दिल्ली के राडार पर सूरत

दिल्ली में बढ़े कोरोना के मामलों पर केंद्र सतर्क, गुजरात समेत कई राज्यों को दी नसीहत

By: विनीत शर्मा

Updated: 21 Nov 2020, 06:28 PM IST

सूरत. बीते कुछ दिनों से दिल्ली में एक बार फिर काबू से बाहर हो रहे कोरोना को देखते हुए केंद्र सरकार सतर्क हो गई है। केंद्र ने सूरत समेत गुजरात के अन्य शहरों और हरियाणा, राजस्थान, मणिपुर, मुम्बई समेत अन्य शहरों व राज्यों को सतर्कता बरतने की नसीहत दी है। केंद्र के स्वास्थ्य विभाग ने उच्च स्तरीय टीमें भी गठित की हैं, जो अधिक प्रभावी जगहों पर जाकर हालात का जायजा लेंगी।

दिल्ली में लगातार बेकाबू हो रहा कोरोना देश में संक्रमण प्रभावित अन्य शहरों के लिए खतरे की घंटी बजा रहा है। साफ है कि समय रहते सतर्क नहीं हुए तो संक्रमण देश के अन्य इलाकों में एक बार फिर काबू के बाहर जा सकता है। दूसरी लहर के यह संकेत शीत के दिनों के लिए बेहतर नहीं कहे जा सकते। जानकारों के मुताबिक स्थानीय प्रशासन और राज्य सरकारों को इसके लिए सख्त कदम उठाने होंगे।
सूरत में दीपावली बाद अचानक संक्रमितों का बढ़े आंकड़े के कारण शहर केंद्र सरकार के राडार पर आ गया है। केंद्र ने सूरत के साथ ही अहमदाबाद और राज्य के अन्य शहरों को लेकर भी राज्य सरकार को खास हिदायतें दी हैं। कोरोना के पीक टाइम में गुजरात में सूरत और अहमदाबाद में संक्रमण का असर सबसे ज्यादा देखने को मिला था। दोनों ही कारोबारी शहर हैं और व्यवसाय के लिए देशभर के लोग इन शहरों से सीधे जुड़े हुए हैं। ऐसे में दूसरे शहर से आने वाले लोग कोरोना के करियर बन सकते हैं। सूरत में लिंबायत और कतारगाम जोन कोरोना को लेकर हाइ रिस्क जोन साबित हो चुका है।

दिल्ली की स्थितियों और दीपावली के दौरान संक्रमण में हुई वृद्धि को देखते हुए केंद्र सरकार ने हरियाणा, राजस्थान, गुजरात और मणिपुर के लिए उच्च स्तरीय केंद्रीय टीमें गठित की हैं। यह टीमें सर्वाधिक प्रभावित शहरों में संक्रमण की स्थिति का आंकलन कर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय को रिपोर्ट करेंगी। राज्य सरकार ने भी स्थानीय प्रशासन को केंद्र की मंशा से अवगत कराते हुए संक्रमण को लेकर अतिरिक्त सावधानी बरतने की सलाह दी है। हालांकि स्थानीय प्रशासन फिलहाल इन हिदायतों को लेकर ज्यादा बात करने को तैयार नहीं है, लेकिन बदली परिस्थितियों में संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए नई स्ट्रेटेजी की जरूरत बता रहा है।

Narendra Modi Prime Minister Narendra Modi
विनीत शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned