SURAT KAPDA MANDI: अब की बार खुल सकता है कपड़ा बाजार

कोरोना संक्रमण पर जन सहयोग से लगने लगी है प्रशासनिक लगाम, सूरत कपड़ा मंडी सशर्त खुलने के बनने लगे हैं आसार

By: Dinesh Bhardwaj

Published: 15 May 2021, 07:59 PM IST

सूरत. सूरत कपड़ा मंडी गत 28 अप्रेल से बंद है और राज्य सरकार के निर्देशों पर यह बंद की अवधि 18 मई मंगलवार तक रहेगी। 22 दिन तक लगातार बंद के बाद राज्य सरकार अगले निर्देशों में सूरत कपड़ा मंडी को सशर्त खोलने की अनुमति दे सकती है। इसकी उम्मीद कोरोना संक्रमण पर जन सहयोग से लगातार मजबूत होती प्रशासनिक पकड़ से बंधने लगी है।
कोरोना महामारी की दूसरी लहर ने सूरत समेत देशभर में तेजी से अपने पैर पसारे थे और करीब एक माह की अवधि के बाद अब इस लहर पर धीरे-धीरे नियंत्रण की स्थिति सूरत में बनती दिखने लगी है। कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण के लिए राज्य सरकार के निर्देशों के बाद सूरत कपड़ा मंडी गत 28 अप्रेल से लगातार बंद है और आगामी 18 मई मंगलवार तक बंद रहेगी। मंगलवार के बाद भी मिनी लॉकडाउन की अवधि को राज्य सरकार बढ़ा सकती है, लेकिन इसके साथ-साथ यह भी उम्मीद बंधने लगी है कि सूरत कपड़ा मंडी को सशर्त खोलने की अनुमति भी मिल सकती है। हालांकि अभी भी देश के अन्य राज्यों में कोरोना महामारी की पकड़ ढीली नहीं पड़ी है और राजस्थान, मध्यप्रदेश, उत्तरप्रदेश, महाराष्ट्र, तमिलनाडू, कर्नाटका समेत अन्य कई राज्यों में लॉकडाउन अथवा मिनी लॉकडाउन की स्थिति बनी हुई है और ऐसे हालात में इन सभी प्रदेशों की कपड़ा मंडियां बंद पड़ी है। इधर, सूरत कपड़ा मंडी के व्यापारियों की अगुवाई करने वाले व्यापारिक संगठनों में अब धीरे-धीरे सभी की मंशा कपड़ा बाजार खुलवाने की बनने लगी है और इसके पीछे कर, बैंकिंग संबंधी काम-काज को मुख्य बताया जा रहा है। वहीं, कुछ व्यापारियों का मानना है कि सूरत कपड़ा मंडी खोलने में फिलहाल किसी का कोई फायदा नहीं है, क्योंकि बाहर की सभी मंडियां बंद है और ऐसी स्थिति में ना तो माल भेजा जा सकता है और ना ही वहां से बकाया पैमेंट इन हालात में आने की उम्मीद ही बचती है।

-चैम्बर ऑफ कॉमर्स ने भी संभाला मोर्चा

सूरत कपड़ा मंडी के रिंगरोड कपड़ा बाजार समेत अन्य बाजार को खुलवाने के लिए पिछले दिनों चैम्बर ऑफ कॉमर्स टैक्सटाइल टास्क फोर्स का गठन कर मोर्चा संभाल चुकी है। इस दौरान संस्था ने कपड़ा बाजार को ऑड-ईवन तरीके से खोलने की अनुमति देने की पैरवी की थी। इसके अलावा कुछ घंटों के लिए कपड़ा बाजार को कोविड-19 की गाइडलाइन के अनुरूप खोले जाने की मांग भी चैम्बर ऑफ कॉमर्स की नवगठित टैक्सटाइल टास्क फोर्स प्रशासन के समक्ष कर चुकी है।

-मुख्यमंत्री से की बातचीत

सूरत कपड़ा मंडी के एक व्यापारिक संगठन का प्रतिनिधिमंडल शनिवार को भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष व नवसारी के सांसद सीआर पाटिल से मिला। इस दौरान प्रतिनिधिमंडल ने पाटिल से 18 मई के बाद कपड़ा बाजार खुलवाने की अनुमति दिलाने में सहयोग की मांग की। इस पर सीआर पाटिल ने प्रदेश के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी से बातचीत की और मुख्यमंत्री ने अगली बैठक में चर्चा कर कपड़ा बाजार खोलने के प्रति सकारात्मक निर्णय लिए जाने के लिए आश्वस्त किया बताया है।

Dinesh Bhardwaj Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned