बढ़ी मुश्किल- अब जगह-जगह फैले सुपर स्प्रेडर्स

कोरोना मरीजों का घर पर ही उपचार शुरू, अब जगह-जगह मिलेगी पैर आधारित हैंडवाश मशीन

By: विनीत शर्मा

Published: 14 Jun 2020, 04:38 PM IST

सूरत. कोरोना संक्रमण को लेकर मुश्किलें थमने का नाम नहीं ले रही हैं। सब्जी और किराना विक्रेताओं के बाद अब शहर में जगह-जगह सुपर स्प्रेडर्स कोरोना के कैरियर बन रहे हैं। मनपा प्रशासन ने शनिवार से कोरोना संक्रमितों का घर पर ही इलाज शुरू किया है। अब गंभीर मरीजों को ही अस्पताल में भर्ती किया जाएगा।

लॉकडाउन तीन में सब्जी विक्रता और किराना दुकान संचालक कोरोना के बड़े स्प्रेडर्स के रूप में सामने आए थे। उस वक्त इस चेन को तोडऩे के लिए मनपा प्रशासन ने बीच में कुछ दिनों के लिए सब्जी और किराना दुकानों के खुलने पर रोक भी लगा दी थी। अनलॉक वन में यह मुश्किल और बड़ी होती दिख रही है। लगभग सभी जोन में कारोबारी गतिविधियां शुरू होने के बाद सुपर स्प्रेडर्स की संख्या भी बढ़ गई है। जगह-जगह स्टेशनरी, पान के गल्ले, जेराक्स मशीनें, बस चालक और परिचालक, ऑटो रिक्शा चालक समेत कई दूसरे सुपर स्पे्रडर्स कोरोना के कैरियर बन रहे हैं। मनपा प्रशासन ने इस स्थिति को चिंताजनक बताते हुए लोगों से बाहर निकलते वक्त सावधानी बरतने को कहा है।

शहर में कोरोना संक्रमितों को घर पर ही उपचार देने की नीति पर शनिवार से अमल शुरू हो गया। पहले दिन रांदेर, अठवा और कतारगाम जोन में दस मरीजों को उनके घर पर ही रखकर उपचार किया जा रहा है। मनपा प्रशासन के मुताबिक गंभीर मरीजों को ही अस्पताल में भर्ती किया जाएगा। मनपा के स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक ऑक्सीजन का लेवल 95 से नीचे जाने पर ही मरीज को अस्पताल जाने की जरूरत है। ऐसे मरीजों की संख्या दस फीसदी से ज्यादा नहीं होती। शहर में फिलहाल 144 मरीज ऐसे हैं, जिन्हें ऑक्सीजन पर रखा जा रहा है।

कतारगाम में बेकाबू हो रहे कोरोना संक्रमण पर काबू पाने के लिए महापौर डॉ. जगदीश पटेल और मनपा आयुक्त बंछानिधि पाणि ने शनिवार को कतारगाम की सोसायटियों के प्रमुखों के साथ बैठक की। इस दौरान सोसायटी प्रमुखों से सोसायटियों में मनपा की एसओपी का पालन कराने में सहयोग पर जोर दिया। साथ ही चिकित्सकों के साथ बातचीत कर संक्रमितों के जल्द उपचार के तरीकों पर चर्चा की। आयुक्त ने बताया कि राज्य सरकार से 20 वाहन मिले हैं, जिन्हें मोबाइल क्लीनिक बनाया जाएगा। उन्होंने आठ जून से शुरू हो रहे रेस्टोरेंट्स व मॉल्स में पैर आधारित हैंडवॉश मशीनें रखने की हिदायत दी। उन्होंने कहा कि पैर आधारित मशीनें नहीं रखने पर कार्रवाई होगी।

विनीत शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned