CORONA NEWS : कोरोना के डर से खाली हो गए इस शहर के होस्टल

- सूना हो गया वीएनएसजीयू का परिसर..

- सभी विद्यार्थी चले गए अपने घर

By: Divyesh Kumar Sondarva

Published: 15 Apr 2021, 11:20 PM IST

सूरत.

कोरोना के डर से वीर नर्मद दक्षिण गुजरात विश्वविद्यालय के सभी होस्टल खाली हो गए हैं। सभी विद्यार्थी होस्टल छोड़ अपने घर चले गए हैं। विद्यार्थियों से गूंजने वाला विश्वविद्यालय परिसर आज सूना पड़ा है। कोरोना के कारण सभी की पढ़ाई, परीक्षा और शोध पर गहरा असर पड़ रहा है। लेकिन पढ़ाई की चिंता छोड़ विद्यार्थी अपनी सेहत की सलामती के लिए घर को रवाना होने को मजबूर हो गए हैं।
कोरोना ने सूरत में हाहाकार मचा रखा है। विश्वविद्यालय परिसर में कई अधिकारी और कर्मचारी कोरोना संक्रमण के शिकार हुए है। कई कर्मचारियों की कोरोना के चलते मृत्यु भी हो गई है। ऐसे में विश्वविद्यालय प्रशासन ने बिना कारण परिसर में आने वालों पर रोक लगा दी है। विद्यार्थियों की परीक्षाओं को स्थगित कर दिया है। प्रथम सत्र की परीक्षा आयोजित किए बिना ही नए सत्र की पढ़ाई ऑनलाइन शुरू कर देने का आदेश जारी किया है। परीक्षा और परिणाम को लेकर जो भी प्रश्न हो उसके लिए अलग- अलग विभाग के पदाधिकारियों को विद्यार्थियों की समस्या सुलझाने का जिम्मा सौंपा गया है। सभी तरह की समस्या के लिए मेल और फोन से संपर्क करने का आदेश दिया गया है। साथ ही बुधवार तक विश्वविद्यालय में कोरोना के कारण अवकाश दिया गया था। ५० प्रतिशत अधिकारी और प्राध्यापकों को वर्क फ्रॉम होम का आदेश दिया है। सभी कक्षाएं फिलहाल बंद है और पुन: ऑनलाइन पर जोर दिया जा रहा है। विश्वविद्यालय परिसर में स्थित होस्टल और समरस होस्टल को मिलाकर ४ से ५ हजार विद्यार्थी परिसर में निवास करते हैं। यह सभी दक्षिण गुजरात के विभिन्न क्षेत्रों से आकर यहां पढ़ाई कर रहे हैं। विश्वविद्यालय और महाविद्यालय बंद होने के कारण और कोरोना संक्रमण से बचने के लिए सभी ने होस्टल खाली कर दिया है। सुबह से शाम तक विद्यार्थियों की जहां चहल पहल रहती थी वो विश्वविद्यालय आज कोरोना के कारण सुना पड़ गया है। परीक्षाएं और पढ़ाई कब ऑफलाइन शुरू की जाएगी, इसका किसी के पास जवाब नहीं है। इसलिए सभी घर को रवाना हो गए हैं।

Divyesh Kumar Sondarva Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned