corruption on peak : महिला पटवारी ने रिश्वत लेने के लिए कार्यालय में लगा रखी थी दलाल की टेबल !


- एसीबी ने महिला पटवारी के कार्यालय की करवाई की फोरेन्सिक प्रोफाइलिंग
- Forensic profiling conducted the office of women patwari by ACB in surat

By: Dinesh M Trivedi

Published: 21 Nov 2020, 10:04 AM IST

सूरत. भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने एक हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए पकड़ी गई महिला पटवारी व उसके सहयोगी की शुक्रवार को गांधीनगर से आई फोरेन्सिक टीम से फोरेन्सिक प्रोफाइलिंग करवाई, ताकि उनके खिलाफ मजबूत साक्ष्य बनाए जा सके।

ब्यूरो सूत्रों का के मुताबिक, अडाजण गांव व पालनपोर गांव की महिला पटवारी हिरल धोलिकया ने रिश्वत लेने के लिए कांति पटेल नाम के व्यक्ति को काम पर रखा था। उसने अवैध रूप से अपने कार्यालय में ही कांति के लिए अलग टेबल लगा रखी थी।

वह उसे मासिक तीन हजार रुपए वेतन भी देती थी। जो कोई भी काम के लिए आता था। कांति उससे काम की रिश्वत वसूलता था। ब्यूरोकर्मियों को कांति की टेबल की जांच में कुर्सी की गादी के नीचे व टेबल में छिपाकर रखे 40 हजार 420 रुपए व हिरल के ड्रावर से 5 हजार 500 रुपए तथा पर्स आदि की तलाशी में 50 हजार रुपए बरामद हुए थे।

दोनों के कब्जे से कुल 95 हजार 920 रुपए मिले थे। जिनका कोई संतोषनजक जवाब भी उनके पास नहीं था। ये रुपए भी रिश्वत से हासिल किए होने की आशंका के चलते ब्यूरोकर्मियों ने शुक्रवार को गांधीनगर फोरेन्सिक टीम को बुला कर क्राइम सीन की फोरेन्सिक प्रोफाइलिंग करवाई। जिससे कि सुनवाई के दौरान उनके खिलाफ पर्याप्त साक्ष्य पेश किए जा सके।

ये था मामला :
उल्लेखनीय है कि भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने 13 नवम्बर को अडाजण दालियावाला स्कूल स्थित पटवार कार्यालय में महिला पटवारी हिरल धोलकिया व उसके सहयोगी जूनागाम मास्टर फलिया निवासी कांति पटेल को एक व्यक्ति का पेढ़ीनामा बनाने के एवज में एक हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया था।

Dinesh M Trivedi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned