बदमाशों ने तोड़ी 700 साल पुरानी दरगाह, क्षेत्र में फैल गया तनाव

बदमाशों ने तोड़ी 700 साल पुरानी दरगाह, क्षेत्र में फैल गया तनाव
बदमाशों ने तोड़ी 700 साल पुरानी दरगाह, क्षेत्र में फैल गया तनाव

Sanjeev Kumar Singh | Updated: 13 Sep 2019, 10:58:08 PM (IST) Surat, Surat, Gujarat, India

जमीन पर कब्जा करने का उद्देश्य : पुलिस ने चार लोगों को लिया हिरासत में

दरगाह संचालक अपने समर्थकों के साथ धरना पर बैठे

बारडोली.

कामरेज तहसील के वेलंजा गांव के पास हजीरा स्टेट हाइवे पर हजरत सैय्यद नवगज शहीद पीर दादा की 700 साल पुरानी दरगाह की जमीन पर कब्जा करने के उद्देश्य से दरगाह को अज्ञात बदमाशों ने तोड़ दिया। घटना की जानकारी मिलते ही प्रशासन में हडक़ंप मच गया। मौके पर पहुंची पुलिस टीम ने चार लोगों को हिरासत में लिया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार कामरेज तहसील के गोथाण-वेलंजा के निकट हजीरा स्टेट हाइवे पर हजरत सैय्यद नवगज पीर दादा की ७०० साल पुरानी दरगाह है। दरगाह की जमीन पर कब्जा करने के उद्देश्य से बदमाशों ने शुक्रवार सुबह दरगाह को तोड़ दिया। घटना के बाद दरगाह संचालक मनसूख शंभू झालवाडिय़ा अपने समर्थकों के साथ मौके पर पहुंच धरने पर बैठ गए। सूचना मिलते ही पुलिस प्रशासन में हडक़ंप मच गया।

घटना स्थल पर पहुंची पुलिस टीम ने दरगाह तोडऩे वाले चार लोगों को हिरासत में लिया। मनसूख झालवाडिय़ा ने बताया कि 700 साल पुरानी दरगाह जो कोमी एकता का केंद्र है। प्रत्येक गुरुवार और रविवार को यहां सामूहिक भोजन का भी आयोजन किया जाता है और गरीबों को टिफिन सेवा भी दी जाती है। पुलिस ने चार लोगों को हिरासत में लेकर आगे की कार्रवाई शुरू की।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned