scriptSURAT KAPDA MANDI: 5 thousand crores will be decorated with Lahariya b | SURAT KAPDA MANDI: 5 हजार करोड़ का सजेगा लहरिया कारोबार | Patrika News

SURAT KAPDA MANDI: 5 हजार करोड़ का सजेगा लहरिया कारोबार

-राजस्थान व मध्यप्रदेश की कपड़ा मंडियों के साथ-साथ इस बार यूपी-बिहार की मंडियों में भी डिमांडेबल
-फॉइल सी पल्लू का नया ट्रेंड मुठड़ा व लहरिया पर आया, सिल्वर-गोल्ड गोटा पत्ती-किनारे से भी सजी साडिय़ां

सूरत

Updated: May 11, 2022 08:56:55 pm

सूरत. लग्नसरा सीजन की बम्पर ग्राहकी के बाद अब सूरत कपड़ा मंडी में राखी के सीजन की तैयारियां होने लगी है, हालांकि लग्नसरा सीजन अभी बीता नहीं है मगर इसकी ग्राहकी शांत सी हो गई है। उम्मीद है कि कोरोना के दो साल बाद इस बार राखी के सीजन का कारोबार 5 हजार करोड़ के पार पहुंच जाए क्योंकि सीजन की विशेष पहचान लहरिया की डिमांड राजस्थान-मध्यप्रदेश के साथ-साथ उत्तरप्रदेश व बिहार की कपड़ा मंडियों से भी होने लगी है।
मार्च के दूसरे सप्ताह से जून के दूसरे सप्ताह तक सूरत कपड़ा मंडी में सबसे बड़ी लग्नसरा सीजन की अवधि रहती है और इसके कुछ समय बाद ही जुलाई-अगस्त-सितम्बर का राखी-तीज सीजन प्रारम्भ हो जाता है। इस बार स्थानीय बाजार में लग्नसरा ग्राहकी मई की शुरुआत में ही सुस्त हो गई और इस व्यापारिक सुस्ती के बीच अगले सीजन राखी की तैयारियां कपड़ा व्यापारियों ने प्रारम्भ कर दी है। मार्च से अप्रेल अंत तक लग्नसरा सीजन की बम्पर ग्राहकी सूरत कपड़ा मंडी में चली और उसे ध्यान में रख लहरिया कारोबार करने वाले कपड़ा व्यापारियों ने राखी के सीजन की तैयारियां अप्रेल के चौथे सप्ताह में ही प्रारम्भ कर दी थी और मंडी के कई व्यापारियों के यहां प्रिंटिंग मिलों से लहरिया, मुठड़ा व बंधेज साडिय़ां छपकर पहुंचने भी लगी है। कपड़ा कारोबार के जानकार बताते हैं कि इस बार राखी सीजन का लहरिया व्यापार 5 हजार करोड़ के पार जाने के आसार हैं।
SURAT KAPDA MANDI: 5 हजार करोड़ का सजेगा लहरिया कारोबार
SURAT KAPDA MANDI: 5 हजार करोड़ का सजेगा लहरिया कारोबार

-फॉइल सी पल्लू नया ट्रेंड


राखी सीजन पर ज्यादातर राजस्थान व मध्यप्रदेश की कपड़ा मंडियों में परम्परागत लहरिया साडिय़ों की डिमांड रहती है। इसमें बंधेज व मुठड़ा भी अब शामिल हो गए हैं और नए ट्रेंड के रूप में फॉइल सी पल्लू लहरिया व मुठड़ा इस बार बाजार में देखने को मिलने लगा है। इसमें साड़ी के पल्लू पर तीन तरफ फॉइल से डिजाइन की हुई है। इसके अलावा डिजीटल प्रिंटेड लहरिया भी राखी सीजन के दौरान इस बार खूब देखने को मिलेगा।

