सूरत महानगरपालिका चुनाव - मतदान केन्द्र पर जाने से पहले यह खबर पढ़ी या नहीं...

- पहली बार मतदान केंद्रों पर स्वास्थ्य टीम की तैनाती...सभी मतदाताओं की थर्मल चैकिंग होगी

- सामान्य से अधिक शरीर का तापमान होने पर कोविड-19 टेस्ट और अंतिम एक घंटे में मतदान करने की सुविधा

- ईवीएम का बटन दबाने के लिए मतदाताओं को मिलेंगे यूज एंड थ्रो हैंड ग्लब्स

By: Sanjeev Kumar Singh

Published: 20 Feb 2021, 09:50 PM IST

सूरत.

कोविड-19 महामारी के दौरान पहली बार मतदान केन्द्र पर स्वास्थ्य अधिकारियों की टीमें तैनात की गई है। यह टीम मतदान करने आने वाले प्रत्येक व्यक्ति के टैम्परेचर की जांच करेंगे। सभी मतदाताओं को यूज एंड थ्रो हैंड ग्लब्स दिया जाएगा। मतदान केन्द्र में प्रवेश करने के लिए मास्क पहनना अनिवार्य है।

मनपा स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि प्रत्येक मतदान केन्द्र पर स्वास्थ्य विभाग की टीम नियुक्त की गई है। यह टीम मतदाता के शरीर का तापमान सामान्य से अधिक होने पर उनके लिए विशेष व्यवस्था करेगी। अगर किसी मतदाता के शरीर का तापमान 100.40 फेरेनाइट या अधिक आता है। इसके बाद उन्हें छांव में पन्द्रह मिनट अलग से बैठाया जाएगा। इसके बाद फिर से तापमान जांचा जाएगा। इसके बाद भी अगर तापमान 100.40 से अधिक होता है तो उनसे दूसरी तकलीफ के बारे में जानकारी ली जाएगी। कोविड-19 के दूसरे लक्षण जैसे खांसी, कफ, सिरदर्द, उल्टी, स्वाद या गंध नहीं लगने समेत अन्य जांच की जाएगी। इसमें से कोई भी लक्षण दिखाई देने पर स्वास्थ्य अधिकारी मतदाता की जानकारी अपने नोडल अधिकारी को देंगे। साथ ही उस मतदाता को नजदीक के कोविड-19 टेस्टिंग सेंटर पर भेजा जाएगा। ऐसे मतदाताओं को मतदान केन्द्र के अधिकारी द्वारा मतदान के अंतिम एक घंटे में मतदान करने के लिए टोकन/प्रमाण पत्र दिया जाएगा। ऐसे मतदाता मतदान केन्द्र आने से पहले मास्क, फेसशिल्ड और प्लास्टिक के यूज एंड थ्रो हैंड ग्लब्स पहनकर मतदान करेंगे।

मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन

प्रत्येक मतदान केन्द्र के मुख्य प्रवेश द्वार के पास स्वास्थ्य कर्मचारी, पेरामेडिकल स्टाफ और आशा बहनों द्वारा थर्मलगन द्वारा मतदाताओं का थर्मल चेकिंग की जाएगी। मतदाताओं के हाथ को सेनिटाइज करने के बाद ही उन्हें प्रवेश दिया जाएगा। पुलिस कर्मचारी, होमगार्ड, सिविल डिफेंस, एनसीसी अधिकारियों के द्वारा मतदान केन्द्र की सुरक्षा व्यवस्था चुस्त की गई है। कतार में खड़े होने वाला मतदाता सामाजिक दूरी (सोशल डिस्टेंसिंग) का पालन करते हुए मतदान केन्द्र में प्रवेश करेंगे। मतदान केन्द्र पर व्यवस्था को देखते हुए पुरुष, महिला और वरिष्ठ नागरिकों की अलग-अलग तीन कतार बनाई गई है। दिव्यांग और वरिष्ठ नागरिकों को मतदान केन्द्र में प्रवेश की प्राथमिकता दी जाएगी।

मतदाताओं को मतदाता रजिस्टर में हस्ताक्षर करने और मतदान के लिए बैलेट युनिट का बटन दबाने के लिए एक हैंड ग्लब्स (यूज एंड थ्रो) दिया जाएगा। वहीं मतदाताओं को मास्क पहनने पर ही मतदान केन्द्र में प्रवेश दिया जाएगा। कतार में सभी लोगों को छह फूट (दो गज) की दूरी पर खड़ा होने की हिदायत दी गई है। अधिक संख्या में मतदाताओं के केन्द्र पर पहुंचने पर उन्हें मतदान केन्द्र के बाहर सामाजिक अंतर से अपनी बारी आने की प्रतिक्षा करनी होगी।

Sanjeev Kumar Singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned