SURAT KAPDA MANDI: सख्ती के बीच मार्केट में प्रवेश, प्रशासन भी रहा सतर्क

टैक्सटाइल मार्केट क्षेत्र में आरटीपीसीआर नेगेटिव रिपोर्ट व वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट की नहीं पड़ी जरूरत

By: Dinesh Bhardwaj

Published: 05 Apr 2021, 08:50 PM IST

सूरत. रिंगरोड कपड़ा बाजार में सोमवार सुबह कोविड-19 की गाइडलाइन का सख्त पालन होता दिखा और प्रशासन भी सतर्क रहा। हालांकि इस दौरान आरटीपीसीआर नेगेटिव रिपोर्ट अथवा वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट की अनिवार्यता से कपड़ा व्यापारियों समेत अन्य लोगों में बना संशय व भय भी निर्मूल साबित हुआ है। वहीं, कई टैक्सटाइल मार्केट परिसर में वैक्सीनेशन सेंटर पर लोगों की भीड़ रही।
शहर में तेजी से फैलते कोरोना की चेन तोडऩे के हरसंभव जतन महानगरपालिका प्रशासन स्थानीय लोगों के सहयोग से कर रहा है। इसी सिलसिले में आरटीपीसीआर नेगेटिव रिपोर्ट अथवा वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट होने पर ही सोमवार से कपड़ा बाजार में प्रवेश मिलने की जानकारी से हजारों व्यापारियों समेत अन्य लोग संशय व भ्रम में थे। हालांकि व्यापारियों समेत अन्य लोगों का यह संशय व भय तब निर्मूल साबित हुआ जब वे रिंगरोड कपड़ा बाजार के विभिन्न टैक्सटाइल मार्केट में अपने-अपने व्यापारिक केंद्र पर पहुंचे। इस दौरान मार्केट ट्रेडर्स एसोसिएशन व मार्केट प्रबंधन की ओर से कोविड-19 की गाइडलाइन की पालना में सख्ती अवश्य दिखाई दी। अधिकांश टैक्सटाइल मार्केट के प्रवेशद्वार पर सुरक्षाकर्मी टेम्प्रेचर गन, सेनेटाइजर के साथ मौजूद थे और मास्क के बगैर प्रवेश से लोगों को रोक रहे थे। उधर, सुबह में महानगरपालिका आयुक्त बंछानिधि पाणी, प्रभारी अधिकारी एम थैनारासन समेत कई अधिकारी भी कपड़ा बाजार क्षेत्र में पहुंचे और प्रशासनिक सतर्कता भी क्षेत्र में दिखाई दी।

-कई मार्केट परिसर में वैक्सीनेशन

कोरोना से बचाव के लिए रिंगरोड कपड़ा बाजार के विभिन्न टैक्सटाइल मार्केट परिसर में वैक्सीनेशन सेंटर सोमवार को भी सक्रिय दिखाई पड़े। यहां पर वैक्सीन लेने के लिए व्यापारियों समेत अन्य कई लोग सोशल डिस्टेंस के साथ देर तक कतार में खड़े रहे और बाद में उनकी बारी आने पर आधारकार्ड दिखाकर उन्होंने वैक्सीन ली। इस दौरान कई लोग 45 से कम उम्र वाले भी कतार में खड़े हुए, लेकिन उन्हें बाद में निराशा हाथ लगी।

-स्टाफ और सेंटर की मांगी सूची

कपड़ा बाजार में अन्य कई टैक्सटाइल मार्केट में भी वैक्सीनेशन सेंटर शुरू किए जाने के लिए मनपा प्रशासन से स्टाफ की मांग की गई है और इसके अलावा निशुल्क जांच के आरटीपीसीआर सेंटर की सूची भी मांगी गई है। कपड़ा बाजार में 25 से 45 वर्ष की उम्र के लोगों की अधिक आवा-जाही होने से इनके लिए वैक्सीनेशन की नई गाइडलाइन जारी किए जाने व कपड़ा बाजार स्थित वैक्सीनेशन सेंटर पर इन्हें वैक्सीन दिए जाने की मांग भी की गई है।

SURAT KAPDA MANDI: सख्ती के बीच मार्केट में प्रवेश, प्रशासन भी रहा सतर्क
Dinesh Bhardwaj Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned