Teacher's day News: समाज और राष्ट्र के निर्माता हैं अध्यापक


शिक्षक दिवस पर अध्यापकों का स्वागत
विद्यार्थियों ने गुरुजनों को पुष्पाहार, गिफ्ट एवं सम्मान कार्ड देकर आशीर्वाद प्राप्त किया

By: Sunil Mishra

Published: 05 Sep 2019, 11:33 PM IST


सिलवासा. अध्यापक बच्चों के असली पथ प्रदर्शक हैं। समाज में अध्यापक सम्माननीय दृष्टि से देखा जाता हैं। देश निर्माण में अध्यापकों की मुख्य भूमिका है। गुरुवार को शिक्षक दिवस पर स्कूलों में विद्यार्थियों ने गुरुजनों को पुष्पाहार, गिफ्ट एवं सम्मान कार्ड देकर आशीर्वाद प्राप्त किया। स्कूलों में अध्ययन, अध्यापन के साथ सांस्कृतिक कार्यक्रम रखे गए। सरकारी स्कूलों के अलावा लॉयंस इंग्लिश स्कूल, प्रभात स्कॉलर्स, शिवप्रकाश मेमोरियल में आयोजित कार्यक्रम में अध्यापकों की सेवाओं को सराहा।
मसाट पादरीपाड़ा स्कूल में अध्यापक दिवस मौके पर ग्राम प्रतिनिधि उपस्थित रहे। अतिथियों ने विद्यार्थियों के साथ स्वर्गीय राधाकृष्णन् की प्रतिमा पर फूल चढ़ाकर नमन किया और अध्यापकों का खूब मान बढ़ाया। लॉयंस स्कूल में आयोजित समारोह में विद्यार्थियों ने संगीत, नृत्य, रंगमंच एवं एकांकी नाट्यों की प्रस्तुति दी। छात्रों ने बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ, स्वच्छता, जल सुरक्षा, पर्यावरण शुद्धता पर लोकगीत एवं नृत्य पेश किए। इस अवसर पर लॉयंस क्लब ऑफ सिलवासा चैरिटेबल ट्रस्ट के चेयरमैन फतेहसिंह चौहान ने कहा कि अध्यापक समाज व राष्ट्र निर्माता हैं, इसलिए वे आदर के प्रतीक हैं।

Teacher's day News: समाज और राष्ट्र के निर्माता हैं अध्यापक

विद्यार्थियों ने हर्षोल्लास से मनाया टीचर्स डे

एसएसआर कॉलेज के विद्यार्थियों ने टीचर्स डे हर्षोल्लास से मनाया। प्रभात स्कूल में अध्यापकों को शॉल ओढ़ाकर पुरस्कृत किया गया। अध्यापक दिवस पर कई विद्यार्थी महात्मा व अध्यापकों की वेशभूषा में स्कूल पहुंचे।
अध्यापकों का सम्मान करने में आमली दिव्यांग शाला बच्चे भी पीछे नहीं रहे। रेडक्रॉस संचालित 66 केवी विकलांग पुनर्वास केन्द्र पर बच्चे गुलाब का फूल, उपहार, अध्यापक गिफ्ट कार्ड, आदि लेकर स्कूल पहुंचे। यहां बच्चों ने प्रार्थना के बाद अध्यापकों को सम्मान दिया। डॉ. राधाकृष्णन् की प्रतिमा के सामने बच्चों ने दीप जलाया एवं शिक्षारूपी ज्योत हमेशा जलती रहने की कामना की। स्कूल की प्राचार्य ज्योति ने अपने स्टाफ के कार्यों की सराहना की। अध्यापकों के सम्मान में सांस्कृतिक कार्यक्रम रखे गए।

Show More
Sunil Mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned