Election/ मनपा के 1969 में हुए पहले चुनाव में सिर्फ 1.63लाख मतदाता थे, अब 32.88 लाख

बावन वर्ष में 16 वार्ड और 31 लाख से अधिक मतदाता बढ़े

By: Sandip Kumar N Pateel

Updated: 20 Feb 2021, 03:20 PM IST

सूरत। मनपा चुनाव के लिए मतदान को गिनती के घंटे बाकी हैं, तब मनपा चुनाव के इतिहास पर गौर करे तो 1969 में पहली बार हुए सूरत मनपा के चुनाव के वक्त 1.63 लाख मतदाता थे, जब की अब 32.88 लाख मतदाता है।

गुजरात और महाराष्ट्र का विभाजन होने के बाद सूरत में वर्ष 1969 में पहली सूरत मनपा का चुनाव आयोजित हुआ था। उस वक्त 14 वार्ड और 51 सीटें थीं तथा 1.63 लाख मतदाता थे। 52 वर्षों में यह 10 वी बार मनपा चुनाव हो रहा है और पांच दशक में शहर की भौगोलिक स्थिति बदलने के साथ मतादाओं में 31 लाख से अधिक का इजाफा हुआ है तो 16 वार्ड बढ़े हैं। इस बार मतदाताओं की कुल संख्या 32.88 लाख है, जो 120 प्रत्याशियों को चुनेंगे।

सीमा विस्तार के साथ बढ़ते गए मतदाता

सूरत सुधराई में से सूरत महानगर पालिका बनने के बाद शहर की सीमा सीमित थी, लेकिन जैसे जैसे शहर का औद्योगिक विकास होने लगा और बड़ी संख्या में प्रवासी आने लगे वैसे वैसे शहर का विस्तार होने लगा। दो दशक में शहर का पांच बार सीमा विस्तार होने के साथ शहर की जनसंख्या बढ़ गई और मतदाता भी बढ़ गए। अ अंतिम बार वर्ष 2020 में सीमा विस्तार हुआ है।

दस सालों में हुए चुनाव, सीटें और मतदाता की संख्या

वर्ष वार्ड सीटें मतदाता
1969 14 51 1,63,276
1975 19 65 2,54,700
1981 19 65 3,71,876
1987 36 97 6,63,680
1995 33 99 12,71,637
2000 33 99 1 3,49,612
2005 34 102 16,49,612
2010 38 114 24,20,000
2015 29 116 26,54,830
2021 30 120 32,88,509

Sandip Kumar N Pateel Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned