टेक्निकल टैक्सटाइल और टैक्सटाइल मशीनरी तय करेगी टैक्सटाइल का भविष्य- स्मृति इरानी

केंद्र सरकार ने किया है दस हजार करोड़ का प्रावधान, मजबूत होगा टेक्निकल टैक्सटाइल सेक्टर

By: विनीत शर्मा

Published: 09 Jan 2021, 09:05 PM IST

सूरत. सूरत इंटरनेशनल टैक्सटाइल एक्सपो (सीटेक्स) के उद्घाटन समारोह में भाग लेने आईं केंद्रीय टैक्सटाइल और महिला एवं बाल कल्याण मंत्री स्मृति इरानी ने कहा कि टैक्सटाइल का भविष्य टेक्निकल टैक्सटाइल और टैक्सटाइल मशीनरी है। टेक्निकल टैक्सटाइल और मैनमेड फाइबर के लिए केंद्र सरकार ने बजट में दस हजार करोड़ रुपए का प्रावधान किया है।

इरानी ने चार वर्ष पूर्व चैम्बर प्रतिनिधियों के साथ हुई बातचीत का जिक्र करते हुए कहा कि उस वक्त उन्होंने चैम्बर के लोगों से पूछा था कि टैक्सटाइल का भविष्य क्या है? चर्चा में दो ही बात सामने आई थी टेक्निकल टैक्सटाइल और टैक्सटाइल मशीनरी। उसी वक्त मैने कहा था कि टेक्निकल टैक्सटाइल सन राइज इंडस्ट्री है। चैम्बर के साथ्यिों ने कहा था कि संभव तो है लेकिन समय लगेगा। यह बात आज सच होती दिख रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी इसे समय रहते भांप लिया था। कोरोना से पहले केंद्र सरकार ने अपने बजट में टेक्निकल टैक्सटाइल और मैनमेड फाइबर के क्षेत्र में प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेंटिव स्कीम के तहत दस हजार करोड़ रुपए का प्रावधान कर दिया था।

मार्च के महीने में जब कोरोना ने हमारे दरवाजे पर दस्तक दी और इंटरनेशनल बॉर्डर सील हो रहे थे, हम जानते थे कि हमारे पास न मशीनें हैं और न पीपीइ सूट को वल्र्ड क्लास लेवल पर बनाने की क्षमता है। हमने एसएमइ सेक्टर को प्रेरित किया, चैम्बर से भी बात की। हमने एक भी स्टैंडर्ड को डायलूट किए हमने वल्र्ड क्लास पीपीइ किट और ए-95 मास्क तैयार किए। उन्होंने कोरोनाकाल के दौरान पीपीइ सूट व किट और एन-95 मास्क के क्षेत्र में देश को सिरमौर बनाने के लिए उद्यमियों का आभार जताया। उन्होंने कहा कि टेक्निकल टैक्सटाइल इंडस्ट्री पर बात करने के लिए सूरत से बेहतर दूसरी जगह नहीं हो सकती।

यह होती है सनराइज इंडस्ट्री

सनराइज इंडस्ट्री उस इंडस्ट्री को कहते हैं जो महत्वाकांक्षी होती है, लेकिन जिसमें वक्त लगता है। डेस्टिनेशन पीरियड लंबा होता है। यह उद्योग अपेक्षाकृत नया होता है, लेकिन भविष्य में महत्वपूर्ण होने की उम्मीद रहती है। वर्षों या दशकों में यह उद्योग बढ़ता है और समय के साथ परिपक्व होकर प्रतिफल देता है। इसमें संयम और लगातार समय के साथ तकनीकी बदलाव की जरूरत होती है।

Smriti Irani smriti irani bjp
विनीत शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned