SURAT KAPDA MANDI: हाथ ऊंचे किए और कहा, नहीं देंगे ट्रांसपोर्ट चार्ज

-सूरत टैक्सटाइल मार्केट के बोर्डरूम में पांच व्यापारिक संगठनों के प्रतिनिधि व्यापारी रहे मौजूद, अन्य मुद्दों पर भी बन गई सहमति

By: Dinesh Bhardwaj

Published: 01 Mar 2021, 10:08 PM IST

सूरत. सूरत कपड़ा मंडी के हजारों कपड़ा व्यापारियों के संगठनों ने सोमवार शाम को वीवर्स संगठन के ट्रांसपोर्ट चार्ज के निर्णय को सिरे से खारिज कर दिया। इतना ही नहीं अन्य कई जरूरी मुद्दों पर भी सभी ने एकमत होकर सहमति जताई है। बैठक का आयोजन सूरत टैक्सटाइल मार्केट के बोर्डरूम में किया गया था और इस दौरान साउथ गुजरात टैक्सटाइल ट्रेडर्स एसोसिएशन, व्यापार प्रगति संघ, सूरत मर्कंटाइल एसोसिएशन, गुजरात प्रोसेस यूनियन, सूरत रिटेलर्स ग्रुप के पदाधिकारी व सदस्य व्यापारी मौजूद थे।
बैठक की शुरुआत में साउथ गुजरात टैक्सटाइल ट्रेडर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष सांवरप्रसाद बुधिया ने मौजूद सभी व्यापारी सदस्यों को वीवर्स संगठन के ग्रे डिलीवरी चार्ज मुद्दे पर अपनी राय रखने के लिए आमंत्रित किया। इसके बाद कई व्यापारियों ने ग्रे डिलीवरी के ट्रांसपोर्ट चार्ज पर कड़ी नाराजगी जताई और बताया कि इस तरह से तो कल से अन्य घटक भी ट्रांसपोर्ट चार्ज की अनावश्यक मांग करने लगेंगे जो कि कपड़ा कारोबार के लिए किसी भी तरह से उचित नहीं है। बैठक का संचालन कर रहे एसजीटीटीए के सचिव सुनील कुमार जैन ने बैठक के अंत में सभी मौजूद व्यापारियों से ट्रांसपोर्ट चार्ज को सिरे से खारिज करने के मामले में हाथ खड़े करवाकर सहमति ली।

-इन मुद्दों पर भी हुई बातचीत

सूरत टैक्सटाइल मार्केट के बोर्डरूम में आयोजित बैठक में ग्रे डिलीवरी ट्रांसपोर्ट चार्ज नहीं देने के निर्णय के अलावा अन्य आवश्यक मुद्दों पर भी सभी व्यापारिक संगठनों के सदस्य व पदाधिकारी व्यापारियों ने खुलकर बातचीत की। इसमें पांच प्रतिशत डिस्काउंट पर ग्रे की खरीदारी, माप आधारित ग्रे की खरीदारी, ग्रे की दलाली का भुगतान वीवर्स करेंगे।

-नया मजबूत संगठन बनाने का प्रस्ताव

सूरत कपड़ा मंडी के सवा दो सौ से ज्यादा टैक्सटाइल मार्केट के हजारों व्यापारियों का नेतृत्व करने के लिए नया व मजबूत संगठन बनाने का प्रस्ताव बैठक में काफी जोर-शोर से उठा। बैठक में मौजूदा एक संगठन को अनैतिक व अंसवैधानिक बताते हुए व्यापारियों ने खूब नाराजगी जताई और नए सिरे से संगठन की रचना किए जाने की बात भी खूब जोर-शोर से उठाई।

-फिर से होगी बड़ी बैठक

सोमवार शाम को आयोजित बैठक का अहम मुद्दा ट्रांसपोर्ट चार्ज का था और इसीलिए सभी व्यापारिक संगठनों के प्रमुख पदाधिकारियों का झुकाव इसी पर रहा, हालांकि अन्य व्यापारी दूसरे मुद्दों पर भी गंभीरता बनाए हुए थे। बाद में नए व मजबूत संगठन की रचना समेत अन्य मुद्दों पर चर्चा करने के लिए होली से पहले एक बड़ी व आवश्यक बैठक बुलाने पर सहमति बनाई गई।

-इन्होंने रखी अपनी बात

बैठक में एसजीटीटीए के अध्यक्ष सांवरप्रसाद बुधिया, सचिव सुनीलकुमार जैन के अलावा कोषाध्यक्ष सुरेंद्र जैन, मोहन अरोड़ा, संतोष माखरिया, महेश जैन, अरविंद वैद, सारंग जालान, दिनेश कटारिया, व्यापार प्रगति संघ के संयोजक संजय जगनानी, सूरत मर्कंटाइल एसोसिएशन के प्रमुख नरेंद्र साबू, आत्माराम बाजारी, संजय अग्रवाल के अलावा फूलचंद राठौड़, गणेश जैन, लालचंद, रामरतन बोहरा, अरुण पाटोदिया, गोविंद नारंग, जयप्रकाश शर्मा, अनिल अग्रवाल, भाविन जैन, ललित अग्रवाल, हेमंत, दिनेश भोगर आदि ने विचार रखे।

Dinesh Bhardwaj Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned