Surat crime News; चाइनीज फूड की लॉरी की आड़ में बच्चों से करवाता था यह घिनौना काम, अब पकड़ा गया

Surat crime News; चाइनीज फूड की लॉरी की आड़ में बच्चों से करवाता था यह घिनौना काम, अब पकड़ा गया
Surat crime News; चाइनीज फूड की लॉरी की आड़ में बच्चों से करवाता था यह घिनौना काम, अब पकड़ा गया

Sandip Kumar N Pateel | Updated: 06 Oct 2019, 02:35:18 PM (IST) Surat, Surat, Gujarat, India

Surat crime news; मोबाइल स्नेचिंग के लिए बना रखा था गिरोह, क्राइम ब्रांच ने सरगना समेत तीन को 57 मोबाइल के साथ धर दबोचा, 30 वारदातें सुलझाने का दावा

सूरत. शहर में बढ़ते छीना झपटी के मामलों के बीच सूरत क्राइम ब्रांच पुलिस (Crime branch police) ने रविवार को एक ऐसे शातीर अपराधी को गिरफ्तार किया है, जो यूं तो चाइनीज फूड (chinese food) बेचता था, लेकिन साथ में एक ऐसा गिरोह बना रखा था, जो गिरोह के सदस्य राहगीरों के हाथों से मोबाइल फोन छीनकर लाते थे। क्राइम ब्रांच पुलिस ने सरगना और दो किशोरों को पकड़ कर चोरी के 5.93 लाख रुपए के 57 मोबाइल फोन बरामद कर शहर में हुई 30 वारदातों को सुलझाने का दावा किया है।

भारत ने साउथ अफ्रीका को पहले टेस्ट में हराया, सीरीज में 1-0 की बनाई बढ़त


पुलिस के मुताबिक पकड़े गए अभियुक्त का नाम अबू आमिर उर्फ लाला शब्बीर कासकीवाला (23) है। चौकबाजार सिंधीवाड सोपारी गली के मोहम्मदी अपार्टमेंट निवासी अबू कासकीवाला चाइनीज फूड लॉरी चलाने के साथ ही मोबाइल स्नेचिंग के लिए उसने गिरोह बना रखा था। मुखबिर से मिली सूचना के आधार पर रविवार को क्राइम ब्रांच पुलिस ने उसे और दो किशोरों को पकड़ लिया। तलाशी लेने पर उनके पास से चोरी के 5.93 लाख रुपए की कीमत के 57 मोबाइल फोन बरामद हुए। पूछताछ में तीनों ने कबूल कर लिया कि सभी मोबाइल फोन चोरी है और रागहीरों के हाथों से छीने हुए है। पुलिस ने मोबाइल फोन जब्त कर कतारगाम थाने में दर्ज 5, पूणा थाने में दर्ज 1, रांदेर थाने में दर्ज 3, वराछा थाने में दर्ज 1, लालगेट थाने में दर्ज 2, महिधरपुरा थाने में दर्ज 6, उधना थाने में दर्ज 1, अडाजण थाने में दर्ज 1, उमरा थाने में दर्ज 3, अठवा थाने में दर्ज 3, चौकबाजार थाने में दर्ज 3 और खटोदरा थाने में दर्ज 1 मामला मिलाकर 30 वारदातों को सुलझाने का दावा किया है। पुलिस ने बताया कि अबू ने मोबाइल स्नेचिंग की वारदातों को अंजाम देने के लिए आठ सदस्यों का गिरोह बना रखा था। वह उन्हें एक हजार रुपए किराए पर मोटर साइकिल मुहैया करवाता और छीना झपटी करने के लिए भेजता था। गिरोह के सदस्य मोबाइल छीन कर लाते तब उनसे मोबाइल लेकर मोटर साइकिल का किराया काट कर उन्हें रुपए देता और बाद में चोरी के मोबाइल फोन बेच देता था।


चार से पांच मोबाइल फोन का रखते थे टार्गेट


पुलिस ने बताया कि अबू के गिरोह के सदस्य जब भी वारदात को अंजाम देने के लिए निलकते तब वह चार से पांच मोबाइल फोन छीनने का टार्गेट रखते थे। जैसे ही उनका टार्गेट पूरा होता वह सीधे अबू के पास पहुंच कर सभी मोबाइल फोन उसे दे देते और किराया काट कर जो रुपए होते वह लेकर चले जाते थे।


पहले भी पकड़े जा चुके है


पुलिस ने बताया कि मोबाइल स्नेचिंग के आरोप में पकड़ा गया अबू कासकीवाला और दोनों किशोर इससे पहले भी मोबाइल फोन चोरी के आरोप में पुलिस के हाथों पकड़े जा चुके है। अब कासकीवाला इससे पहले छह बार और दोनों किशोर वाहन चोरी, मोबाइल चोरी के पांच मामलों में पकड़े जा चुके है।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned