SURAT NEWS: सूरत का कपड़ा व्यापारी धरने पर बैठा

-खाटूधाम में फाल्गुन मेले पर लगाई प्रशासनिक पाबंदियों पर जताई आपत्ति

By: Dinesh Bhardwaj

Published: 04 Mar 2021, 08:11 PM IST

सूरत. सूरत कपड़ा मंडी के युवा व श्यामप्रेमी कपड़ा व्यापारी खाटूधाम में आयोजित फाल्गुन मेले में प्रशासनिक पाबंदियों के विरोध में गुरुवार को धरना प्रदर्शन किया। इस दौरान व्यापारी के परिजन भी प्रदर्शन में शामिल रहे।
राजस्थान सरकार ने कोरोना महामारी को ध्यान में रख खाटूधाम में आयोजित फाल्गुन मेले में कई तरह की पाबंदियां लगाई है। इन पाबंदियों का शुरू से ही खाटूश्यामजी समेत देशभर के श्यामभक्तों ने विरोध जताया था और इस बीच खाटूधाम में फाल्गुन शुक्ल प्रतिपदा से मेले का माहौल भी बनने लगा है। खाटूधाम में फाल्गुन मेले पर लगाई पाबंदियों से लाखों श्यामभक्तों की धार्मिक आस्था को ठेस पहुंच रही है और इससे नाराज सूरत के कपड़ा व्यापारी सुधीर गोयल ने गुरुवार को खाटूधाम के निकट धरना प्रदर्शन शुरू किया है। इस संबंध में गोयल ने बताया कि खाटूश्यामजी दर्शन के लिए आ रहे श्रद्धालुओं को कोविड-19 की गाइडलाइन के नाम पर जबरन परेशान किया जा रहा है और उनकी धार्मिक भावना से खिलवाड़ राज्य सरकार कर रही है। धरना प्रदर्शन में गोयल के साथ उनकी पत्नी नूतन गोयल भी शामिल है और उन्होंने बताया कि राजस्थान सरकार को श्रद्धालुओं की धार्मिक भावना को समझना चाहिए और फाल्गुन शुक्ल सप्तमी से पहले सभी तरह की पाबंदियां हटा लेनी चाहिए। एक तरफ राजनीतिक पार्टियों की सभा, जुलूस आदि आयोजनों में किसी तरह की कोविड-19 की पाबंदी नहीं है और बाबा श्याम के फाल्गुन मेले में सभी तरह की पाबंदियां लगाए जाने से गहलोत सरकार की मंशा पर भी संदेह होता है। गुरुवार को सूरत के कपड़ा व्यापारी गोयल ने परिवार के साथ रींगस में परसरामपुरिया धर्मशाला के पास दीप प्रज्ज्वलन कर धरना प्रदर्शन की शुरुआत की है।

Dinesh Bhardwaj Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned