SURAT KAPDA MANDI: सड़कों पर दिखने लगा ग्राहकी का असर

रिंगरोड कपड़ा बाजार में तैयार माल के पार्सलों की ढुलाई में आई तेजी

By: Dinesh Bhardwaj

Published: 28 Oct 2020, 07:55 PM IST

सूरत. लॉकडाउन और कोरोना काल के बीच गुजरे छह माह से अधिक समय के बाद अब सूरत कपड़ा मंडी एक बार फिर से व्यापारिक चहल-पहल से गुलजार होने लगी है। रिंगरोड पर तैयार माल के पार्सलों की ढुलाई देर शाम ही नहीं बल्कि दोपहर में भी दिखने लगी है जो कि कपड़ा कारोबार में आई तेजी की परिचायक गिनी जा रही है।
गत मार्च में लॉकडाउन के साथ ही सूरत के कपड़ा कारोबार पर भी ताला लग गया था जो कि पहले अनलॉक की शुरुआत होने पर एक जून को जाकर खुला। हालांकि तब से लेकर सितम्बर के पहले पखवाड़े तक कपड़ा बाजार में विशेष व्यापारिक हलचल देखने को नहीं मिली। सोशल मीडिया के माध्यम से ही कपड़ा व्यापारी देश की अन्य मंडियों में ज्यादातर व्यापार करते नजर आए, लेकिन इसके बाद सितम्बर के दूसरे पखवाड़े से ही कपड़ा कारोबार ने गति पकड़ी जो कि अक्टूबर में और अधिक बढ़ गई और लगातार जारी है। इसका नतीजा यह रहा कि श्रमिक भी अब काफी संख्या में सूरत कपड़ा मंडी में पहुंच चुके हैं और तैयार माल के पार्सलों की ढुलाई दीपावली व सीमित लग्नसरा सीजन नजदीक होने से दोपहर में भी रिंगरोड पर दिखाई देने लगी है।
इस संबंध में मिलेनियम मार्केट के कपड़ा व्यापारी सुधीर गोयल बताते हैं कि दीपावली के अलावा लग्नसरा सीजन होने से यह ग्राहकी का दौर कपड़ा बाजार में निकला है और अच्छी बात यह है कि अधिकांश कपड़ा व्यापारियों का स्टॉक क्लीयर हो गया है अथवा होने की कगार पर है। पैमेंट में अवश्य दिक्कत है, लेकिन निचली मंडियां खुलने से उसके भी आने की उम्मीद बंध गई है।

Dinesh Bhardwaj Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned