Surat/ शिक्षा कार्य पर रोक के बावजूद स्कूल में किया परीक्षा का आयोजन

उधना खरवरनगर की बचकानीवाला स्कूल का मामला, सूचना मिलने पर मनपा ने बंद करवाई स्कूल, आचार्य ने कहा अभिभावकों के कहने पर किया था परीक्षा का आयोजन

By: Sandip Kumar N Pateel

Published: 16 Jun 2020, 08:32 PM IST

सूरत. कोरोना महामारी को लेकर सरकार की ओर से 15 अगस्त तक स्कूलों में शिक्षा कार्य पर प्रतिबंध लगाया है, इसके बावजूद मंगलवार को उधना खरवरनगर की बचकानीवाला स्कूल में विद्यार्थियों को बुलाकर परीक्षा का आयोजन किया गया। इसकी भनक लगते ही मनपा की टीम स्कूल पर पहुंची और परीक्षा रूकवा कर स्कूल बंद कर दी। हालांकि स्कूल के सामने अन्य कोई कार्रवाई नहीं की गई।


कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए मार्च महीने से स्कूलों को बंद कर दिया गया है। सोमवार से स्कूलों को शुरू किया गया, लेकिन 15 अगस्त तक विद्यार्थियों को स्कूल में बुलाने पर रोक है। इस दौरान मंगलवार को मनपा की टीम को सूचना मिली कि उधना खरवरनगर की बचकानीवाला स्कूल में विद्यार्थियों को बुलाकर परीक्षा ली जा रही है। सूचना के आधार पर मनपा की टीम मौके पर पहुंची तो हकीकत सही निकली। अधिकारियों ने परीक्षा रूकवा दी और स्कूल की आचार्य तथा प्रबंधन को फटकार लगाई। मनपा अधिकारियों ने बताया कि स्कूल के खिलाफ कार्रवाई करने का उनके पास कोई अधिकार नहीं है। स्कूल की आचार्य ने बताया कि अभिभावकों के कहने पर स्कूल में रि-एग्जाम का आयोजन किया गया था और सोशल डिस्टेसिंग का पालन करने के साथ ही सभी ने मास्क भी पहने हुए थे।

रोक पड़ी आचार्या

Surat/ शिक्षा कार्य पर रोक के बावजूद स्कूल में किया परीक्षा का आयोजनPatrika .com/upload/2020/06/16/bachkaniwala_school-1_6198895-m.jpg">

मनपा की टीम जैसे ही स्कूल में पहुंची तो स्कूल की आचार्य डर गई और वह रोने-बिलखने लगी। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि अभिभावकों के कहने पर ही उन्होंने छात्रों को स्कूल बुलाया था और परीक्षा ली जा रही थी। अब आगे से वह ऐसा नहीं करेगी।

Patrika
Sandip Kumar N Pateel Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned