scriptSURAT NEWS: Said in a simple-attractive manner, Hindi has got employme | SURAT NEWS: सरल-मोहक अंदाज में कहा, हिन्दी से मिला है रोजगार | Patrika News

SURAT NEWS: सरल-मोहक अंदाज में कहा, हिन्दी से मिला है रोजगार

-उद्घाटन सत्र के बाद दूसरे व तीसरे सत्र में वक्ताओं ने हिन्दी की विकास यात्रा और युवाओं में गर्व की अनुभूति का शब्दों से करवाया एहसास...

सूरत

Published: September 14, 2022 09:07:18 pm

सूरत. हिन्दी सिनेमा के अभिनेता पंकज त्रिपाठी ने बुधवार को तीसरे सत्र में मजाकिया लहजे में बात की शुरुआत करते हुए कहा कि आज मुझे किसी ने लिखकर नहीं दिया है, स्वयं ही बोल रहा हूं तो समझ नहीं आ रहा है क्या बोलूं और क्या नहीं? यहां बैठे सभी लोग प्रेरित है और मुझे इन्हें प्रेरित करने का न्योता गृह मंत्रालय ने दे दिया, यहां सब बड़े हैं मुझे तो आपसे सीखना है। आज मनभावन हुआ है, जेठ में सावन हुआ है...पंक्ति के समान मेरे साथ हो गया है। अभिनेता त्रिपाठी से पहले केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड के अध्यक्ष प्रसून जोशी ने बताया कि हिन्दी सिनेमा में शुटिंग के दौरान रोल, एक्शन, कैमरा...के बाद बोले जाने वाले डायलॉग में हिन्दी तो होती है, लेकिन वह केवल एक्टिंग तक ही सीमित रहती है। अब इससे बाहर निकलने की सभी के लिए जरूरत है। हिन्दी के प्रति सभी को उदार होकर आगे बढऩा चाहिए और खासकर हिन्दी सिनेमा। इस अवसर पर जोशी ने कुछ गीतों की पंक्तियां सुनाकर हिन्दी के शब्दों के भावों की गहराई भी लोगों को समझाई। जोशी के बाद आईएएस गंगासिंह व निशांत जैन ने भी संबोधित किया और कहा कि हिन्दी में समृद्धजन ज्यादातर छोटे-छोटे गांवों से निकलकर बड़े शहरों में पहुंचे हैं। इन सभी ने हिन्दी को मजबूरी नहीं बल्कि मजबूती बनाकर लोगों के समक्ष अपनी पहचान स्थापित की है। तीसरे सत्र के अंत में अभिनेता पंकज त्रिपाठी ने हल्का-फुल्का मनोरंजन करते हुए कहा कि कक्षा 10 तक मेरे गृहनगर में मुझे कोई नहीं जानता था और हिन्दी की बदौलत आज गृह मंत्रालय वालों ने मेहमान बनाया है। हिन्दी से मेरा रोजगार है। इससे कमाता हूं, खाता हूं और आचरण भी हिन्दी का ही रखता हूं। यहां त्रिपाठी ने खुले मन से हिन्दी सिनेमा की आलोचना करते हुए बताया कि हिन्दी सिनेमा में अंग्रेजी का प्रभाव रहता है। मैं तो देवनागरी में ही स्क्रिप्ट लेता हूं क्योंकि पढऩे व याद करने में आसान होती है। इस मौके पर पंकज त्रिपाठी ने इंडोर स्टेडियम में मौजूद देशभर के राजभाषा अधिकारियों की मांग पर उनके कुछ चिर-परिचित फिल्मी डायलॉग भी सुनाए।
SURAT NEWS: सरल-मोहक अंदाज में कहा, हिन्दी से मिला है रोजगार
SURAT NEWS: सरल-मोहक अंदाज में कहा, हिन्दी से मिला है रोजगार

-राजभाषा हिन्दी की विकास-यात्रा सुनाई


अखिल भारतीय राजभाषा सम्मेलन के पहले दिन दूसरे सत्र में राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश, संसदीय राजभाषा समिति के उपाध्यक्ष भतृहरि महताब व समिति के पूर्व उपाध्यक्ष डॉ. सत्यनारायण जटिया ने विगत 75 वर्ष में राजभाषा हिन्दी की विकास-यात्रा के बारे में विस्तार से जानकारी दी। इस दौरान सभी वक्ताओं ने 2014 से पहले तक संसद में राज्यसभा व लोकसभा में होने वाली संसदीय कार्यवाही व उसमें बोली जाने वाली राजभाषा के सीमित-असीमित प्रयोग की भी जानकारी दी। सत्र में बताया गया कि 2014 के बाद से संसद में लगातार हिन्दी को प्राधान्य दिया जा रहा है।

-आज के सत्र में यह विषय शामिल


सम्मेलन के दूसरे दिन गुरुवार को तीसरे सत्र की शुरुआत सुबह सवा नौ बजे से महात्मा गांधी का भाषा चिंतन और राष्ट्र के एकीकरण में सरदार पटेल का योगदान विषय पर होगी। इसमें उत्तरप्रदेश विधानसभा के अध्यक्ष हृदयनारायण दीक्षित, सांसद रीता बहुगुणा जोशी, दक्षिण भारत हिन्दी प्रचार सभा के पूर्व कुलपति प्रो. राममोहन पाठक व गुजरात केंद्रीय विश्वविद्यालय, गांधीनगर के कुलपति प्रो. आरएस दुबे वक्तव्य देंगे। चौथा सत्र भाषाई समन्वय का आधार है हिन्दी...विषय पर होगा और इसमें सांसद पूनमबेन, जमयांग सेरिंग नामग्याल, तेजस्वी सूर्या व वरिष्ठ पत्रकार आलोक मेहता उद्बोधन करेंगे। पांचवें व अंतिम सत्र में भारतीय सिनेमा और हिन्दी विषय पर फिल्म निर्माता डॉ. चंद्रप्रकाश द्विवेदी व महेश मांजरेकर तथा भारतीय जनसंचार संस्थान के महानिदेशक प्रो. संजय द्विवेदी संबोधित करेंगे।

-राजभाषा एसोसिएशन ने गृहमंत्री के बयान को उत्साहजनक बताया


सचिवालय राजभाषा कैडर के अधिकारी एसोसिएशन के अध्यक्ष और गृह मंत्रालय में निदेशक राकेशकुमार ने गृहमंत्री अमित शाह के राजभाषा के साथ स्थानीय भाषा का भी विकास के बयान को उत्साहजनक बताया है। उन्होंने कहा कि इससे गैर-हिंदी भाषियों में अच्छा संदेश जाएगा और यह विचार समावेशी विकास की अवधारणा के अनुरूप है। सभी भाषाओं के समृद्ध होने से हिंदी ही समृद्ध होगी। एसोसिएशन के महासचिव और गृह मंत्रालय में सहायक निदेशक दिनेशकुमार सिंह ने कहा कि मौजूदा सरकार में गृह मंत्रालय में पूरा कामकाज हिंदी में हो रहा है और एसोसिएशन को उम्मीद है कि अमित शाह के नेतृत्व में हिंदी के मामले में कोई असाधारण निर्णय लिया जा सकता है। कंठस्थ 2.0 टूल गूगल से बेहतर विकल्प साबित होगा तथा इससे हिंदी के प्रयोक्ताओं के लिए अब अधिक विकल्प उपलब्ध हो सकेंगे।

-अखिल भारतीय राजभाषा सम्मेलन के साथ-साथ...


-डिजीटल हिन्दी शब्दकोष हिन्दी शब्द सिंधु-1 का लोकार्पण
-अनुवाद टूल कंठस्थ-2.0 का लोकार्पण
-इसरो की यात्रा का वहां के वैज्ञानिकों द्वारा लिखित काव्य गाथा का विमोचन
-राजभाषा कीर्ति व गौरव पुरस्कार से विभिन्न विभाग के 13 अधिकारियों का सम्मान
-प्रसुन जोशी, मनोज तिवारी, चिराग पासवान समेत अन्य बने आकर्षण
-अमित शाह मंच से नीचे आकर सभी आमंत्रित वक्ताओं से भी मिले
-अमित शाह के मंच छोडऩे से पहले ही गुजरात सरकार के मंत्री व विधायक स्टेडियम से बाहर निकले
-मंच पर गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल, केंद्रीय गृहराज्यमंत्री निशिथ प्रामाणिक, रेल व वस्त्र राज्यमंत्री दर्शना जरदोष, गुजरात के गृहराज्यमंत्री हर्ष संघवी भी रहे मौजूद
-इंडोर स्टेडियम में देशभर से 9 हजार राजभाषा अधिकारी व हिन्दी के विद्वजन रहे मौजूद
-दो दिवसीय अखिल भारतीय राजभाषा सम्मेलन के पहले दिन उद्घाटन सत्र समेत तीन सत्र आयोजित
-गुरुवार को भी होंगे तीन सत्र, कई वक्ताओं का होगा संबोधन

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये

बड़ी खबरें

Swachh Survekshan 2022: लगातार छठी बार देश का सबसे साफ शहर बना इंदौर, सूरत दूसरे तो मुंबई तीसरे स्थान परअब 2.5 रुपये/किलोमीटर से ज्यादा दीजिए सिर्फ रोड का टोल! नए रेट लागूकांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए KN त्रिपाठी का नामांकन पत्र रद्द, मल्लिकार्जुन खड़गे और शशि थरूर में मुकाबला41 साल के शख्स को 142 साल की जेल, केरल की अदालत ने इस अपराध में सुनाई यह सजाBihar News: बिहार में और सख्त होगी शराबबंदी, पहली बार शराब पीते पकड़े गए तो घर पर चस्पा होंगे पोस्टर, दूसरी और तीसरी बार में मिलेगी ये सजास्वच्छता अभियान 2022 शुरू, 100 लाख किलो प्लास्टिक जमा करने का लक्ष्यसैनिटरी पैड के लिए IAS से भिड़ने वाली बिहार की लड़की को मुफ्त मिलेगा पैड, पढ़ाई का खर्च भी शून्यएयरपोर्ट पर 'राम' को देख भावुक हो गई बुजुर्ग महिला, छूने लगी अरुण गोविल के पैर, आस्था देख छलके आंसू
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.