SURAT KAPDA MANDI: शाम होने से पहले बंद हो गया मिलेनियम मार्केट

-मनपा दस्ते की दुकान-दुकान जांच कार्रवाई से कपड़ा व्यापारियों में मचा हड़कम्प, शाम होने से पहले मार्केट हो गया बंद

By: Dinesh Bhardwaj

Published: 10 Apr 2021, 08:36 PM IST

सूरत. कोरोना की रोकथाम के लिए प्रशासनिक सख्ती का दौर शनिवार को पूरी तेजी के साथ चला। रिंगरोड कपड़ा बाजार में सुबह मार्केट खुलने के साथ पहुंचे मनपाकर्मियों की टीम ने मिलेनियम मार्केट में युद्धस्तर पर जांच कार्रवाई की और आरटीपीसीआर नेगेटिव रिपोर्ट व वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट के अभाव में दुकानें सील करने की कार्रवाई शुरू करते ही व्यापारियों में हड़कम्प मच गया और शाम होने से पहले ही मार्केट बंद हो गया।
सप्ताह की शुरुआत सोमवार से ही रिंगरोड कपड़ा बाजार में जारी प्रशासनिक कार्रवाई में शनिवार को लगातार छठे दिन भी सख्ती बनी रही। सुबह क्षेत्र में पहुंची मनपा टीम ने अलग-अलग जगहों पर पुलिस जवानों के साथ बाजार पहुंच रहे व्यापारी-कर्मचारी व अन्य लोगों की आरटीपीसीआर नेगेटिव रिपोर्ट व वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट की जांच शुरू कर दी और नतीजन शनिवार को भी सैकड़ों लोगों को रिपोर्ट व सर्टिफिकेट के अभाव में घर लौटना पड़ा। हालांकि गत दिनों की अपेक्षा शनिवार को लोगों की भीड़ भी रिंगरोड कपड़ा बाजार में कम नजर आई। उधर, दोपहर में मनपा टीम कमेला दरवाजा के निकट स्थित मिलेनियम मार्केट में जांच कार्रवाई के लिए घुसी और दुकान-दुकान पर व्यापारी-कर्मचारी व अन्य लोगों की आरटीपीसीआर नेगेटिव रिपोर्ट व वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट की जांच शुरू कर दी। इस प्रशासनिक कार्रवाई से व्यापारियों समेत अन्य लोगों में हड़कम्प मच गया और इस दौरान मनपा टीम ने रिपोर्ट व सर्टिफिकेट के अभाव में दुकानें सील करने की कार्रवाई भी प्रारम्भ कर दी। यह जानकारी मिलने के बाद तो व्यापारियों ने अपने प्रतिष्ठान मंगल करना प्रारम्भ कर दिया और शाम होने से पहले ही हजारों लोगों की व्यापारिक गतिविधि का केंद्र मिलेनियम टैक्सटाइल मार्केट पूरी तरह से बंद हो गया।
उधर, रिंगरोड फ्लाइओवर ब्रिज के नीचे सूरत टैक्सटाइल मार्केट व मिलेनियम मार्केट के सामने शनिवार को भी मनपा के धन्वंतरी रथ के सामने रेपिड टेस्ट के लिए लोगों की कतार देखने को मिली। यहां कपड़ा बाजार के अलावा अन्य क्षेत्र से भी लोग जांच के लिए पहुंच रहे हैं। वहीं, मनपा टीम ने शनिवार सुबह से ही रिंगरोड कपड़ा बाजार के सभी क्षेत्र में घूम-घूमकर चाय-नाश्ते की दुकानें भी बंद करवाई।

कैम्प में वैक्सीन ली, नहीं मिला सर्टिफिकेट


सूरत. महानगरपालिका प्रशासन एक तरफ कपड़ा बाजार में आरटीपीसीआर नेगेटिव रिपोर्ट अथवा वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट के बगैर व्यापारियों समेत अन्य लोगों को प्रवेश से रोक रहा है। दूसरी तरफ जिन लोगों ने मनपा के ही वैक्सीनेशन कैम्प में वैक्सीन ली, उन्हें सर्टिफिकेट नहीं मिल रहे हैं। यह शिकायत गोडादरा स्थित प्रियंका सोसायटी से उठी है और बताया है कि यहां एक सौ से ज्यादा लोगों ने गत 8 अप्रेल को सोसायटी में लगे वैक्सीनेशन कैम्प में वैक्सीन ली थी और इनमें से ज्यादातर कपड़ा बाजार से जुड़े हैं। अब समस्या यह हो गई है कि उन्होंने वैक्सीन तो ली है, लेकिन सर्टिफिकेट नहीं होने से उन्हें रिंगरोड कपड़ा बाजार के विभिन्न टैक्सटाइल मार्केट में प्रवेश से रोका जा रहा है। शिकायत करने वालों ने बताया कि गत 8 अप्रेल को मनपा ने सोसायटी के सहयोग से गोडादरा में श्यामला धाम के पास प्रियंका को-ऑपरेटिव हाउसिंग सोसायटी में वैक्सीनेशन कैम्प लगाया था और उस दौरान मनपा शासकपक्ष नेता अमितसिंह राजपूत व अन्य भी यहां पहुंचे थे और तब सोसायटी व आसपास के एक सौ से ज्यादा लोगों ने वैक्सीन ली थी। लेकिन, किसी का भी डेटा पोर्टल पर अपलोड नहीं हो सका और नतीजन सर्टिफिकेट नहीं मिल पाया। उस दौरान मौजूद मनपाकर्मियों ने बताया कि जब दूसरी डोज लगेगी तब सभी को मैसेज मिल जाएगा, लेकिन इससे समस्या दूर होने के बजाय तब बढ़ गई जब लोगों को कपड़ा बाजार में वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट के अभाव में मार्केट में प्रवेश से रोका गया।

Dinesh Bhardwaj Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned