हार्दिक के समर्थन में विद्यार्थियों का धरना, पाटीदार बाहुल क्षेत्रों की स्कूलें बंद

हार्दिक के समर्थन में विद्यार्थियों का धरना, पाटीदार बाहुल क्षेत्रों की स्कूलें बंद

Sandip Kumar N Pateel | Publish: Sep, 07 2018 01:41:49 PM (IST) Surat, Gujarat, India

कानून व्यवस्था की स्थिति बिगड़े नहीं इसलिए स्कूलों पर पुलिस तैनात तो क्षेत्रों में लगातार गश्त जारी

सूरत. पाटीदार आरक्षण आंदोलन समिति के समन्वयक हार्दिक पटेल के अनशन का शुक्रवार को 14वां दिन है। ऐसे में हार्दिक के समर्थन में गुजरात के पाटीदार विद्यार्थी भी खड़े हो गए है। शुक्रवार सुबह से ही सूरत के पाटीदार बाहुल क्षेत्रों की स्कूल और कॉलेजों बाहर विद्यार्थी धरना पर बैठ गए तो स्कूल संचालकों को स्कूल बंद करने की नौतब आई। उधर, कानून व्यवस्था की स्थिति बिगडऩे नहीं इसलिए स्कूलों पर पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।


कॉलेज के बाद स्कूल के विद्यार्थियों का भी धरना


गुरुवार को वराछा, कापोद्रा और अमरोली क्षेत्र की कॉलेजों के बाहर विद्यार्थियों ने धरना देकर हार्दिक पटेल का समर्थन वहीं भाजपा के खिलाफ नारेबाजी की थी, जिससे कॉलेजों पर पुलिस तैनात कर दी गई थी। वहीं शुक्रवार सुबह अब कॉलेज के विद्यार्थियों के साथ पाटीदार बाहुल क्षेत्र वराछा, कापोद्रा, योगी चौक, पूणागाम, सीमाडा और मोटो वराछा क्षेत्र की स्कूल के विद्यार्थी भी धरना में जुड़ गए। स्कूल के विद्यार्थियों ने स्कूलों के बाहर ही धरना देते हुए स्कूल बंद करने की मांग की, जिस पर स्कूल संचालकों ने स्कूलों को बंद कर दिया।


इन स्कूलों में विरोध


आशादीप स्कूल, सरदार पटेल विद्याभवन, सरस्वती स्कूल, जे.बी.डायमंड स्कूल और संस्कार दीप स्कूलों में विद्यार्थियों ने विरोध प्रदर्शन किया, जिससे स्कूल संचालकों ने स्कूल बंद कर दी। कानून व्यवस्था की स्थिति बिगडऩे नहीं इसलिए स्कूलों पर पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।


पुलिस सतर्क


गुरुवार को दिनभर कॉलेज के विद्यार्थियों का धरना प्रदर्शन और सोसायटियों में विरोध प्रदर्शन को लेकर पुलिस सतर्क रही। इसके बावजूद देर रात पाटीदारों की कई सोसायटियों में पाटीदार महिलाएं और पुरूष सड़कों पर इकठ्ठे हुए और थाली बैलन बजाकर विरोध प्रदर्शन किया। वहीं योगी चौक क्षेत्र में सड़क पर टायर जलाए गए। इसके बाद से शुक्रवार सुबह से ही वराछा, कापोद्रा, सरथाणा, पूणागाम, अमरोली, मोटा वराछा क्षेत्रों में पुलिस बल बढ़ा दिया गया है और लगातार गश्त लगाई जा रही है।

Ad Block is Banned