-चार-पांच ग्रे क्वालिटी पर अधिक छपाई


सावन-राखी-तीज के उपलक्ष में महिलाओं के परम्परागत परिधान लहरिया की साडिय़ां सूरत कपड़ा मंडी में ज्यादातर वेटलेस, 60 ग्राम, बटरफ्लाई शिफॉन, कॉटन जेकार्ड आदि ग्रे क्वालिटी पर ही मिलों में अधिक प्रिंट हो रहा है। व्यापारियों ने लहरिया को अधिक आकर्षक व उठावदार बनाने के लिए बॉर्डर पर सिल्वर-गोल्ड गोटा पत्ती लेस से वेल्यू एडीशन वर्क भी किया है। बताते हैं कि हॉलसेल बिक्री की मीठी शुरुआत भी हो चुकी है।

-प्रिंट मिलों में ज्यादातर यहीं जॉबवर्क


राखी सीजन की तैयारियां सूरत कपड़ा मंडी में होने लगी है और प्रिंटिंग मिलों में अब ज्यादातर लहरिया जॉबवर्क किया जा रहा है। लहरिया में इस बार डिजीटल प्रिंट समेत अन्य तरह का कुछ नयापन भी बाजार में दिखाई देगा।

कैलाश हाकिम, कपड़ा उद्यमी, रघुकुल टेक्सटाइल मार्केट।


-मीठी-मीठी ग्राहकी की शुरुआत


यह समय भले ही लग्नसरा सीजन का अंतिम दौर है, लेकिन राखी सीजन की मीठी-मीठी शुरुआत हो चुकी है। थोड़े समय बाद इसमें तेजी भी आएगी, लेकिन व्यापारी डिमांड मुताबिक ही माल बनाएंगे।

-गणेश गाडोदिया, कपड़ा व्यापारी, मिलेनियम मार्केट


-लहरिया लहंगा-चोली की मांग


यूपी-बिहार की कपड़ा मंडियों से लहरिया लहंगा-चोली की मांग आने लगी है, यहीं वजह है कि इस बार वहां की मंडियों से जुड़े व्यापारी भी राखी सीजन की तैयारियों में इन दिनों पूरी तरह से सक्रिय हो गए हैं।

गणेश अग्रवाल, कपड़ा व्यापारी, मिलेनियम-2 मार्केट

-राजस्थान-एमपी के अलावा यूपी-बिहार में भी मांग


राखी सीजन में लहरिया की मांग आम तौर पर राजस्थान की जयपुर, जोधपुर, बीकानेर, सवाईमाधोपुर व शेखावाटी क्षेत्र की कपड़ा मंडियों के अलावा मध्यप्रदेश में इंदौर, उज्जैन, नीमच, रतलाम, मंदसौर आदि कपड़ा मंडियों में रहती है। लहरिया की मांग इस बार उत्तरप्रदेश व बिहार की परम्परागत कपड़ा मंडियों से भी स्थानीय व्यापारियों के पास आने लगी है। हालांकि इसमें भी लहरिया के लहंगा-चोली की मांग अधिक बताई गई है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

ज्ञानवापी मस्जिद केसः सुप्रीम कोर्ट का सुझाव, मामला जिला जज के पास भेजा जाए, सभी पक्षों के हित सुरक्षित रखे जाएंशिक्षा मंत्री की बेटी को कलकत्ता हाई कोर्ट ने दिए बर्खास्त करने के निर्देश, लौटाना होगा 41 महीने का वेतनHyderabad Encounter Case: सुप्रीम कोर्ट के जांच आयोग ने हैदराबाद एनकाउंटर को बताया फर्जी, पुलिसकर्मी दोषी करारInflation Around World : महंगाई की मार, भारत से ज्यादा ब्रिटेन और अमरीका हैं लाचारपंजाब में दिल्ली का विकास मॉडल, CM भगवंत मान का ऐलान- 15 अगस्त को राज्य को मिलेंगे 75 नए मोहल्ला क्लीनिकराहुल गांधी ने मोदी सरकार पर साधा निशाना, कहा - 'पैंगोंग झील के पास दूसरा पुल बना रहा चीन, सरकार सिर्फ निगरानी ही कर रही है'दो साल बाद अपनों के बीच पहुंचते ही आजम खान ने बयां किया दर्द, बोले- मेरे साथ जो-जो हुआ वो भूल नहीं सकतापहली बार Yogi आदित्यनाथ की तारीफ में बोले अखिलेश यादव 'यूपी में Technology'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.