर्ती है। चिकित्सकों ने ऑपरेशन के दौरान उसका एक पैर काट दिया है।

 

न्यू सिविल अस्पताल के अनुसार नवसारी जलालपोर गौरीशंकर मोहल्ला निवासी दिव्या खीमजी दाफरा बीए की छात्रा है। दिव्या शनिवार को बहन ममता, कृष्णा तथा मां के साथ नवसारी से सूरत अपने संबंधी के घर आने के लिए निकली थी। नवसारी से सूरत आने के लिए इन्होंने मेमू ट्रेन में सफर शुरू किया। ट्रेन में भीड़ होने के कारण दिव्या तथा ममता कोच के गेट के पास ही बैठ गए थे। ट्रेन के उधना-सूरत के बीच से गुजरते समय काकराखाड़ी के नजदीक अज्ञात युवक ने लकड़ी से दिव्या पर हमला करके मोबाइल गिराने का प्रयास किया।

 

इसमें दिव्या का संतुलन बिगड़ गया और चलती ट्रेन से गिर गई। इसके बाद युवक उसका मोबाइल एवं पर्स चोरी करके फरार हो गया। हादसे में गंभीर रूप से घायल दिव्या को न्यू सिविल अस्पताल लाया गया। ट्रोमा सेंटर में प्राथमिक उपचार के बाद उसे ऑर्थोपेडिक विभाग में भर्ती किया गया है। चिकित्सकों ने ऑपरेशन के दौरान उसका एक पैर काट दिया है। परिजनों को अब दिव्या के भविष्य की चिंता सता रही है। दूसरी तरफ रेलवे ने मामले में जांच शुरू की है। सूरत रेलवे सुरक्षा बल तथा रेलवे पुलिस ने काकराखाड़ी के नजदीक जवानों को तैनात कर दिया है। हालांकि अभी तक उन्हें कई सफलता नहीं मिली है।

 

सीसीटीवी लगाने को लेकर रेलवे गंभीर नहीं

सूरत, उधना, भेस्तान और सचिन स्टेशन के आसपास ट्रेनों पर पत्थर फेंकने तथा लकड़ी मारकर मोबाइल चोरी की घटनाएं काफी समय से हो रही हंै। जेडआरयूसीसी सदस्य राकेश शाह ने मुम्बई मंडल प्रबंधक तथा पश्चिम रेलवे के वरिष्ठ अधिकारियों को इस क्षेत्र में सीसीटीवी लगाने की मांग की थी। लेकिन, अब तक इस पर विचार नहीं हुआ है। शनिवार को मेमू ट्रेन से गिरकर एक युवती का पैर कट जाने के बाद फिर से उन्होंने मुम्बई मंडल तथा जोन के अधिकारियों को सीसीटीवी लगाने की मांग दोहराई है।

 

राकेश ने बताया कि अपराधिक मामले होने वाले जगहों को चिन्हित करके वहां लाइट तथा कैमरे की व्यवस्था करने से ऐसे मामलों पर अंकुश लगाया जा सकता है। रेलवे पुलिस और सुरक्षा बल के जवान गश्त लगाते हैं लेकिन, सेक्शन बड़ा होने के कारण ऐसी घटनाएं रुक नहीं रही हैं।

 

घर से पंखा लेकर आए परिजन

शहर में दो दिन से तापमान बढ़ा हुआ है। शनिवार को पन्द्रह साल का रिकार्ड तोड़ते हुए पारा 43.2 डिग्री दर्ज हुआ था। जबकि रविवार को अधिकतम तापमान 43.6 डिग्री दर्ज हुआ है। न्यू सिविल अस्पताल में भर्ती मरीजों को भी गर्मी के कारण काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। वार्ड में मरीजों की संख्या पचास से अधिक है। सभी बेड पर पंखे की हवा नहीं पहुंच पाने से कुछ मरीज तो पूरा दिन और रात गर्मी में बिता रहे हैं। गर्मी बढऩे के चलते रविवार को दिव्या के परिजन घर से टेबल फैन लेकर आए और वार्ड में मरीज के पास चालू करके उसे राहत देने का प्रयास किया।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned