scriptTapi touched both the banks after releasing 2 lakh cusecs of water fro | ऊकाई बांध से 2 लाख क्यूसेक पानी छोडऩे से तापी ने छुए दोनों किनारे | Patrika News

ऊकाई बांध से 2 लाख क्यूसेक पानी छोडऩे से तापी ने छुए दोनों किनारे

- प्रशासन ने कहा उकाई बांध में जितना इनफ्लो उतना ही आउटफ्लो...

- बांध से पानी छोड़े जाने से तापी नदी का जलस्तर बढ़ा, शनिवारी बाजार और रिवर फ्रंट पानी में डूबा

सूरत

Updated: July 21, 2022 09:33:14 pm

उकाई बांध से 1.99 लाख क्यूसेक पानी छोड़े जाने से 48 घंटे में तापी नदी का जलस्तर काफी बढ़ गया है। तापी दोनों किनारों को छूते हुए बह रही है, जिसके चलते नवाडी ओवारा, रिवर फ्रंट वॉकवे, डक्का ओवारा के पास झोपड़ों तथा शनिवारी बाजार में पानी भर गया है। मनपा प्रशासन अलर्ट पर है और पहले ही फ्लड गेट बंद कर डी वाटरिंग के लिए जगह-जगह पम्प लगा दिए हैं।
ऊकाई बांध से 2 लाख क्यूसेक पानी छोडऩे से तापी ने छुए दोनों किनारे
ऊकाई बांध से 2 लाख क्यूसेक पानी छोडऩे से तापी ने छुए दोनों किनारे
तापी नदी में उकाई बांध से बुधवार शाम छह बजे से करीब 2 लाख क्यूसेक पानी छोड़ा जा रहा है। अधिकारियों ने कहा कि उन्हें पानी छोडऩा पड़ा, क्योंकि हाल के हफ्तों में पानी के प्रवाह में वृद्धि के कारण बांध का जलस्तर 1 जुलाई को 315 फीट से बढकऱ 20 जुलाई को 333.37 फीट हो गया है। बांध से भारी मात्रा में पानी छोड़े जाने के कारण सूरत में तापी नदी को दोनों किनारे से पानी बहते हुए देखा जा सकता है। प्रशासन ने बाढ़ जैसी स्थिति से निपटने के लिए तैयारियां शुरू कर दी हैं।
तापी और सूरत के जिला कलेक्टरों ने नागरिकों को स्थिति के बारे में अलर्ट किया है। प्रशासन का कहना है कि लोगों को घबराने की जरूरत नहीं है। लेकिन समुद्र किनारे और नदी के पास न जाने की सलाह दी गई है। मनपा आयुक्त बंछानिधि पाणि और सूरत के जिला कलेक्टर आयुष ओक लगातार स्थिति पर नजर बनाए हुए हंै। जनता के लिए डुमस बीच, सुवाली बीच और वियर-कम-कोजवे को बंद कर दिया है।

गौरतलब है कि मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र में हुई जबरदस्त बारिश के कारण तापी नदी में भारी मात्रा में पानी आ गया। इस कारण महाराष्ट्र के हथनूर से नदी में पानी छोड़ा गया, जिसका असर उकाई बांध पर देखने को मिला। उकाई बांध में पानी का इनफ्लो बढ़ा तो रूल लेवल मेंटेन करने के लिए बांध प्रशासन ने नदी में अतिरिक्त पानी छोडऩा शुरू कर दिया। नदी में छोड़े गए इस पानी का इस्तेमाल बिजली उत्पादन के लिए भी किया जा रहा है।
उकाई से आउटफ्लो 1,99,516 क्यूसेक मीटर

उकाई बांध की कुल भंडारण क्षमता 5,338.30 मिलियन क्यूबिक मीटर है। हाल में उकाई बांध पानी का इनफ्लो 1,85,095 क्यूसेक मीटर और आउटफ्लो 1,99,516 क्यूसेक मीटर है।
तापी किनारे जमा हुए सूरती

ऊकाई से लगातार पानी छोड़े जाने के कारण तापी का जलस्तर भी बढ़ रहा है। दो दिन में ही तापी नदी का जलस्तर करीब तीन मीटर से अधिक बढ़ा है। बुधवार को नदी ने दोनों किनारों को छू लिया। तापी नदी के बढ़े जलस्तर को देखने के लिए बड़ी संख्या में लोग नदी के किनारों और घाटों पर जमा हुए। कई वाहन चालक ब्रिजों पर खड़े होकर तापी का नजारा कर रहे हैं। हालांकि ब्रिज पर लोगों की भीड़ न जुटे इसके लिए प्रशासन ने बंदोबस्त लगाया है। इसके बावजूद लोग नदी पर बने ब्रिज पर उमड़ रहे हैं।
नावडी ओवारा, वॉक-वे और डक्का ओवारा पानी में डूबे

उकाई बांध से पानी छोड़े जाने से तापी नदी का जलस्तर बढ़ गया है। मनपा प्रशासन ने फ्लड गेट बंद कर तापी किनारे की निचली बस्तियों में डी वाटरिंग के लिए एहतियातन पंप लगा दिए हैं। कोजवे पर पानी का लेवल 9.46 मीटर है। पानी भरने वाले इलाकों में मनपा प्रशासन की निगाह बनी हुई है। तापी का जलस्तर बढऩे के कारण चौकबाजार डक्का ओवारा के झोपड़ों में पानी घुस गया है। नानपुरा तापी किनारे बने वॉक-वे पर पानी भरा है। नावडी ओवारा पर वाहनों की पार्किंग बंद करके बैरिकेट्स लगाए गए हैं और रास्ता बंद कर दिया है।
लोगों से सतर्क रहने की अपील

उकाई बांध से पानी छोड़े जाने से तापी नदी के बढ़ते जलस्तर के साथ शहर में शनिवारी बाजार तथा रिवरफ्रंट वॉक-वे पानी में डूबने के बाद प्रशासन सतर्क हो गया है। प्रशासन ने नदी किनारे पर रहने वाले लोगों से सतर्क रहने की अपील की है। जिला कलेक्टर आयुष ओक ने लोगों से अफवाह पर ध्यान नहीं देने के लिए कहा है।
ऊकाई बांध में बारिश के पानी का इनफ्लो और आउटफ्लो

समय /इनफ्लो /आउटफ्लो /लेवल

शाम 6 बजे -199516.0 -199516.0 -333.38

शाम 4 बजे -202936.0 -199616.0 -333.39

दोपहर 2 बजे -228356.0 -199516.0 -333.38
दोपहर 12 बजे -271402.0 -199301.0 -333.33

सुबह 10 बजे -256855.0 -199076.0 -333.24

सुबह 8 बजे -300128.0 -199088.0 -333.15

सुबह 6 बजे -299359.0 -198450.0 -333.01

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

बिहार सीएम की शपथ लेने के साथ अपने ही रिकॉर्ड तोड़ने से चूके Nitish Kumar, 24 अगस्त को साबित करेंगे बहुमतपीएम मोदी का कांग्रेस पर बड़ा हमला, कितना भी 'काला जादू' फैला लें कुछ होने वाला नहींMumbai: सिंगर सुनिधि चौहान के खिलाफ शिवसेना ने पुलिस में दर्ज कराई शिकायत, पाकिस्तान स्पॉन्सर कार्यक्रम का लगाया आरोपदेश के 49वें CJI होंगे यूयू ललित, राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने नियुक्ति पर लगाई मुहरकश्मीरी पंडित राहुल भट्ट की हत्या का बदला हुआ पूरा, सुरक्षाबलों ने तीन आतंकियों को मार गिरायासुनील बंसल बने बंगाल बीजेपी के नए चीफ, कैलाश विजयवर्गीय की हुई छुट्टीसुप्रीम कोर्ट से नूपुर शर्मा को बड़ी राहत, सभी FIR को दिल्ली ट्रांसफर करने के निर्देशBihar Mahagathbandhan Govt: नीतीश कुमार ने 8वीं बार ली बिहार के CM पद की शपथ, तेजस्वी यादव बने डिप्टी सीएम
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.