देशभर में सूरत का फिर परचम

म्यूनिसिपल परफॉर्मेंस इंडेक्स में सूरत देश में दूसरे नंबर पर और ईज ऑफ लिविंग इंडेक्स में पांचवे पर

By: विनीत शर्मा

Updated: 04 Mar 2021, 09:14 PM IST

सूरत. देश के बेहतर सहूलियतों के साथ रहने लायक शहरों के मामले में सूरत ने एकबार फिर अपना परचम लहराया है। देश में पहली बार हुए म्यूनिसिपल परफॉर्मेंस इंडेक्स में सूरत देशभर में दूसरे और गुजरात में पहले नंबर पर रहा है। ईज ऑफ लिविंग इंडेक्स में सूरत ने इस बार लंबी छलांग लगाते हुए देशभर में पांचवी और गुजरात में दूसरी जगह पर कब्जा किया है। बीते वर्ष इस इंडेक्स में सूरत 19वें नंबर पर था।

केंद्र के आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय (एमओएचयूए) ने शहरी नागरिकों को उपलब्ध कराए गए रहने और बुनियादी ढांचे के मानकों के आधार पर भारत के 111 शहरों और शहरों की गुणवत्ता की गुणवत्ता की जांच करने के लिए ईज ऑफ लिविंग इंडेक्स और म्यूनिसिपल परफॉर्मेंस इंडेक्स के माध्यम से रैंकिंग शुरू की है। केंद्रीय आवास और शहरी मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने गुरुवार को ईज ऑफ लिविंग इंडेक्स-2020 और म्यूनिसिपल परफॉर्मेंस इंडेक्स के परिणामों का ऐलान किया। वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से पुरी ने म्यूनिसिपल परफॉर्मेंस इंडेक्स की जो सूची जारी की उसमें सूरत को देश के शीर्ष शहरों में दूसरा क्रम मिला है। गुजरात में सूरत इस मामले में शीर्ष पर है। वहीं ईज ऑफ लिविंग इंडेक्स में सूरत ने इस बार लंबी छलांग लगाई है। ईज ऑफ लिविंग इंडेक्स में सूरत देशभर में पांचवे और गुजरात में दूसरे नंबर पर है। गौरतलब है कि इससे पहले सूरत इस सूची में 19वें नंबर पर था।

इन मानकों पर कसे गए शहर

देश के 111 शहरों में लोगों को दी जा रही सुविधाओं के मानकों पर ईज् ऑफ लिविंग इंडेक्स और नगर निगम प्रदर्शन इंडेक्स तैयार किया जाता है। इसमें मुख्य रूप से पानी, जल निकासी, सडक़, स्ट्रीट लाइट, स्वास्थ्य, शिक्षा और ई-गवर्नेंस के आंकड़ों को नगर निगम प्रदर्शन इंडेक्स का आधार बनाया गया है। ईज ऑफ लिविंग इंडेक्स में पूरे शहर से संबंधित सुविधाओं जैसे शिक्षा, स्वास्थ्य, परिवहन, 24 गुणा 7 पानी सप्लाई, ड्रेनेज सिस्टम, मनोरंजन, आर्थिक प्रगति, पर्यावरण, बिजली सुविधाएं, परिवहन, सुरक्षा, आपदा प्रबंधन समेत अन्य जानकारियां जुटाई जाती हैं।

लोगों के फीडबैक और कोविड पर नियंत्रण ने दिलाई पहचान

सूरत का म्यूनिसिपल परफॉर्मेंस इंडेक्स में सूरत देश में दूसरे नंबर पर और ईज ऑफ लिविंग इंडेक्स में पांचवे नंबर पर आना सूरतीयों के लिए बड़ी उपलब्धि है। ईज ऑफ लिविंग इंडेक्स के लिए तय मानकों के साथ ही देशभर से 30 लाख लोगों के फीडबैक लिए गए थे। स्वास्थ्य के मानक में कोविड पर नियत्रण के लिए उठाए गए कदम देशभर में सराहे गए थे। म्यूनिसिपल परफॉर्मेंस इंडेक्स में वित्त प्रबंधन, लोगों की शिकायतों पर त्वरित कार्रवाई, डिजिटल सेवाओं के डेटा समेत अन्य मानकों पर काम किया गया था।
बंछानिधि पाणि, मनपा आयुक्त, सूरत

विनीत शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned