SURAT NEWS: किसान नेता टिकैत को देना पड़ गया धरना

-प्रशासनिक अनुमति के अभाव में पुलिस ने रोका और कार्यकर्ताओं को डिटेन किया, विरोध में कार से नीचे उतरे किसान नेता

By: Dinesh Bhardwaj

Published: 05 Apr 2021, 07:58 PM IST

सूरत. लौहपुरुष सरदार वल्लभभाई पटेल की कर्मभूमि बारडोली में किसान महापंचायत को संबोधित करने आए किसान नेता राकेश टिकैत समेत अन्य को कीम टोल नाके के निकट सोमवार को तब धरना प्रदर्शन करना पड़ गया जब पुलिस ने कुछ कार्यकर्ताओं को अनुमति के अभाव में डिटेन कर लिया। हालांकि बाद में कार्यकर्ताओं को छोड़ दिया गया और फिर किसान नेताओं के स्वागत के बाद सभी बारडोली के लिए रवाना भी हो गए।
केंद्र सरकार के कृषि कानून के विरोध में कई दिनों से दिल्ली में धरना प्रदर्शन कर रहे किसानों की अगुवाई कर रहे भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत, राष्ट्रीय महासचिव युद्धवीरसिंह आदि नेता रविवार से दो दिवसीय गुजरात दौरे पर आए हुए थे। सोमवार को यह सभी नेता अहमदाबाद में साबरमती आश्रम के दर्शन कर दोपहर में वड़ोदरा पहुंचे और बाद में बारडोली जाने के लिए सूरत जिले की सीमा में कीम टोलनाका आए। यहां पर सर्व राजस्थानी समाज की ओर से किसान नेताओं का स्वागत किया जाना था, लेकिन उससे पहले ही पुलिस ने अनुमति के अभाव में कार्यक्रम करने से कार्यकर्ताओं को रोका और ज्यादा विरोध होने पर कुछ कार्यकर्ताओं को डिटेन कर लिया गया। इसी दौरान किसान नेता टिकैत समेत अन्य भी कीम टोलनाका पहुंच गए और उन्हें घटना की जानकारी होने पर कार्यकर्ताओं को तत्काल छोडऩे की मांग के साथ वाहनों का काफिला वहीं रोक प्रशासन का विरोध शुरू कर दिया। इस दौरान टोलनाके के दोनों तरफ वाहनों की लम्बी कतार लग गई और बाद में पुलिस ने स्थिति को समझते हुए डिटेन कार्यकर्ताओं को छोड़ा। इसके बाद सर्व राजस्थानी समाज के कार्यकर्ताओं ने किसान नेता राकेश टिकैत, युद्धवीरसिंह समेत अन्य का स्वागत किया और फिर बारडोली के लिए रवाना हुए। रास्ते में कामरेज चौराहे पर पटेल समाज की ओर से भी किसान नेताओं का स्वागत किया गया। अपराह्न बाद बारडोली स्थित स्वराज आश्रम में किसान महापंचायत को संबोधित कर किसान नेता राकेश टिकैत समेत अन्य सूरत एयरपोर्ट से दिल्ली के लिए रवाना हुए।

Show More
Dinesh Bhardwaj Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned