SURAT NEWS: 'विश्व की सांस्कृतिक राजधानी बनेगी अयोध्याÓ

-श्रीरामजन्मभूमि तीर्थक्षेत्र ट्रस्ट के कोषाध्यक्ष स्वामी गोविंददेवगिरी महाराज सूरत आए

By: Dinesh Bhardwaj

Published: 12 Feb 2021, 08:07 PM IST

सूरत. वाल्मीकि रामायण में वाल्मीकिजी महाराज ने लिखा है कि जहां राम रहेंगे, वहां राष्ट्र रहेगा। लोगों से प्रेम करने वाले राम है और यहां धर्म राम है और राष्ट्र भी राम है। विश्व की सांस्कृतिक राजधानी अयोध्या को बनते हुए जल्द दुनिया देखेगी। यह बात शुक्रवार शाम श्रीरामजन्मभूमि तीर्थक्षेत्र ट्रस्ट के कोषाध्यक्ष स्वामी गोविंददेवगिरी महाराज ने सूरत में कही। स्वामी यहां सिटीलाइट क्षेत्र स्थित माहेश्वरी भवन में संवाददाता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे।
संवाददाता सम्मेलन में श्रीरामजन्मभूमि तीर्थक्षेत्र ट्रस्ट के कोषाध्यक्ष स्वामी गोविंददेवगिरी महाराज ने कहा कि पवित्र अयोध्याधाम में साकार हो रहे श्रीरामजन्मभूमि मंदिर निर्माण के प्रथम चरण में परकोटा मंदिर तैयार होगा और अयोध्या को वैदिक सिटी बनाने की तैयारी है। यहां पर सम्पूर्ण भारतीय संस्कृति की झलक देश-विदेश के लाखों श्रद्धालुओं को रोजाना देखने को मिलेगी। भारत के सभी पड़ौसी देशों के श्रीरामभक्त यहां आकर मेहमान बनेंगे और मेजबान स्वयं रामजी होंगे। श्रीराम मंदिर से राष्ट्र मंदिर निर्माण का कार्य निरंतर चलता रहेगा और सर्वे भवंतु सुखिन, सर्वे संतु निरामया...के भाव से देश के जन-जन की भावना पवित्र धाम से जुड़ रही है। इसमें मुस्लिम समाज व ईसाई समाज भी बड़े श्रद्धाभाव के साथ सहयोग कर रहा है। महाराज ने आगे कहा कि श्रीराम मंदिर निर्माण में जिस तरह से देशभर में आस्था का ज्वार उमड़ रहा है, उसमें देश का उज्जवल भविष्य स्पष्ट दिखाई पड़ता है।

-और कूपन नहीं छपवाएंगे

सम्मेलन में बातचीत के दौरान स्वामी ने बताया कि देशभर में जारी श्रीरामजन्मभूमि मंदिर निर्माण समर्पण निधि अभियान में प्रतिदिन शाम को दिनभर की संग्रहित निधि की जानकारी मिल जाती है और अभी तक एक हजार पांच सौ ग्यारह करोड़ की समर्पण निधि संग्रहित हो चुकी है। अब नए कूपन नहीं छपवाए जाएंगे। देशभर में अभियान को जन-जन तक पहुंचाने के लिए श्रीरामजन्मभूमि तीर्थक्षेत्र ट्रस्ट की ओर से 10, 100 व 1000 रुपए के 10 करोड़ कूपन छपवाए गए थे।

-वेल एंड गुड वर्क

सूरत में 11 व 16 वर्ष की दो बेटियों ने बालव्यास के रूप में श्रीराम व श्रीकृष्ण कथा के प्रसंग सुनाकर श्रीरामजन्मभूमि मंदिर निर्माण समर्पण निधि अभियान में अनूठा योगदान दिया। भाविका व कृष्णा के बारे में श्रीरामजन्मभूमि तीर्थक्षेत्र ट्रस्ट के कोषाध्यक्ष स्वामी गोविंददेवगिरी महाराज ने जानने के बाद प्रशंसनीय बताते हुए कहा कि वेल एंड गुड वर्क। देशभर में अभियान में सहयोग के सिलसिले की जानकारी मिली है जो सराहनीय है।

Show More
Dinesh Bhardwaj Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned