हीरा चाहने वालों की संख्या घट गई??

हीरा चाहने वालों की संख्या घट गई??

Pradeep Devmani Mishra | Updated: 12 Jun 2019, 08:48:00 PM (IST) Surat, Surat, Gujarat, India

पॉलिश्ड हीरों की कीमत में दस प्रतिशत की कमी

सूरत

कट और पॉलिश्ड हीरों की डिमांड घटने से हीरा चाहने वालों की संख्या घट गई है। ऐसा लग रहा है। स्थानीय हीरा उद्योग में मंदी के कारण पॉलिश्ड हीरों की कीमत में कमी आई है। बीते सप्ताह में पॉलिश्ड हीरों की कीमत में पांच से दस प्रतिशत की कमी आई। पॉलिश्ड हीरों की कीमत घटने से हीरा उद्यमियों को नुकसानी का सामना करना पड़ रहा है।
हीरा उद्योग में मंदी हटने का नाम नहीं ले रही है। इसका ज्यादा असर छोटे और मध्यम हीरा उद्यमियों को हो रहा है। घरेलू और विदेशी बाजार में मंदी के कारण कट और पॉलिश्ड हीरों की मांग कम होने के कारण पिछले तीन महीने में दाम दस प्रतिशत घट गए हैं। इसका सबसे बड़ा नुकसान छोटे और मध्यम हीरा उद्यमियों को हुआ है। क्योंकि उनके पास कट और पॉलिश्ड हीरों को स्टोक कर सके उतनी पूंजी नहीं है। उन्हें श्रमिकों के वेतन और अन्य खर्चो के लिए हीरा कम कीमत पर बेचना पड़ रहा है। कुछ हीरा उद्यमी कम कीमत पर बेचने की अपेक्षा स्टोक करना पसंद कर रहे हैं।
हीरा उद्यमी अशोक गारियाधार ने बताया कि कट और पॉलिश्ड हीरों की मांग सतत घटने के कारण पिछले तीन महीनों में कट और पॉलिश्ड हीरे की कीमत 10 प्रतिशत तक घट गई है। इसका नुकसान हीरा उद्यमियों को हो रहा है। अभी भी तेजी की कोई उम्मीद नहीं दिखने के कारण हीरा उद्यमी परेशान हैं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned