SURAT NEWS: बच्चों के प्रयास को दक्षिण अफ्रीका से भी मिला सहयोग

31 अक्टूबर तक आयोजित सिताराथॉन में भारत समेत दुनिया के छह सौ प्रतियोगी शामिल, जाम्बिया के अप्रवासियों ने भेजी सहयोग राशि

 

By: Dinesh Bhardwaj

Published: 29 Oct 2020, 08:42 PM IST

सूरत. एक-दूसरे से कभी नहीं मिले बच्चों में पढऩे-लिखने की उम्र में भी जो सेवाभाव का जज्बा दिखा तो भला इसमें बड़े कैसे पीछे रहते और हुआ भी यहीं। दक्षिण अफ्रीका के जाम्बिया में बसे अप्रवासी भारतीयों ने ना केवल अनूठी वर्चुअल सिताराथॉन में भाग लिया बल्कि केंसर पीडि़तों के सहायतार्थ धनराशि भी भेजी है।
सूरत के 15 से 19 वर्ष की उम्र के कक्षा 10 से 12 में पढऩे वाले 13 बच्चों ने सितारा फाउंडेशन बनाकर बेहतर सेहत के साथ-साथ सेवाभाव के संदेश को जन-जन तक पहुंचाने की सिताराथॉन योजना बनाई। योजना के मुताबिक नौ दिवसीय वर्चुअल सिताराथॉन को तीन कैटेगरी मैराथन, साइक्लोथॉन व ड्यूएथ्लॉन के अलावा पेटाथॉन रखी गई। 23 अक्टूबर से आयोजित यह अनूठी वर्चुअल सिताराथॉन 31 अक्टूबर शनिवार तक जारी रहेगी और इसमें भारत समेत दुनिया के कई देशों से कुल छह सौ प्रतियोगियों ने अलग-अलग कैटेगरी में रजिस्टे्रशन करवाया है और भाग ले रहे हैं। इस अनूठी इवेंट्स में अलग-अलग देश में बसे अप्रवासी भारतीय समूह के रूप में भाग ले रहे हैं। इन्हीं में दक्षिण अफ्रीका के जाम्बिया अप्रवासी भारतीय भी शामिल है।


सिताराथॉन की रोचक इवेंट्स


23 से 31 अक्टूबर तक नौ दिवसीय वर्चुअल सिताराथॉन को रोचक बनाने के लिए इसमें मेराथन, साइक्लोथॉन, ड्यूएथ्लॉन व पेटाथॉन इवेंट शामिल हैं। इसमें मेराथन ऑपन केटेगरी में 2, 5, 10, 21 व 42 किमी, साइक्लोथॉन ऑपन केटेगरी में 10, 20, 30, 50 व 100, ड्यूएथ्लॉन में 2.5 किमी रन, 10 किमी साइकिलिंग व 2.5 किमी रन तथा 5 किमी रन, 25 किमी साइकिलिंग व 5 किमी रन शामिल है। इसके अलावा चौथी इवेंट््स पेटाथॉन में प्रतियोगी घर में या बाहर अपने पेट (पालतु कुत्ते-बिल्ली) के साथ उनकी क्षमता के अनुसार दौड़ में शामिल है।


सभी बच्चों में खासी उम्मीद बंधी


केंसर पीडि़तों के सहयोगार्थ सिताराथॉन के प्रति लोगों को इस तरह का प्रतिसाद रहेगा, यह विचार नहीं किया था। भारत ही नहीं दुनिया के देशों से मिलते सहयोग से अब हम सभी बच्चों में एक खासी उम्मीद बंध गई है।
कविशी हलवावाला, सितारा फाउंडेशन, फाउंडर।

बच्चों का उद्देश्य अच्छा


सूरत से ही होम्योपैथी कर जाम्बिया में यूनिटी ग्रुप ऑफ कंपनी की ऑनर स्वाति शाह ने बताया कि इस मैराथन के बारे में नवसारी निवासी उनके मित्र डॉ. नीलू मोदी व अजय मोदी ने बताया था और उसके बाद यहां पर अपने मित्र समूह को सिताराथॉन व उसके उद्देश्य की जानकारी दी। इसके बाद यहीं पर 50 सदस्यों ने रजिस्ट्रेशन करवाया और एक बार भाग ले चुके हैं और दूसरी बार रविवार को फिर से अलग-अलग इवेंट्स में शामिल होंगे। यहां का कानिनी स्पोट्र्स क्लब ने केंसर पीडि़तों की मदद में आगे आकर अभी तक 40 हजार की धनराशि एकत्र की है, जो सूरत के सिविल होस्पीटल के केंसर पीडि़तों को दी जाएगी। यहां पर अप्रवासी समेत स्थानीय मित्र सिताराथॉन की अलग-अलग इवेंट्स में शामिल है।

SURAT NEWS: बच्चों के प्रयास को दक्षिण अफ्रीका से भी मिला सहयोग
Dinesh Bhardwaj Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned