स्टेट मॉनिटरिंग सेल ने पांडेसरा में देशी-विदेशी शराब के अड्डे पर मारा छापा

माता पुत्र समेत 11 आरोपी गिरफ्तार,शराब समेत 3.34 लाख का माल जब्त

By: Dinesh M Trivedi

Published: 03 May 2021, 01:00 PM IST

सूरत. स्टेट मॉनीटरिंग सेल ने शनिवार रात पांडेसरा इलाके में अवैध रूप से चल रहे देशी व विदेशी शराब के अड्डों पर बड़ी कार्रवाई करते हुए माता-पुत्र समेत ग्यारह जनों को गिरफ्तार किया है तथा शराब समेत करीब 3.34 लाख रुपए का सामान जब्त किया है। मौके पर न सिर्फ अवैध रूप से शराब की बिक्री हो रही थी बल्कि कोविड गाइड लाइन की भी धज्जिया उड़ाई जा रही थी।

पुलिस के मुताबिक बमरोली नवी वसाहत निवासी बूटलेगर कुणाल पटेल व उसकी माता मीना पटेल व बमरोली नवा मोहल्ला निवासी अक्षय पटेल मिल अपने अन्य साथियों की मदद से पांडेसरा थाना क्षेत्र में अलग अलग स्थानों पर करीब आधा दर्जन देशी विदेशी शराब के अड्डे चला रहे थे। उन्होंने पांडेसरा जीआइडीसी, महालक्ष्मी चार रस्ता, बमरोली नवी वसाहत, कैलाशनगर, राधे कृष्ण सोसायटी, गणपतनगर किराए पर कमरे ले रखे थे।

जहां से वे अवैध रूप से शराब की बिक्री करते थे। इनके बारे में स्टेट मॉनीटरिंग सेल को शिकायत पर मिलने पर पुलिस टीम ने शनिवार शाम कार्रवाई शुरू की। शराब जब्त कर ग्यारह जनों को गिरफ्तार किया। उनसे पूछताछ में पता चला कि मनोज माल्या नाम का बूटलेगर उन्हें शराब की आपूर्ती करता था। पुलिस ने माल्या समेत छह अन्य को वांछित घोषित किया है।
------------
हीरा व्यापारी का मोबाइल छीना


सूरत. सरथाणा वीटीनगर सर्कल के पास बाइकर्स एक हीरा व्यापारी का मोबाइल छीन कर फरार हो गए। मोबाइल की कीमत दस हजार रुपए बताई गई है। घटना के संबंध में पीडि़त व्यापारी खड़सद गांव कृष्णा बंगलोज निवासी मनसुख हीरपरा ने प्राथमिकी दर्ज करवाई है। घटना शनिवार दोपहर में हुई। मनसुख सर्कल से गुजर रहे थे तभी पीछे से बाइक पर आए युवकों ने उनके हाथ से मोबाइल छीन लिया और भाग निकले।
-----------------------------------------
साइबर ठगी के शिकार 9 लोगों के 2.68 लाख पुलिस ने बचाए


सूरत. कोरोना महामारी की विकट परिस्थितियों में साइबर अपराधी भी अधिक सक्रिय है। लोगों को साइबर ठगी के मामलों में तुंरत मदद मुहैया करवाने के लिए शुरू किए गए साइबर आश्वस्थ प्रोजेक्ट के तहत पुलिस ठगी का शिकार हुए नौ लोगों को उनके 2.68 लाख रुपए वापस दिलवाने में सफलता हासिल की। पुलिस के मुताबिक ओहरा वीरेन,सवानी नरेश, कालरिया हेतल, सिसोदिया वीरेंद्र, पाटिल लोटन, नकुम अजय सिंह, काकडिय़ा राजेश, सखिया विजय अलग अलग तरिकों से ऑन लाइन ठगी का शिकार हुए थे। उन्होंने तुरंत साइबर आश्वस्थ पर 100 नम्बर डायल कर मदद भी मांगी थी।
---------------------

ऑटो रिक्शा गैंग का एक गिरफ्तार


सूरत. स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप पुलिस ने भाठेना रजा चौक से पैसेन्जरों को ऑटो रिक्शा में बिठा कर उनका कीमती सामान चुराने वाले गैंग के एक जनें को गिरफ्तार किया है। पुलिस के मुताबिक लिम्बायत रजाचौक निवासी आरोपी मोहसिन मणियार अपने अन्य साथियों के साथ ऑटो रिक्शा में लोगों का कीमती सामान चुराता था। पन्द्रह दिन पूर्व उन्होंने सैन्ट्रल बस स्टेण्ड से एक पैसेन्जर को ऑटो रिक्शा में बिठाया था। फिर उसकी जेब से 9 हजार 500 रुपए, एटीएम कार्ड चुरा लिए थे। फिर उसे वनिता विश्राम के पास उतार कर फरार हो गए थे। उसके साथी पकड़े गए थे लेकिन वह फरार था। मुखबिर से सूचना मिलने पर उसे गिरफ्तार कर लिया गया।
------

Show More
Dinesh M Trivedi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned