दमदार दादी: 90 वर्ष में कोरोना को दी मात

- ऊंचे मनोबल के साथ कोरोना वायरस की लड़ाई जीतने का मंत्र दिया

 

By: Sanjeev Kumar Singh

Published: 05 May 2021, 10:20 PM IST

सूरत/खेरगाम.

नवसारी चीकुवाडी आशाबाग निवासी दादी सविता किशोर देसाई (90) ने स्मीमेर अस्पताल में सात दिन के इलाज के बाद कोरोना को हरा दिया है। दादी डॉक्टरों को कहती थी कि उसे कुछ नहीं होगा क्योंकि उसे कोरोना से डर नहीं लगता है। स्वस्थ होकर घर लौटते समय उन्होंने चिकित्सकों और नर्सिंग स्टाफ का आभार व्यक्त किया। पोती सेजल देसाई ने बताया कि आठ अप्रेल को अचानक तबीयत बिगडऩे पर प्राइवेट अस्पताल लेकर गए। कोरोना के लक्षण के बाद 10 अप्रेल को होम आइसोलेशन में इलाज शुरू किया। 20 अप्रेल को श्वास लेने में तकलीफ होने पर उन्हें स्मीमेर अस्पताल लेकर आए। सात दिन के उपचार के बाद उन्हें छुट्टी मिल गई।

उन्होंने दूसरे मरीजों के लिए ऊंचे मनोबल के साथ कोरोना वायरस की लड़ाई जीतने का मंत्र दिया है। उन्होंने चिकित्सकों और नर्सिंग स्टाफ की बहुत तारिफ की। उन्होंने कहा कि अस्पताल के स्टाफ उसे ऐसे संभालते थे जैसे मैं उन सभी लोगों की दादी ही हूं। गौरतलब है कि, दूसरी लहर में न्यू सिविल और स्मीमेर में भर्ती बड़ी उम्र के बुजुर्ग लोगों ने कोरोना को हराया है। बाइपेप और वेंटिलेटर पर जाने के बाद भी कई गंभीर वृद्धों को चिकित्सकों ने मौत के मुंह से बचाया है।

Sanjeev Kumar Singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned