SURAT NEWS DAYRI: सैकड़ों यात्री पैदल पहुंचे माजीसा धाम

श्रीमाजीसा मातारानी भटियाणी के अवतरण दिवस भाद्रपद शुक्ल सप्तमी के अवसर पर सोमवार को श्रीमाजीसा मातारानी भटियाणी ट्रस्ट की ओर से पैदल यात्रा का आयोजन किया गया

By: Dinesh Bhardwaj

Published: 13 Sep 2021, 08:30 PM IST

सूरत. श्रीमाजीसा मातारानी भटियाणी के अवतरण दिवस भाद्रपद शुक्ल सप्तमी के अवसर पर सोमवार को श्रीमाजीसा मातारानी भटियाणी ट्रस्ट की ओर से पैदल यात्रा का आयोजन किया गया। यात्रा में शामिल सैकड़ों श्रद्धालु महिला-पुरुष पदयात्री नाचते-गाते माजीसा के जयकारे लगाते बलेश्वर स्थित निर्माणाधीन श्रीमाजीसा धाम पहुंचे।
ट्रस्ट के अध्यक्ष पुखराज संकलेचा ने बताया कि यात्रा की शुरुआत सोमवार तड़के परवत पाटिया स्थित घंटियाला बालाजी मंदिर से माजीसा के जयकारों के साथ की गई थी। यात्रा में शामिल सैकड़ों श्रद्धालु महिला-पुरुष बारिश में भीगते हुए माजीसा के जयकारे लगाते हुए गोडादरा रोड, देवध गांव, कड़ोदरा होकर बलेश्वर स्थित निर्माणाधीन श्रीमाजीसा धाम पहुंचे। इस दौरान मार्ग में जगह-जगह श्रद्धालु पदयात्रियों का स्वागत व अल्पाहार की व्यवस्था भी की गई। श्रीमाजीसा धाम प्रांगण में यात्रा के पहुंचने पर सभी का स्वागत ट्रस्ट मंडल के पदाधिकारियों के अलावा महानगरपालिका की स्लम इम्प्रूवमेंट कमेटी चेयरमैन दिनेश राजपुरोहित, बजरंगसिंह राजपुरोहित समेत अन्य आमंत्रित मेहमानों ने भी किया।

संत का धर्मशाला प्रस्थान


सूरत. लम्बे अंतराल के बाद अजमेर से सूरत आए स्वामी ब्रह्मानंद शास्त्री महाराज ने सिटीलाइट स्थित प्रेमप्रकाश आश्रम में कई दिनों की प्रवचन शृंखला को पूर्ण कर धर्मशाला स्थित प्रेमप्रकाश स्वर्गाश्रम की ओर सोमवार को प्रस्थान किया है। इस संबंध में प्रेमप्रकाश आश्रम ट्रस्ट से जुड़े शोभाराम गुलाबवानी ने बताया कि प्रेम प्रकाश मंडल के वर्तमान अध्यक्ष सतगुरु स्वामी भगतप्रकाश महाराज ने हिमाचलप्रदेश के धर्मशाला में प्रेमप्रकाश स्वर्गाश्रम का निर्माण करवाया है। स्वामी ब्रह्मानंद शास्त्री ने सोमवार को धर्मशाला के लिए प्रस्थान करने से पूर्व सिटीलाइट स्थित प्रेमप्रकाश आश्रम में प्रवचन के दौरान श्रद्धालुओं को बताया कि मनुष्य जन्म का सच्चा लाभ तब है जब वह ज्ञान प्राप्ति कर लें। इंसान इंसानियत के बगैर अधूरा है और मनुष्य जन्म परमात्मा की कृपा से इसीलिए मिलता है।

SURAT NEWS DAYRI: सैकड़ों यात्री पैदल पहुंचे माजीसा धाम
Dinesh Bhardwaj Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned