Surat News न्यू सिविल में डॉक्टरों की कार को ट्रैफिक पुलिस क्रेन ने किया लॉक

अस्पताल परिसर में पानी भरने के कारण डॉक्टरों ने जहां-तहां पार्क किए थे वाहन

By: Sanjeev Kumar Singh

Published: 07 Jul 2019, 08:05 PM IST

सूरत.

न्यू सिविल अस्पताल परिसर में शुक्रवार सुबह बारिश का पानी जमा होने से वाहन चालकों को काफी परेशानी हुई। डॉक्टर्स मेन रोड पर वाहन पार्क कर ओपीडी में चले गए। ट्रैफिक पुलिस क्रेन लेकर परिसर में आई और पांच-छह कारों पर लॉक लगा दिया। सभी डॉक्टर्स तथा अन्य लोगों के जुर्माना भरने के बाद कारें छोड़ी गईं।

 

 

शहर की शैक्षणिक संस्थाओं के कैम्पस में शहर पुलिस का दखल नहीं के बराबर होता है, लेकिन दक्षिण गुजरात के सबसे बड़े सरकारी न्यू सिविल अस्पताल में आए दिन ट्रैफिक पुलिस के जवान क्रेन लेकर आते हैं और कैम्पस में जहां-तहां नो पार्किंग में खड़े वाहनों को लॉक मार कर उनके मालिकों से जुर्माना वसूलते हैं। शहर में शुक्रवार सुबह से तेज बारिश हो रही थी। न्यू सिविल अस्पताल परिसर में सडक़ पर पानी भर गया।

 

 

इससे पार्किंग क्षेत्र में जाने वाला रास्ता ब्लॉक हो गया। मेडिसिन विभाग के ओपीडी में ड्यूटी के लिए आए कुछ प्रोफेसर डॉक्टरों अपनी कार मेन रोड पर जहां-तहां पार्क कर चले गए। ऑन ड्यूटी सिक्यूरिटी गार्ड ने डॉक्टरों को वाहन पार्क करने से रोका, लेकिन डॉक्टर्स ने उसे धमका कर चुप कर दिया। सिक्यूरिटी गार्ड डॉक्टरों की शिकायत लेकर अस्पताल अधीक्षक कार्यालय पहुंचा। इंचार्ज अधीक्षक डॉ. गणेश गोवेकर ने ट्रैफिक पुलिस शाखा को सूचना दी और क्रेन लेकर अस्पताल आने को कहा।

 

 

ट्रैफिक पुलिस के जवान क्रेन लेकर अस्पताल पहुंचे और पांच-छह कारों पर लॉक लगा दिया। इसकी खबर डॉक्टर्स तक पहुंची तो उन्होंने प्रशासन के खिलाफ नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने पुलिस को जुर्माना भरकर अपनी कार छुड़वाई। उल्लेखनीय है कि न्यू सिविल अस्पताल में वाहन पार्किंग के लिए अलग-अलग जगह निर्धारित है।

 

 

इसके बावजूद डॉक्टर्स तथा अन्य लोग नो पार्किंग में वाहन खड़ा कर चले जाते हैं। इससे एम्बुलेंस तथा अधिकारियों के वाहन को आने-जाने में दिक्कत होती है। पुलिस ने शुक्रवार को कुछ कारों को तो लॉक कर दिया, लेकिन रेडियोलॉजी विभाग के सामने खड़ी इंचार्ज अस्पताल अधीक्षक समेत दो जनों की कारों को छोड़ दिया।

Sanjeev Kumar Singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned