SURAT KAPDA MANDI: वैक्सीन लेने लगी कतार, उपलब्ध ही नहीं

सुबह छह बजे से ही लोग टैक्सटाइल मार्केट के बाहर हो गए थे जमा

By: Dinesh Bhardwaj

Published: 29 Jun 2021, 08:29 PM IST

सूरत. सूरत कपड़ा मंडी में कोरोना से बचाव के लिए दूसरी बार प्रारम्भ हुआ वैक्सीनेशन प्रोग्राम मंगलवार को वैक्सीन उपलब्ध नहीं हो पाने की वजह से बाधित हुआ और सैकड़ों लोगों को भारी परेशानी झेलनी पड़ी है। रिंगरोड कपड़ा बाजार में करीब आधा दर्जन टैक्सटाइल मार्केट में व्यापारिक सहयोग से वैक्सीनेशन सेंटर गत सोमवार को ही प्रारम्भ किए गए थे और रोजाना की तरह मंगलवार को भी लोग सुबह छह बजे से ही कतार में खड़े हो गए थे, लेकिन समय बीतने पर उन्हें वैक्सीन उपलब्ध नहीं होने की जानकारी मिली और वे निराश होकर लौटे।
कोरोना महामारी की दूसरी लहर से पहले तक सूरत कपड़ा मंडी के कई टैक्सटाइल मार्केट में व्यापारिक सहयोग से कोरोना से बचाव के लिए वैक्सीनेशन सेंटर महानगरपालिका के स्वास्थ्य विभाग की ओर से सुचारु थे। इस बीच दूसरी लहर की भयावह स्थिति में राज्य सरकार ने मिनी लॉकडाउन लगा दिया और सूरत कपड़ा मंडी 21 दिन के लिए बंद हो गई। मिनी लॉकडाउन में रियायत मिलने के बाद रिंगरोड कपड़ा बाजार में व्यापारिक गतिविधि सामान्य होने लगी और पिछले सप्ताह के सोमवार से करीब आधा दर्जन टैक्सटाइल मार्केट में महानगरपालिका ने वैक्सीनेशन सेंटर फिर से सुचारु किए थे। इस बीच अधिकांश सेंटर पर रोजाना तीन सौ-तीन सौ से ज्यादा लोग कोरोना से बचाव के लिए वैक्सीन ले रहे थे और यह सेंटर रघुकुल मार्केट, जेजे मार्केट, गुडलक मार्केट, राधाकृष्ण मार्केट, तिरुपति मार्केट, न्यू टैक्सटाइल मार्केट, रघुवीर मार्केट, आशीर्वाद मार्केट आदि में थे। मंगलवार को भी रोजाना की तरह इन सभी मार्केट के सेंटर के बाहर लोग वैक्सीन लेने के लिए कतार में खड़े हो गए थे और घंटों इंतजार के बाद उन्हें तब निराश होकर लौटना पड़ा जब बताया गया कि वैक्सीन कम मात्रा में उपलब्ध होने की वजह से सेंटर पर वैक्सीन नहीं दी जा सकेगी। हालांकि इस बीच जेजे मार्केट व न्यू टैक्सटाइल मार्केट के वैक्सीनेशन सेंटर पर थोड़ी मात्रा में वैक्सीन उपलब्ध हो पाई और वहां लोगों की अधिक कतारें लगी रही।

Dinesh Bhardwaj Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned