ATTACK : हैंड ग्रेनेड से हमला करने वाले दो को एसओजी ने पकड़ा

 

- ओडिसा के गंजाम जिले के खोजापल्ली गांवमें दिया था घटना को अंजाम

- Khojapalli village in Ganjam district of Odisha

By: Dinesh M Trivedi

Updated: 22 Nov 2020, 10:13 AM IST

सूरत. ओडिसा में एक परिवार के साथ खूनी रंजिश के चलते उन पर हैंड ग्रेनेड से हमला करने मामले में फरार चल रहे दो अभियुक्तों को एसओजी पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस के मुताबिक लसकाणा डायमंड नगर निवासी कृष्णचंद्र पोलाई (36) व पवित्र बिसोई (20) दोनों ओडिसा के गंजाम जिले के खोजापल्ली गांव के मूल निवासी है।

खोजापल्ली में चार साल पूर्व उनके मित्र जीतेन्द्र स्वाईं के पिता की राजेन्द्र बिसोर्ई ने हत्या कर दी थी। इस बात को लेकर राजेन्द्र व उसके भाईयों के साथ उनकी रंजिश चल रही थी। गत 24 अक्टूबर को गांव में फिर इस बात को लेकर उनके साथ विवाद हुआ। वे जितेन्द्र व उसके साथियों के साथ एक जगह एकत्र हो गए।

ATTACK : हैंड ग्रेनेड से हमला करने वाले दो को एसओजी ने पकड़ा

उन्हें देख राजेन्द्र व उसके भाई भाग कर अपने घरों में घुस कर गए। आरोपियों ने उनके घरों पर हेंड ग्रेनेड फेंके और फरार हो गए। दोनों भाग कर सूरत आ गए थे। इस घटना को लेकर ओडिसा के कबि सुर्यपुर थाने में उनके खिलाफ मामला दर्ज हुआ था। तब से ओडिसा पुलिस उनकी खोज में थी। इस बीच एसओजी को उनके बारे में मुखबिर से सूचना मिलने पर उन्हें सरथामा डायमंड नगर बीआरटीएस बस स्टेण्ड से गिरफ्तार कर लिया।

किशोरी का अपहरण

सूरत. मानदरवाजा क्षेत्र से एक किशोरी का अपरहण करने के आरोप में सलाबतपुरा पुलिस ने एक युवक के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू की है। पुलिस के मुताबिक 17 वर्षीय किशोरी दो दिन पूर्व लापता हो गई थी। परिजनों ने उसकी खोज खबर ली तो पता चला कि उनका रिश्तेदार भूपेन्द्र पिछले कुछ समय से उसका पीछा कर रहा था। बहला फुसला कर उसका अपहरण करने की आशंका के चलते उन्होंने भूपेन्द्र के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करवाई।

दो व्यापारियों के साथ 37.02 लाख की धोखाधड़ी


सूरत. सलाबतपुरा पुलिस ने जॉब वर्क करने वाले दो व्यापारियों के साथ 37 लाख रुपए की धोखाधडी़ के आरोप में छह जनों जनों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। पुलिस मुताबिक, अडाजण पाटिया निवासी अकरम नागाणी, आजम, जवाहर, फेजान, शहबाज व बिलाल ने मिलकर वराछा निवासी भावेश पटेल व गौरव रामजी कोशिया के साथ धोखाधड़ी की।

उन्होंने अपनी अलग-अलग फर्मो के नाम पर जुलाई 2019 से अक्टूबर 2020 के दौरान कुल 37 लाख 02 हजार 998 रुपए का कपड़े पर जॉब वर्क करवाया। लेकिन उसका भुगतान नहीं किया। पैमेंट मांगने पर उन्होंने पीडि़त व्यापारियों को जान से मारने की धमकी दी। इस पर पीडि़तों ने सलाबतपुरा थाने में प्राथमिकी दर्ज करवाई।

Dinesh M Trivedi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned