SURAT NEWS: जम्मू-कश्मीर व लेह-लद्दाख को बना दो केंद्रशासित प्रदेश

प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को लिखा पत्र

By: Dinesh Bhardwaj

Published: 01 Jul 2019, 08:15 PM IST

दमण. जम्मू-कश्मीर की ज्वलंत समस्या के निपटारे के लिए अनिवासी भारतीयों के एक समूह ने जम्मू-कश्मीर व लेह-लद्दाख को केंद्रशासित प्रदेश बना देने की मांग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व गृहमंत्री अमित शाह से की है।
एनआरआई ग्रुप लंदन के कन्वीनर केशव बटाक ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं गृहमंत्री अमित शाह को पत्र लिखकर जम्मू-कश्मीर राज्य का विभाजन करके जम्मू-कश्मीर एवं लेह-लद्दाख को अलग-अलग करके केन्द्रशासित प्रदेश बनाने की मांग की है। बटाक ने पत्र में बताया कि भारत की राष्ट्रप्रेमी जनता ने एक बार फिर मोदी सरकार को सत्ता सौंपी है, तब भारत में बसने वाले और विदेश में बसने वाले मूल निवासी भारतीय कश्मीर की समस्या का स्थायी समाधान चाहते है। कश्मीर को लेकर एनआरआई को भी चिन्ता रहती है। जम्मू-कश्मीर एवं लेह-लद्दाख के विषय पर पिछले 31 वर्षों में किसी ने नहीं सोचा है। पत्र में बटाक ने बताया कि केंद्र सरकार ऐसा साहसिक निर्णय ले कि जम्मू-कश्मीर एवं लेह-लद्दाख को अलग-अलग करके तीन प्रदेशों को केन्द्र शासित प्रदेश बना दिया जाए और इन प्रदेशों पर केन्द्र सरकार का सीधा नियंत्रण हमेशा के लिए रखा जाए। इसके साथ इन प्रदेशों में उप राज्यपाल और यूटी कैडर के अधिकारियों की नियुक्ति भी की जाए। जम्मू-कश्मीर के विकास के लिए दी जाने वाली राशि का अभी तक दुरुपयोग हो रहा है, इसे केंद्रशासित प्रदेश बनाकर नियंत्रण में रखा जा सकता है।

बरगद का पेड़ गिरा


भारी बरसात के कारण मोटी दमण में प्रशासक के आवास के निकट वर्षों पुराना बरगद का पेड़ धराशायी हो गया। बरगद के गिरने के कारण मोटी दमण सरकारी अस्पताल जाने वाला रास्ता बंद हो गया। बाद में फायर एवं इमरजेन्सी विभाग के अधिकारी और कर्मचारियों ने मौके पर पहुंचकर पेड़ काटकर रास्ता खोला।

Dinesh Bhardwaj Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned