जांच का नाटक कर रही है राज्य सरकार : हार्दिक

जांच का नाटक कर रही है राज्य सरकार : हार्दिक

Mukesh Sharma | Publish: May, 17 2018 10:09:29 PM (IST) Surat, Gujarat, India

जीएमडीसी ग्राउंड पर पाटीदारों पर हुए दमन की जांच के लिए राज्य सरकार की ओर से पुंज जांच आयोग गठित करने को पाटीदार आरक्षण...

सूरत।जीएमडीसी ग्राउंड पर पाटीदारों पर हुए दमन की जांच के लिए राज्य सरकार की ओर से पुंज जांच आयोग गठित करने को पाटीदार आरक्षण आंदोलन समिति के समन्वयक हार्दिक पटेल पाटीदारों के लिए लॉलीपोप बताया और कहा कि यह 2019 के लोकसभा चुनाव को लेकर नाराज पाटीदारों को मनाने का पैंतरा है। उन्होंने पाटीदारों पर हुए दमन के लिए अमित शाह को जिम्मेदार ठहराया। राजद्रोह मामले में कोर्ट में पेशी के लिए सोमवार को हार्दिक पटेल सूरत पहुंचे।

राज्य सरकार की ओर से पाटीदारों पर हुए दमन की जांच के लिए पुंज आयोग गठित किया गया है। कोर्ट में पेशी के बाद मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए हार्दिक ने कहा कि चुनाव नजदीक आते ही सरकार पाटीदारों को लॉलीपोप देती है। पुंज जांच आयोग भी लॉलीपोप है। पाटीदारों के साथ जो भी हुआ, उसके लिए अमित शाह जिम्मेदार हैं। उन्होंने बताया कि वह दोबारा आंदोलन को तेज करने के लिए रणनीति बना रहे हैं। सरदार पटेल की जन्मस्थली करमसद में सरदार स्मारक बनाने को लेकर किए जा रहे अनशन को लेकर उन्होंने कहा कि वह अनशन के समर्थन में हैं। सरदार पटेल का स्मारक बनना ही चाहिए।

अब सुनवाई 9 को


राजद्रोह मामले में हार्दिक पटेल समेत तीनों अभियुक्तों के खिलाफ चार्जफ्रेम की कार्रवाई के बाद सोमवार को कोर्ट में सुनवाई शुरू होनी थी। छह गवाहों को कोर्ट में पेश होना था, लेकिन अभियोजन पक्ष की ओर से मुद्दा माल पेश किए बिना ही गवाहों की लिस्ट कोर्ट को सौंप दी गई थी। मुद्दा माल नहीं होने के कारण सुनवाई नहीं हो पाई। कोर्ट ने अब सुनवाई के लिए 9 मई का दिन तय किया है।

फर्जी जमानत मामले में एक साल की कैद

सूरत समेत दक्षिण गुजरात की विभिन्न कोर्ट में फर्जी दस्तावेज के आधार पर जमानतदार बनने के मामले में अभियुक्त आशुतोष ठक्कर को सोमवार को जेएमएफसी कोर्ट ने दोषी करार देते हुए एक साल की कैद और दस हजार रुपए जुर्माने की सजा सुना दी।

Ad Block is Banned