SURAT NEWS:आवासीय सोसायटी में पौधारोपण से हरित प्रदेश अभियान शुरू

राजस्थान पत्रिका ने हरित प्रदेश अभियान की शुरुआत

नेशन फस्र्ट फाउंडेशन के सहयोग से शहर में वेसू की नंदिनी-1 सोसायटी समेत अन्य आवासीय सोसायटी में सौ से ज्यादा पौधे रोपे

By: Dinesh Bhardwaj

Published: 07 Jul 2019, 09:23 PM IST

सूरत. ग्रीष्मकाल में अमृतं जलम् अभियान के बाद मानसून की शुरुआत होते ही राजस्थान पत्रिका ने हरित प्रदेश अभियान की शुरुआत देशभर में कर दी है। इस शृंखला में सूरत संस्करण में भी नेशन फस्र्ट फाउंडेशन के सहयोग से हरित प्रदेश अभियान की शुरुआत रविवार से की गई है। हरित प्रदेश अभियान की शुरुआत रविवार सुबह शहर के वेसू इलाके की आवासीय सोसायटी से की गई।
हरित प्रदेश अभियान के अन्तर्गत राजस्थान पत्रिका की ओर से पर्यावरण को हरा-भरा बनाने के उद्देश्य से विभिन्न सामाजिक-धार्मिक संस्थाओं के सहयोग से सूरत समेत दक्षिण गुजरात में पौधारोपण पर जोर दिया जा रहा है। रविवार को इस सिलसिले में नेशन फस्र्ट फाउंडेशन के सहयोग से शहर में वेसू की नंदिनी-1 सोसायटी समेत अन्य आवासीय सोसायटी में सौ से ज्यादा पौधे रोपे गए। संस्था के महेश चांडक ने बताया कि राजस्थान पत्रिका के सहयोग से सूरत महानगरपालिका के ग्रीन सूरत कॉन्सेप्ट पर शहर की आवासीय सोसायटी समेत अन्य जगहों पर पौधारोपण की शुरुआत की है। सोसायटी समेत अन्य जगहों पर रोपे जाने वाले पौधों में नीम, गुलमोहर, जामुन, सीताफल, अमरुद, आसोपालव, रेनट्री आदि प्रजातियों के शामिल है। रविवार सुबह आयोजित पौधारोपण के दौरान सोसायटी के बच्चों से लेकर बुजुर्ग तक उत्साह के साथ शामिल हुए। इस अवसर पर राकेश पाटनेचा, सन्दीप लड्ढा, विशाल राठी, राजेश माहेश्वरी, कैलाश केजरीवाल, कैलाश सारड़ा, बसन्त सोमानी, सुनील सरावगी, निर्मला सारड़ा, कविता चांडक आदि मौजूद थे।


पौधा लगाकर मनाया जन्मदिन


राजस्थान पत्रिका के हरित प्रदेश अभियान की शुरुआत में रविवार सुबह वेसू की नंदिनी-1 आवासीय सोसायटी परिसर में नेशन फस्र्ट फाउंडेशन के सहयोग से पौधे रोपे गए। इस दौरान तीन वर्षीय बालक अर्पण सारड़ा ने रविवार को अपना जन्मदिन पौधा रोपने में अपने परिजनों की मदद कर अनूठे तरीके से मनाया। बालक अर्पण के प्रयासों की सभी ने सराहना की।

Dinesh Bhardwaj Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned